VIDEO: चिकित्सा विभाग ने फिर से बदला वैक्सीनेशन का दायरा, 12 जिलों में होगा 18 से 44 आयु वर्ग का वैक्सीनेशन

VIDEO: चिकित्सा विभाग ने फिर से बदला वैक्सीनेशन का दायरा, 12 जिलों में होगा 18 से 44 आयु वर्ग का वैक्सीनेशन

जयपुर: राजस्थान सरकार ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर प्रदेश में 18 से अधिक उम्र वालों के वैक्सीनेशन का दायरा बदला है. चिकित्सा विभाग ने वैक्सीनेशन का दायरा बढ़ाते हुए कहा है कि अब प्रदेश के सबसे अधिक कोरोना संक्रमित जिलों में 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों का अलग से निःशुल्क वैक्सीनेशन किया जाएगा. चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि  कोविड संक्रमण से सबसे अधिक प्रभावित प्रदेश के 12 जिलों  18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लाभार्थियों का निःशुल्क कोविड वैक्सीनेशन प्रारंभ कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि इन जिलों में जयपुर, अजमेर, जोधपुर, उदयपुर, भरतपुर, अलवर, कोटा, पाली, धौलपुर, सीकर, भीलवाडा, बीकानेर शामिल है. रघु शर्मा ने बताया कि 1 मई से प्रारंभ हुए इस वैक्सीनेशन प्रोग्राम में कोरोना वैक्सीन की अधिक डोज मिलने के साथ अन्य जिलों को भी जोड़ा जाएगा.

अलग से होगी वैक्सीनेशन साइटः
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 45 वर्ष से अधिक लाभार्थियों के लिए जो वैक्सीनेशन साइट है वहां 18 से 44 आयुवर्ग के लाभार्थियों का वैक्सीनेशन नहीं होगा. इन लाभार्थियों के लिए अलग से वैक्सीनेशन साइट बनाई गई है. उन्होंने कहा की फिलहाल नई वैक्सीनेशन साइट केवल चयनित जिलों के जिला मुख्यालय पर ही संचालित है. उन्होंने बताया की जिन लाभार्थियों ने कोविन एप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कराया है उन्हें ही इन साइट पर वैक्सीनेशन के लिए पहुंचना है. बिना रजिस्ट्रेशन के किसी का वैक्सीनेशन नहीं होगा.

2397 लाभार्थियों का टीकाकरणः
डॉ. क्टर शर्मा ने कहा की 1 मई को 18 से 44 आयुवर्ग के कुल 2397 लाभार्थियों का वैक्सीनेशन किया गया. उन्होंने बताया की इस दिन के लिए कुल 6000 लाभार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था लेकिन केवल 2397 ही वैक्सीनेशन साइट पर पहुंचे. उन्होंने अपील करते हुए कहा की जो लाभार्थी रजिस्ट्रेशन करा रहे है वे निर्धारित दिन वैक्सीनेशन अवश्य कराएं.

निःशुल्क है वैक्सीनेशनः
चिकित्सा मंत्री ने कहा की ऎसे हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर या 45 वर्ष से अधिक आयु के लाभार्थी जिन्होंने अपनी प्रथम डोज 30 अप्रैल या इससे पहले किसी भी निजी क्षेत्र के कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र पर लगवाई है वे अपनी दूसरी डोज निःशुल्क किसी भी सरकारी वैक्सीनेशन साइट पर लगवा सकते है. उन्होंने कहा की ऎसे व्यक्ति अपनी दूसरी डोज किसी भी निजी क्षेत्र के कोविड वैक्सीनेशन केन्द्र पर जाकर भी लगवा सकते हैं.

बिना जनता के सहयोग से कोरोना से लड़ पाना असंभवः
इससे पहले चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा ने प्रदेश में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को लेकर चिंता जताते हुए कहा कि कोरोना प्रभावित देश के 5 राज्यों में राजस्थान का नाम शामिल होना चिंता की बात हैं. शर्मा ने कहा कि सीएम अशोक गहलोत कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को लेकर चिंतित हैं और लगातार केंद्र से सहयोग की डिमांड कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार प्रदेश की जनता की जान बचाने के लिए दिन रात जुटी है. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना से लड़ पाना बिना जनता के सहयोग से संभव नहीं हो पाएगा. उन्होंने लोगों से कहा कि शादी-ब्याह तो होते रहेंगे.. यह समय जान बचाने का है. रघु शर्मा ने लोगों से कोविड-19 नियमों की पालना की अपील की है.

और पढ़ें