मुंबई बाजार में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 427 अंक चढ़ा, निफ्टी 16,000 अंक के पार

बाजार में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 427 अंक चढ़ा, निफ्टी 16,000 अंक के पार

बाजार में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 427 अंक चढ़ा, निफ्टी 16,000 अंक के पार

मुंबई: वैश्विक बाजारों में तेजी के बीच घरेलू शेयर बाजार बृहस्पतिवार को लगातार दूसरे दिन लाभ में रहा और बीएसई सेंसेक्स 427 अंक से अधिक की तेजी के साथ बंद हुआ. तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 427.49 अंक यानी 0.80 प्रतिशत की बढ़त के साथ 54,178.46 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 503.80 अंक तक चढ़ा था.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 143.10 अंक यानी 0.89 प्रतिशत चढ़कर 16,132.90 अंक पर बंद हुआ. सेंसेक्स के शेयरों में टाइटन, टाटा स्टील, लार्सन एंड टुब्रो, इंडसइंड बैंक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक प्रमुख रूप से लाभ में रहे. दूसरी तरफ, नुकसान में रहने वाले शेयरों में डॉ. रेड्डीज लैब, नेस्ले, रिलायंस इंडस्ट्रीज, भारती एयरटेल, हिंदुस्तान यूनिलीवर और बजाज फाइनेंस शामिल हैं.

एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे. यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख था. अमेरिकी शेयर बाजार बुधवार को लाभ में रहे थे. जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि वैश्विक बाजारों में तेजी का असर घरेलू बाजार में भी दिखा. निवेशक अब फेडरल ओपन मार्केट कमेटी (एफओएमसी) के हाल में जारी बैठक के ब्योरे के असर से बाहर आ गए हैं. दूसरी तरफ कच्चे तेल और जिंसों के दाम में कमी से निवेशकों की धारणा मजबूत हुई है. मुद्रास्फीति घटने की उम्मीद के बीच बाजार में यह तेजी निकट भविष्य में बनी रहने की उम्मीद है.

उन्होंने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के विदेशी विनिमय प्रवाह बढ़ाने के उपायों से डॉलर के मुकाबले रुपये के मूल्य में गिरावट को थामने में मदद मिलेगी.रिजर्व बैंक ने बुधवार को विदेशी मुद्रा प्रवाह से संबंधित मानकों को उदार बनाने के साथ ईसीबी (विदेशों से वाणिज्यिक उधारी) मार्ग के तहत बाह्य उधारी सीमा दोगुनी कर दी. साथ ही सरकारी बॉन्ड में विदेशी निवेश के नियमों को उदार बनाया. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.05 प्रतिशत चढ़कर 100.7 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 330.13 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे. (भाषा) 

और पढ़ें