जयपुर Mangal ka Rashi Parivartan 2022: ग्रहों के सेनापति मंगल साल 2022 में करेंगे 8 बार गोचर, सुख-समृद्धि में होगी वृद्धि

Mangal ka Rashi Parivartan 2022: ग्रहों के सेनापति मंगल साल 2022 में करेंगे 8 बार गोचर, सुख-समृद्धि में होगी वृद्धि

Mangal ka Rashi Parivartan 2022: ग्रहों के सेनापति मंगल साल 2022 में करेंगे 8 बार गोचर, सुख-समृद्धि में होगी वृद्धि

जयपुर: मंगल देव को सभी ग्रहों का सेनापति कहा जाता है. मंगल को ऊर्जा, भाई, भूमि, शक्ति, साहस, पराक्रम, शौर्य का कारक ग्रह कहा जाता है. मंगल ग्रह को मेष और वृश्चिक राशि का स्वामित्व प्राप्त है. यह मकर राशि में उच्च होता है, जबकि कर्क इसकी नीच राशि है. मंगल के शुभ होने पर व्यक्ति का भाग्योदय हो जाता है. नए साल 2022 में कुछ राशियों पर ग्रहों के सेनापति मंगल ग्रह की विशेष कृपा रहेगी.  ज्योतिषाचार्य डा. अनीष व्यास ने बताया कि नवग्रहों में देवों के सेनापति मंगल साल 2022 में 8 बार गोचर करेंगे. ऐसे में इनके प्रभाव भी सभी राशियों पर देखने को मिलेंगे. ऐसे में जहां नए साल में मंगल का पहला गोचर वृश्चिक राशि से धनु राशि में रविवार 16 जनवरी 2022 में होगा, वहीं साल 2022 में मंगल का आखिरी गोचर वक्री स्थिति में मिथुन से वृषभ राशि में सोमवार 14 नवंबर को होगा. 

ज्योतिषाचार्य डा. अनीष व्यास ने बताया कि नवसंवत्सर 2078 के राजा और मंत्री दोनो ही मंगल हैं और ये 2078 शनिवार 1 अप्रैल,2022 तक रहेगा, जिसके बाद रविवार 2 अप्रैल 2022 से नवसंवत्सर 2079 शुरु होगा. साल 2022 में एक ओर खास बात ये भी रहेगी कि इस पूरे साल मंगल अस्त नहीं होंगे. ज्योतिष के जानकारों के अनुसार मंगल एक उग्र ग्रह माना जाता है, ये देवताओं का सेनापति होने के साथ ही पराक्रम, उत्साह व उत्तेजना जैसी अनेक स्थितियों के भी कारक है. इसे रक्तगौर वर्ण का माना गया है. इसमें अग्नि तत्व की प्रधानता मानी जाती है. इसके अलावा इन्हें मुख्य रूप से रक्त का कारक माना जाता है. मान्यता के अनुसार कुंडली में मंगल की प्रधानता जातक को अधिकांशत: नेता, प्रखर वार्ताकार, तर्क से सबको परास्त करने वाला बनाती हैं. वहीं मंगल का प्रभाव जातक को सेना या पुलिस में उच्च पद दिलाता हैं.

2022 में मंगल की चाल:-
- 16 जनवरी में वृश्चिक से धनु राशि में प्रवेश 
- 26 फरवरी में धनु से मकर में राशि में प्रवेश 
- 07 अप्रैल में मकर से कुंभ में राशि में प्रवेश 
- 17 मई में कुंभ से मीन में राशि में प्रवेश 
- 27 जून में मीन से मेष में राशि में प्रवेश 
- 10 अगस्त में मेष से वृषभ में राशि में प्रवेश 
- 15 अक्टूबर में वृषभ से मिथुन में राशि में प्रवेश 
- 14 नवंबर में मिथुन से वृषभ में राशि में प्रवेश 

मंगल का शुभ-अशुभ प्रभाव:-
कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि जनजीवन सामान्य होगा. वैज्ञानिकों को सफलता मिलेगी तथा बीमारियों के इलाज में सफलता प्राप्त होगी. देश मंर कुछ राहत होने वाली है. इससे मौसम भी बदलेगा और बारिश भी अच्छी होगी. इसके अलावा देश में आपदा में भी कमी आएगी. लोगों के लिए समय अच्छा रहेगा. रोजगार के क्षेत्रों में वृद्धि होगी. आय में बढ़ोतरी होगी. देश की अर्थव्यवस्था के लिए शुभ रहेगा. खाने की चीजों की कीमतें सामान्य रहेंगी. सब्जियां, तिलहन और दलहन की कीमतें कम होंगी. व्यापार में तेजी रहेगी. सोने चांदी के भाव में वृद्धि होगी. राजनीति में उतार-चढ़ाव देखने को मिलेगा. प्राकृतिक आपदा के साथ अग्नि कांड भूकंप गैस दुर्घटना वायुयान दुर्घटना होने की संभावना. पूरे विश्व में राजनीतिक अस्थिरता यानि राजनीतिक माहौल उच्च होगा. पूरे विश्व में सीमा पर तनाव शुरू हो जायेगा. मंगल की वजह से दुर्घटना होने की आशंका है. देश के कुछ हिस्सों में हवा के साथ बारिश रहेगी. भूकंप या अन्य तरह से प्राकृतिक आपदा आने की भी आशंका है.

करें पूजा-पाठ और दान:
कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास ने बताया कि मंगल के अशुभ असर से बचने के लिए हनुमानजी की पूजा करनी चाहिए. लाल चंदन या सिंदूर का तिलक लगाना चाहिए. तांबे के बर्तन में गेहूं रखकर दान करने चाहिए. लाल कपड़ों का दान करें. मसूर की दाल का दान करें. शहद खाकर घर से निकलें. हनुमान चालीसा का पाठ अवश्य करें. मंगलवार को बंदरों को गुड़ और चने खिलाएं. 

भविष्यवक्ता और कुण्डली विश्ल़ेषक डा. अनीष व्यास से जानते हैं 2022 में मंगल के गोचर का सभी 12 राशियों पर प्रभाव.

मेष राशि:-
स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. इस समय वाहन न चलाएं. अगर जरूरी हो तो विशेष सावधानी बरतें. दांपत्य जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. धन- लाभ हो सकता है. 

वृष राशि:-
पारिवारिक जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. परिवार के सदस्यों का विशेष ध्यान रखें. लेन- देन के लिए समय शुभ है. वैवाहिक जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. 

मिथुन राशि:-
कार्यों में सफलता के योग बन रहे हैं. भाग्य का साथ मिलेगा. नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ रहेगा.bआपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी. परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करने का अवसर मिलेगा.

कर्क राशि:-
वाद-विवाद से दूर रहें. क्रोध न करें. गुस्सा करने से आपको नुकसान हो सकता है. नौकरीपेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में मान- सम्मान मिलेगा. शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों को शुभ फल की प्राप्ति होगी.

सिंह राशि:-
आत्मविश्वास में वृद्धि होगी. जीवनसाथी के साथ समय व्यतीत करें, नहीं तो दांपत्य जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. कार्यक्षेत्र में आपके द्वारा किए गए कार्यों की सराहना होगी.

कन्या राशि:-
आर्थिक पक्ष मजबूत होगा. आय के स्रोतों में वृद्धि होगी. मान- सम्मान और पद- प्रतिष्ठा में वृद्धि के योग बन रहे हैं. सेहत का विशेष ध्यान रखें. दांपत्य जीवन में मनमुटाव हो सकता है.जीवनसाथी के साथ समय व्यतीत करें.

तुला राशि:-
कार्यों में सफलता प्राप्त करेंगे, लेकिन आपको मेहनत अधिक करनी होगी. निवेश करने के लिए समय शुभ है. परिवार के सदस्यों के साथ समय व्यतीत करेंगे. धन- खर्च बढ़ सकता है. प्रेम जीवन में कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है.

वृश्चिक राशि:-
नौकरी और व्यापार के लिए समय शुभ है. मान- सम्मान मिलेगा. कार्यक्षेत्र में हर किसी पर भी भरोसा करने से बचें. स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है. दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा. 

धनु राशि:-
आध्यात्मिक और धार्मिक कार्यों में मन लगेगा. शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं है. भाग्य का पूरा साथ मिलेगा. परिवार के सदस्यों का साथ मिलेगा.

मकर राशि:-
इस समय लेन-देन न करें. निवेश के लिए समय शुभ नहीं है. स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होगा. पारिवारिक जीवन में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. वाद- विवाद से दूर रहें.

कुंभ राशि:-
व्यापार के लिए ये समय किसी वरदान से कम नहीं है. धन-लाभ होगा. परिवार के सदस्यों का भी पूरा सहयोग प्राप्त करेंगे. दांपत्य जीवन में परेशानियां आ सकती हैं.

मीन राशि:-
कार्यों में सफलता प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी. इस समय धैर्य से काम लें. आर्थिक पक्ष सामान्य रहेगा, लेकिन धन- खर्च सोच- समझकर ही करें. पारिवारिक जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. 

और पढ़ें