प्रभारी माकन से मिलने के बाद चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा का बड़ा बयान, कहा-विधायकों द्वारा मंत्रियों की शिकायत करने की खबरें निराधार

प्रभारी माकन से मिलने के बाद चिकित्सा मंत्री डॉ.रघु शर्मा का बड़ा बयान, कहा-विधायकों द्वारा मंत्रियों की शिकायत करने की खबरें निराधार

जयपुर: प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन गुरुवार को लगातार दूसरे दिन भी विधायकों से वन-टू-वन संवाद (One-to-one dialogue) कर रहे हैं. इसी बीच चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा का माकन से मिलने के बाद बड़ा बयान आया है. उन्होंने कहा कि विधायकों द्वारा मंत्रियों की शिकायत करने की खबरें निराधार हैं. किसी भी मंत्री की कोई शिकायत नहीं की गई है. सभी मंत्री बेहतर तरीके से काम कर रहे हैं. 

वहीं फर्स्ट इंडिया से खास बातचीत करते हुए रघु शर्मा ने कहा कि जो दिखता है वह होता नहीं जो होता है वह दिखता नहीं है. मेरे खिलाफ जानबूझकर खबरें चलवाई गई. इस दौरान जन्मदिन पर भीड़ एकत्रित करने के भाजपा के आरोप पर बोलते हुए रघु शर्मा ने कहा कि बीजेपी के नेताओं के पास निराधार आरोप लगाने के लिए अलावा कुछ नहीं है. इसके साथ ही मंत्रियों को हटाने के संबंध में मीडिया में आई खबरों का भी उन्होंने खंडन किया. 

जो दिखता है वो होता नहीं, जो होता है वो दिखता नहीं:
प्रभारी अजय माकन से संवाद के बाद चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि जो दिखता है वो होता नहीं, जो होता है वो दिखता नहीं है. अखबार में सुर्खियां देखकर जो राजी होना चाहते हैं उनको मुबारक. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अखबारों में नियोजित तरीके से खबरें छपवाई जा रही हैं. मंत्रियों की शिकायत की बातें बिल्कुल निराधार है. मेरे खिलाफ कोई प्रोपेगेंडा नहीं, होगा तो टिकेगा भी नहीं. मैं कोई शक्ति प्रदर्शन नहीं कर रहा हूं. 

महेश जोशी ने कहा- माकन के मंथन से अमृत निकलेगा
वहीं मुख्य सचेतक महेश जोशी ने फर्स्ट इंडिया ने खास बातचीत करते हुए कहा कि माकन के संवाद कार्यक्रम को मंत्रिमंडल फेरबदल से जोड़कर न देखा जाए. विधायकों से संवाद एक सतत प्रक्रिया है. वहीं मंत्रिमंडल फेरबदल भी एक सतत प्रक्रिया है. हर पीएम और सीएम समय-समय पर मंत्रिमंडल फेरबदल विस्तार करते हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि माकन के मंथन से अमृत निकलेगा. जैसे भगवान में सभी की आस्था होती है वैसे ही नेताओं व कार्यकर्ताओं की आस्था आलाकमान में होती है. इसे केवल मंत्रिमंडल फेरबदल और विस्तार से जोड़ कर नहीं देखा जाए. यह संगठन की मजबूती के लिए किया जा रहा मंथन हैं. 

और पढ़ें