दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों के आईपीएल में खेलने को लेकर ये सोचते हैं कोच मार्क बाउचर

दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों के आईपीएल में खेलने को लेकर ये सोचते हैं कोच मार्क बाउचर

दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों के आईपीएल में खेलने को लेकर ये सोचते हैं कोच मार्क बाउचर

कराची: दक्षिण अफ्रीका के कई खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के कारण पाकिस्तान के खिलाफ श्रृंखला में नहीं खेल पाएंगे लेकिन मुख्य कोच मार्क बाउचर का मानना है कि इससे उन्हें भारत में साल के आखिर में होने वाले टी20 विश्व कप की तैयारियों में मदद मिलेगी और साथ ही अपने दूसरी श्रेणी के खिलाड़ियों को आजमाने का मौका मिलेगा.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी आईपीएल में लेंगे भागः
दक्षिण अफ्रीका के चोटी के पांच खिलाड़ी क्विंटन डिकॉक, कैगिसो रबाडा, लुंगी एनगिडी, डेविड मिलर और एनरिच नोर्जे पाकिस्तान के खिलाफ केवल दो वनडे के लिए उपलब्ध रहेंगे. इसके बाद वे नौ अप्रैल से शुरू होने वाले आईपीएल के लिए भारत पहुंच जाएंगे.

बीसीसीआई और सीएसए के बीच हुआ है समझौताः
बाउचर ने वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि इन खिलाड़ियों के श्रृंखला के मैचों में नहीं खेलने के फायदे और नुकसान हैं लेकिन हम पहले से इसे जानते थे क्योंकि बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) और सीएसए (क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका) के बीच आईपीएल के लिए खिलाड़ियों को छोड़ने का समझौता हो रखा है तथा कोविड-19 के कारण कार्यक्रम अनुकूल तैयार नहीं किया जा सका. 

बाउचर का मानना- आईपीएल से होगा टी20 विश्व कप के लिए फायदाः
दक्षिण अफ्रीका के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि खिलाड़ियों के आईपीएल में खेलने का एक बड़ा लाभ यह है कि भारत में इस साल के आखिर में टी20 विश्व कप खेला जाना है. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि आईपीएल में भागीदारी का हमें विश्व कप में लाभ मिलेगा. इससे उन्हें अलग-अलग स्थलों में खेलने और विरोधी टीमों को समझने का अवसर मिलेगा. वे वहां छुट्टियां मनाने नहीं जा रहे हैं और इससे हमें अन्य खिलाड़ियों को आजमाने का मौका भी मिलेगा.
सोर्स भाषा

और पढ़ें