close ads


मनसा माता का तीन दिवसीय मेला प्रारंभ

मनसा माता का तीन दिवसीय मेला प्रारंभ

बहरोड़(अलवर)। बहरोड़ क्षेत्र के ग्राम पंचायत दहमी-हमजापुर में स्थित मनसा माता के 655 वर्ष पुराने मंदिर पर आज से तीन दिवसीय मेला प्रारंभ हो गया है। अल सुबह आरती के बाद मेला कार्यक्रम शुरू किया गया। यहां राजस्थान सहित हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, मुंबई सहित विभिन्न राज्यों से माता के भक्त और श्रद्धालु पहुंचते हैं। शारदीय नवरात्रों में लगने वाले तीन दिवसीय मेले में करीब डेढ़ से दो लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है। 

श्रद्धालुओं की पूरी देखरेख और सेवा के लिए मां मनसा देवी ट्रस्ट और नवयुवक मंडल इंतजाम करता है। मेले में वाहन पार्किंग, छाया, बिजली-पानी, टेंट, रेलिंग सहित विभिन्न प्रकार की सुविधाएं की जाती है। वहीं गांव दहमी तथा हमजापुर के लोगों के द्वारा श्रद्धालुओं की पूरी सेवा की जाती है। चिकित्सा विभाग के द्वारा 24 घंटे चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध रहती है। वही आस पास के निजी चिकित्सक भी अपनी सेवाएं देने के लिए तैनात रहते हैं। मेला षष्टमी से शुरू होकर सप्तमी को भर मिला रहेगा और अष्टमी को हवन पूजन के बाद समाप्त हो जाएगा। 

मेले में नवजात शिशु का मुंडन करवाया जाता है। वही नवविवाहित जोड़े जात लगाकर माता के मंदिर में मत्था टेककर मनौती मांगते हैं। इस मंदिर में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पिछले दिनों जनसंवाद के दौरान मत्था टेककर प्रदेश एवं क्षेत्र की खुशहाली के लिए मनोकामना मांग चुकी है। मंदिर के बाहर लगी खिलौने, मिठाई , प्रसाद की दुकानों पर लोग जमकर आनंद ले रहे हैं। वहीं ग्रामीण क्षेत्र से महिलाएं रंग- बिरंगे परिधानों में सज धज कर मांगलिक गीत गाते हुए मनसा माता के दर पर पहुंच रही है। वहीं श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर पुलिस के जवान तैनात किए गए है। जितेंद्र नरुका, बहरोड़ अलवर

और पढ़ें