जून महीने में बारिश को तरसे राजस्थान के अनेक जिले, जानिए कब होगी राहत देने वाली बारिश

जून महीने में बारिश को तरसे राजस्थान के अनेक जिले, जानिए कब होगी राहत देने वाली बारिश

जून महीने में बारिश को तरसे राजस्थान के अनेक जिले, जानिए कब होगी राहत देने वाली बारिश

जयपुर: मानसून की आहट के बीच राजस्थान में जून महीने में औसत बारिश भले ही सामान्य से अधिक रही हो लेकिन राज्य के अनेक जिले इससे वंचित रहे. राज्य के कुल 33 में से 19 जिलों में इस दौरान बारिश सामान्य से कम रही. मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार एक जून से 30 जून के दौरान समूचे राजस्थान में समग्र रूप से 53.1 मिमी. बारिश हुई जो इस दौरान होने वाली 50.1 मिमी. बारिश से छह प्रतिशत अधिक है.

मौसम केंद्र के अनुसार इस दौरान राज्य के विशेषकर पूर्वी राजस्थान के अनेक जिलों में बारिश सामान्य नहीं हुई. पूर्वी राजस्थान में सामान्य 66.7 मिमी की तुलना में वास्तविक बारिश 56.7 मिमी हुई जो 15 प्रतिशत की कमी दिखाती है. मजेदार बात यह है कि पश्चिमी राजस्थान जहां इस दौरान अपेक्षाकृत कम बारिश होती है वहां अबकी बार मौसम अच्छा रहा है. जैसलमेर, गंगानगर, बीकानेर, जोधपुर व चुरू जैसे जिलों वाले पश्चिमी राजस्थान में इस दौरान 50.2 मिमी बारिश हुई जो 36.9 मिमी सामान्य बारिश की तुलना में 36 प्रतिशत अधिक है.

उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार आलोच्य महीने के इस दौरान जिन जिलों में सामान्य से कम बारिश हुई है उनमें जयपुर, झुंझुनू, कोटा, टोंक, बारां, सिरोही, सीकर, सवाई माधोपुर, बूंदी व भरतपुर सहित 19 जिले शामिल हैं. इनमें बूंदी में सामान्य से 60 प्रतिशत, अलवर में सामान्य से 58 प्रतिशत व कोटा जिले में सामान्य से 44 प्रतिशत कम बारिश हुई है.

राज्य के अधिकांश भागों में आगामी चार पांच दिन मौसम मुख्यतः शुष्क रहेगा:
मौसम केंद्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा के अनुसार राज्य के अधिकांश भागों में आगामी चार पांच दिन मौसम मुख्यतः शुष्क रहेगा क्योंकि लगभग दो सप्ताह पहले राजस्थान में दस्तक देने वाला मानसून पिछले 11 दिन से एक ही जगह ठहरा है तथा इसके पांच छह दिन और आगे बढ़ने की संभावना नहीं है.

राज्य में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल नहीं:
उन्होंने कहा कि मानसून की उत्तरी सीमा आज गुरुवार को भी बाड़मेर, भीलवाड़ा व धौलपुर से गुजर रही है, यानी यह पिछले ग्यारह दिनों से स्थिर है. आगामी पांच-छ दिन राज्य में मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल नहीं है. उल्लेखनीय है कि दक्षिण पश्चिम मानसून ने 18 जून को राज्य के दक्षिण पूर्वी हिस्से से राजस्थान में दस्तक दी थी. वहीं मौसम विभाग ने आगामी 48 घंटों के दौरान बीकानेर, भरतपुर और कोटा संभाग के जिलों में कहीं-कहीं लू हीटवेव चलने की संभावना जताई है. सोर्स- भाषा
 

और पढ़ें