मौसम विभाग की चेतावनी : 26 मई को आ सकता है चक्रवाती तूफान, दो राज्यों को सबसे अधिक खतरा

मौसम विभाग की चेतावनी : 26 मई को आ सकता है चक्रवाती तूफान, दो राज्यों को सबसे अधिक खतरा

मौसम विभाग की चेतावनी : 26 मई को आ सकता है चक्रवाती तूफान, दो राज्यों को सबसे अधिक खतरा

नई दिल्ली: उत्तर अंडमान सागर (North Andaman Sea) और बंगाल की पूर्वी मध्य खाड़ी (East Central Bay of Bengal) में 22 मई को कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है जो चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है. यह जानकारी यहां बुधवार को मौसम विज्ञान विभाग (Meteorological Department) ने दी. मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय निदेशक जी के दास (Regional Director GK Das) ने कहा कि यह उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ सकता है और 26 मई की शाम तक पश्चिम बंगाल-ओडिशा (West Bengal-Odisha) के तटों तक पहुंच सकता है. चक्रवाती तूफान की रफ्तार अधिक तेज हो सकती है.

72 घंटों में बदल सकता है चक्रवाती तूफान में:
22 मई को बनने वाला कम दबाव का क्षेत्र अगले 72 घंटे में चक्रवाती तूफान में बदल सकता है. उन्होंने बताया कि पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में 25 मई से हल्की से मध्यम स्तर (Medium Level) की बारिश हो सकती है. दास ने कहा कि इसके बाद बारिश तेज होगी और दक्षिण बंगाल के जिलों में बारिश में तेजी आ सकती है.

तूफान ताउते ने गुजरात और महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी नुकसान पहुंचाया:
बता दें कि इससे पहले चक्रवाती तूफान ताउते ने गुजरात (Gujrat) और महाराष्ट्र (Maharashtra) के कई इलाकों में भारी नुकसान पहुंचाया. बिजली के खंभे समेत कई पेड़ उखड़ गए तथा कई घरों व सड़कों को भी नुकसान पहुंचा. इस दौरान हुई घटनाओं में करीब 13 लोगों की मौत भी हुई है. चक्रवाती तूफान के कारण 200 से अधिक तालुकाओं में बारिश हुई. एहतियाती तौर पर राज्य सरकार ने पहले ही दो लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया था.

 

और पढ़ें