Live News »

यूपी और उत्तराखण्ड के प्रवासी श्रमिकों को 2 बसों से किया रवाना, घर जाने की खुशी में खुशी से झूम उठे प्रवासी श्रमिक

यूपी और उत्तराखण्ड के प्रवासी श्रमिकों को 2 बसों से किया रवाना, घर जाने की खुशी में खुशी से झूम उठे प्रवासी श्रमिक

रामदेवरा: जैसलमेर के रामदेवरा क्षेत्र में पिछले लंबे समय से बैठे यूपी और उत्तराखंड राज्य के श्रमिकों के जब उन्हें बसों से उनके गृह राज्य भेजने की सूचना दी गई तो उनके चेहरे खुशी से चमक उठे. यूपी और उत्तराखण्ड के श्रमिकों को  प्रशासन ने उन्हें भी यहां से राजस्थान परिवहन निगम की 2 बसों में बैठाकर उन्हें उनके गंतव्य स्थल के लिए प्रस्थान किया तो सभी श्रमिकों ने हाथ हिलाकर प्रशासन का अभिवादन किया.

4 वर्षीय मासूम बालिका का किया अपहरण, पुलिस ने 6 घण्टों में बालिका को किया दस्तयाब, दो आरोपी गिरफ्तार

अलग-अलग दो बसों में बैठाकर किया रवाना:
एक माह तक जिस अपनत्व प्रेम की भावना के साथ सभी ने उनकी देखभाल की इसका वे कभी एहसान भूल नहीं पाएंगे. गौरतलब है कि लाक डाउन के दौरान आवागमन संबंधी छूट मिलने के पश्चात राजस्थान, मध्य प्रदेश ,हरियाणा के श्रमिकों को यहां से भिजवा दिया गया था. प्रशासन की तरफ से यूपी और उत्तराखण्ड   श्रमिकों को भी अलग-अलग दो बसों में बैठाकर रवाना किया. इस दौरान एसडीएम अजय अमरावत,तहसीलदार राजेश बिश्नोई,विकास अधिकारी नारायण सुथार,सहायक विकास अधिकारी भीमाराम वानर,आर आई माधव दान रतनू,हजारी राम,पटवारी बीरबलराम, थाना अधिकारी दलपत सिंह चौधरी आदि अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति में सभी को यहां से बस में बैठा कर रवाना किया गया.

प्रशासनिक अधिकारियों ने ली काफी राहत की सांस: 
ऐसे में उनके चेहरे पर खुशी के पल देखते ही बनते थे. जैसे ही बस ने यहां से प्रस्थान किया सभी ने अपनी सीट से खड़े होकर प्रशासनिक अधिकारियों और कर्मचारियों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया कि अंततः वे लोग भी अपने घर परिवार के बीच जा सकेंगे. लॉक डाउन की वजह से हजारों लोग बीच रास्ते में जगह-जगह फंस गए थे ऐसे में एक माह का लंबा समय मुसीबत भरा रहा. लेकिन अब खुशियों की आहट से श्रमिक लोग भी खुश दिखाई दे रहे हैं. रामदेवरा क्षेत्र में रहने वाले सभी श्रमिकों के यहां से प्रस्थान कर जाने के पश्चात प्रशासनिक अधिकारियों ने भी काफी राहत की सांस ली है.

लॉकडाउन में फंसे स्टूडेंट्स कोटा से रांची के लिए सिंगल ट्रीप माइग्रेंट स्पेशल ट्रेन से रवाना

और पढ़ें

Most Related Stories

बेटे के Birthday पर चलाई गोली सेलिब्रिटी गायक को लगी, BJP नेता के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

बेटे के Birthday पर चलाई गोली सेलिब्रिटी गायक को लगी, BJP नेता के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

बलिया: उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के गड़वार थाना क्षेत्र में पिछले दिनों एक पिता को बच्चे का जन्‍मदिन का उत्सव मनाना भारी पड़ गया है. असल में बच्चे के जन्मदिन में हर्ष फायरिंग कर दी थी जिसके बाद भाजपा नेता भानु दुबे को लेने के देने पड़ गए क्योंकि ये गोली भोजपुरी गायक और अभिनेता गोलू राजा को लग गई और दुबे के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज हो गया है. थानाध्यक्ष अनिल तिवारी ने बताया कि भाजपा नेता भानु दुबे को उसके गांव के समीप एक तिराहे से गिरफ्तार किया गया है.

उल्‍लेखनीय है कि गड़वार थाना क्षेत्र के महाकरपुर गांव में 26 अक्‍टूबर की रात भाजपा नेता भानु दुबे के बेटे की जन्मदिन पार्टी में पड़ोसी राज्‍य बिहार के मशहूर लोकगीत गायक व अभिनेता गोलू राजा और गायिका निशा उपाध्याय गीत प्रस्तुत कर रहे थे, तभी वहां हर्ष फायरिंग शुरू हो गई और इस दौरान एक गोली गायक की बांह को चीरते हुए सीने में लग गई जिसके बाद गोलू को उपचार के लिए वाराणसी में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि अब उनकी हालत स्थिर है. 

थानाध्‍यक्ष ने जानकारी देते हुए बताया है  कि इस मामले में उप निरीक्षक लाल साहब गौतम की शिकायत पर हत्‍या के प्रयास समेत कई गंभीर धाराओं में भानु दुबे के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. थानाध्‍यक्ष ने बताया कि पुलिस जन्मदिन की पार्टी में गोली चलाने वाले की तलाश कर रही है. जिसका फिलहाल कोई अता-पता नहीं है. (सोर्स-भाषा)

{related}

पूर्व सांसद अनु टंडन ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा, ट्विट कर दी जानकारी

पूर्व सांसद अनु टंडन ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा, ट्विट कर दी जानकारी

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की पूर्व सासंद अनु टंडन ने हाल ही में पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.अनु ने ट्विटर पर जारी एक बयान में अपना त्यागपत्र कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजने की जानकारी दी है. उन्नाव से पूर्व लोकसभा सदस्य ने यह दावा भी किया कि प्रदेश कांग्रेस के नेतृत्व से उन्हें कोई सहयोग नहीं मिल रहा था और कुछ लोगों द्वारा झूठा प्रचार चलाया जा रहा था तथा केंद्रीय नेतृत्व ने इस पर अंकुश लगाने के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया है.

उन्होंने कहा कि इन बिंदुओं पर मेरी बात कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से भी हुई था, लेकिन ऐसा कोई विकल्प या रास्ता नहीं निकल पाया, जो सबके हित में हो.  पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस के उत्तर प्रदेश के कुछ वरिष्ठ नेताओं से भी मेरी बातचीत हुई है, लेकिन वो भी इन हालात में असहाय एवं विकल्पहीन लगे है, जिसके चलते उन्होनें ये बड़ा फैसला ले लिया है. 

अनु ने अपने अगले राजनीतिक कदम का खुलासा नहीं करते हुए कहा कि वह अपने समर्थकों और कार्यकर्ताओं से परामर्श के बाद कोई कदम उठाएंगी. उल्लेखनीय है कि अनु 2009 में उन्नाव से कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव जीती थीं, हालांकि, 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. फिलहाल कोई घोषणा नहीं की गई है कि वे भविष्य में कौनसी पार्टी ज्वाइन करेंगी. (सोर्स-भाषा)

{related}

 

खाने बनाते वक्त सिलेंडर फटा, एक की मौत 7 गंभीर रूप से झुलसे

खाने बनाते वक्त सिलेंडर फटा, एक की मौत 7 गंभीर रूप से झुलसे

शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में गैस सिलेंडर में आग लगने से एक महिला की मौत हो गई है जबकि सात अन्य लोग झुलस गए है. पुलिस अधीक्षक (नगर) संजय कुमार ने बताया कि निगोही थाना अंतर्गत गुर्गवा गांव में रामवीर की पत्नी विमला (32) बुधवार शाम खाना बना रही थी, तभी गैस सिलेंडर में लगे पाइप से गैस लीक होने लगी और फिर सिलेंडर में आग लग गई, जिससे विमला आग की लपटों में घिर गई जिससे उसकी मौत हो गई है.

उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि परिजन उसे बचाने के लिए रसोई में घुसे और वे भी आग की चपेट में आए गए है. उन्होंने बताया कि घटना में मेवाराम ,पुत्तू लाल ,राम वीर , वीरावती, सरस्वती गंभीर रूप से झुलस गए जिन्हें उपचार हेतु लखनऊ रेफर किया गया है. कुमार ने बताया कि सत्येंद्र तथा राजरानी का इलाज मेडिकल कॉलेज में चल रहा है जबकि विमला के शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा चुका है और मामले की सिरे से जांच की जा रही है. (सोर्स-भाषा)

{related}

BSP के 7 बागी विधायक निलंबित, मायावती ने कहा - सपा को हराने के लिए बीजेपी को वोट देना पड़ेगा तो भी देंगे

BSP के 7 बागी विधायक निलंबित, मायावती ने कहा - सपा को हराने के लिए बीजेपी को वोट देना पड़ेगा तो भी देंगे

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने राज्यसभा चुनाव में बगावत करने वाले सात विधायकों को निलंबित कर दिया है. इसके साथ ही मायावती ने कहा कि एमएलसी के चुनाव में बसपा जैसे को तैसा का जवाब देने के लिए पूरी ताकत लगा देगी. बीजेपी को वोट देना पड़ेगा तो भी देंगे.

राज्यसभा चुनावों में हम सपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हराएंगे:
मायावती ने कहा कि हमारी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान सांप्रदायिक ताकतों से लड़ने के लिए सपा से हाथ मिलाया था. लेकिन उनके परिवारिक अंतरकलह के कारण बसपा के साथ गठबंधन कर भी वो ज्यादा लाभ नहीं उठा पाए. उन्होंने स्पष्ट कहा कि राज्यसभा चुनावों में हम सपा प्रत्याशियों को बुरी तरह हराएंगे. इसके लिए हम अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे. इसके लिए अगर हमें भाजपा या किसी अन्य पार्टी के प्रत्याशी को अपना वोट देना पड़े तो हम वो भी करेंगे.

{related}

इन विधायकों को किया पार्टी से निलंबित:
मायावती ने विधायक असलम राइनी (भिनगा-श्रावस्ती), असलम अली (ढोलाना-हापुड़), मुजतबा सिद्दीकी (प्रतापपुर-इलाहाबाद), हाकिम लाल बिंद (हांडिया- प्रयागराज) , हरगोविंद भार्गव (सिधौली-सीतापुर), सुषमा पटेल( मुंगरा बादशाहपुर) और वंदना सिंह -( सगड़ी-आजमगढ़) को पार्टी से निलंबित कर दिया है.

सभी बागी विधायक जल्द ही सपा ज्वॉइन कर सकते हैं:
गौरतलब है कि राज्यसभा चुनाव के दौरान बसपा के सात विधायक बागी हो गए हैं. माना जा रहा है कि सभी बागी विधायक जल्द ही सपा ज्वॉइन कर सकते हैं. इनकी मुलाकात अखिलेश यादव से हो चुकी है.

एक्सप्रेस वे पर खड़ी कार को पीछे से दूसरी कार ने मारी टक्कर, पति-पत्नी सहित बेटे की मौत, दो घायल

एक्सप्रेस वे पर खड़ी कार को पीछे से दूसरी कार ने मारी टक्कर, पति-पत्नी सहित बेटे की मौत, दो घायल

मथुरा:  उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में  यमुना एक्सप्रेस वे पर खड़ी एक कार में दूसरी कार द्वारा पीछे से टक्कर मार दिए जाने से उसमें बैठे पति-पत्नी और उनके बेटे की मौत हो गई है. पुलिस के अनुसार गुरुग्राम के राजीव नगर निवासी धर्मवीर सिंह राणा (55) पत्नी ऊषा और बेटे अविनाश राणा के साथ आल्टो कार से आगरा से नोएडा की ओर जा रहे थे और ये हादसा हो गया. 

उन्होनें घटना की पूरी जानकारी देते हुए बताया कि उसी बीच महावन थाना क्षेत्र में उन्होंने सड़क किनारे गाड़ी खड़ी की हुई थी, तभी पीछे से आ रही एक टियागो कार ने उनकी गाड़ी में टक्कर मार दी थी. दूसरी कार में अमृतसर निवासी कुलदीप और प्रवीण बैठे थे एवं उसे कुलदीप चला रहा था. हादसा बेहद ही भयानक था. 

थाना प्रभारी जसमीत सिंह ने बताया कि  इस घटना में धर्म सिंह राणा, पत्नी उषा राणा व बेटे अविनाश की मौके पर ही मृत्यु हो गई तथा टक्कर मारने वाली गाड़ी का चालक कुलदीप उर्फ लक्की व प्रवीण बुरी तरह घायल हो गए है.  पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया तथा घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार जारी है. (सोर्स-भाषा)

{related}

घर से भागी अनाथ दो बच्चियां रेलवे स्टेशन पर भीख मांगती आई नजर

घर से भागी अनाथ दो बच्चियां रेलवे स्टेशन पर भीख मांगती आई नजर

मथुरा:  हाल ही में मथुरा रेलवे स्टेशन पर दो लावारिस बच्चियों को भीख मांगते देखा गया, जिसके बाद मौके पर पहुंची रेलवे पुलिस ने बच्चियों से बात की तो हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ. असल में घर से भागकर आईं थी जिनकी उम्र लगभग 10 और सात वर्ष है. खबर है कि दो बच्चियां मथुरा जंक्शन रेलवे स्टेशन पर यात्रियों से भीख मांगती मिली है और रेलवे चाइल्ड लाइन की टीम ने उन्हें उनके परिजनों को सौंप दिया है.

राजकीय रेलवे पुलिस के अनुसार रेलवे चाइल्ड लाइन की टीम  जंक्शन के प्लेटफार्म संख्या दो एवं तीन पर लावारिस बच्चों की तलाश कर रही थी. उसी समय उन्हें वहां खड़ी एक ट्रेन के यात्रियों से भीख मांगती दो बच्चियां दिखाई दीं जिनकी उम्र 10 और सात वर्ष बताई जा रही है. चाइल्ड लाइन की टीम दोनों बच्चियों को लेकर बूथ पर पहुंची और कार्यवाही को आगे बढ़ाया. 

चाइल्ड लाइन के काउंसलर उमेश कुमार ने बच्चियों से उनके परिजनों के बारे में जानकारी करने का प्रयास किया गया जिसके चलते  पहले तो बच्चियां  कोई भी जानकारी देने को तैयार ही नहीं थीं, परंतु जब उन्होंने सहानुभूति पूर्वक प्यार से पूछा तो उन्होंने बताया कि उनके माता-पिता का देहांत हो चुका है, वे अनाथ हैं और दिल्ली के सराय काले खां इलाके में रिश्तेदार के साथ रहती हैं. काउंसलर ने उन्हें बुलाकर बच्चियों को सौंप दिया और सलाह दी कि उनका पहले से ज्यादा ध्यान रखा जाए. (सोर्स-भाषा)

{related}

उत्तर प्रदेशः शौच के लिए गई नाबालिग लड़की से 38 साल के व्यक्ति ने किया दुष्कर्म

उत्तर प्रदेशः शौच के लिए गई नाबालिग लड़की से 38 साल के व्यक्ति ने किया दुष्कर्म

बाराबंकी (उप्र): उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में में एक नाबालिग लड़की से दुष्कर्म का मामला सामने आया है. यहां 38 साल के एक व्यक्ति ने महज 15 साल की नाबालिग लड़की को अपनी हवस का शिकार बनाया है. पुलिस ने पीड़िता के पिता की शिकायत के बाद मामला दर्ज कर कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

{related}

शौच के लिए गई थी नाबालिग लड़कीः
जानकारी के अनुसार बाराबंकी जिले में मोहम्मदपुर खाला क्षेत्र के एक गांव में एक किशोरी से बलात्कार के आरोपी व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस सूत्रों ने बुधवार को बताया कि पीड़िता के पिता के अनुसार उनकी बेटी मंगलवार को शौच के लिए गई थी. इस दौरान सुनसान जगह देख कर पुन्ना उर्फ़ राकेश (38) नाम के व्यक्ति ने उनकी बेटी से बलात्कार किया. 

लोगों ने आरोपी को पकड़ कर पुलिस के हवाले कियाः
पुलिस सूत्रों ने बताया कि लड़की (15) की चीख़ पुकार सुनकर मौके पर पहुंचे लोगों ने आरोपी को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उसे जेल भेज दिया. सूत्रों ने बताया कि पुलिस ने इस सिलसिले में  मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.
सोर्स भाषा

उत्तर प्रदेशः बसपा खेमे में बगावत के सुर, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिले छह विधायक

उत्तर प्रदेशः बसपा खेमे में बगावत के सुर, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिले छह विधायक

लखनऊः उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के छह विधायकों ने बगावत कर दी है. इनमें से चार विधायकों ने राज्यसभा चुनाव के लिये पार्टी के प्रत्याशी के नामांकन में प्रस्तावक के तौर पर किये गये अपने हस्ताक्षरों को फर्जी बताते हुए बुधवार को निर्वाचन अधिकारी को एक शपथपत्र सौंपा, जिसके बाद सभी बागी विधायकों ने समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की.

राज्यसभा चुनाव के लिये बसपा के प्रत्याशी के नामांकन पत्र पर प्रस्तावक के तौर पर किये गये उनके हस्ताक्षरों को बताया फर्जीः
श्रावस्ती से बसपा विधायक असलम राइनी ने बताया कि उन्होंने तथा पार्टी विधायकों असलम चौधरी, मुज्तबा सिद्दीकी और हाकिम लाल बिंद ने निर्वाचन अधिकारी को दिये गये शपथपत्र में कहा है कि राज्यसभा चुनाव के लिये बसपा के प्रत्याशी रामजी गौतम के नामांकन पत्र पर प्रस्तावक के तौर पर किये गये उनके हस्ताक्षर फर्जी हैं.
इस दौरान उनके साथ विधायक सुषमा पटेल और हरिगोविंद भार्गव भी थे.

बसपा के बागी विधायकों ने अखिलेश यादव से की मुलाकातः
निवार्चन अधिकारी को शपथपत्र सौंपने के बाद सभी छह बागी बसपा विधायकों ने सपा राज्य मुख्यालय पहुंचकर पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की. इस घटनाक्रम से उनके सपा में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं. लेकिन सुषमा पटेल को छोड़कर बाकी सभी बागी बसपा विधायकों ने अखिलेश से मुलाकात होने की बात से इनकार किया है. हालांकि, सपा के एक वरिष्ठ नेता ने बताया कि बसपा के सभी छह विधायकों ने सपा अध्यक्ष अखिलेश से मुलाकात की है. लेकिन उन्होंने इस दौरान हुई बातचीत का ब्यौरा देने से यह कहते हुए मना कर दिया कि अब मुलाकात हुई है तो कोई बात तो होगी ही. उन्होंने दावा किया कि बसपा के साथ-साथ सत्तारूढ़ भाजपा के भी कई विधायक सपा के सम्पर्क में हैं और वे किसी भी वक्त पार्टी में शामिल हो सकते हैं.

विधायक सिद्दीकी ने पार्टी के समन्वयक पर लगाया परेशान करने का आरोपः
इलाहाबाद की प्रतापपुर सीट से बसपा विधायक मुज्तबा सिद्दीकी ने कहा कि पार्टी में उनका कोई मान-सम्मान नहीं रह गया था. उन्होंने कहा कि बसपा अध्यक्ष मायावती सही हैं, लेकिन पार्टी के समन्वयक बहुत परेशान करते हैं, जिससे तंग आकर उन्होंने यह कदम उठाया है. आगामी नौ नवम्बर को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिये नामांकन पत्रों की आज जांच की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक निर्वाचन अधिकारी इन बसपा विधायकों की शिकायत पर गौर करके उचित निर्णय लेंगे.

विधायक राइनी ने कहा- बसपा के मौजूदा हालात के लिये पार्टी के समन्वयक जिम्मेदारः
विधायक राइनी ने कहा कि वह 26 अगस्त को कोरोना से पीड़ित हो गये थे. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका मेदांता अस्पताल में इलाज करवा कर उनकी जान बचायी. योगी के साथ-साथ सपा अध्यक्ष अखिलेश ने भी फोन पर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली थी, लेकिन बसपा के किसी भी नेता ने ऐसा नहीं किया. इस बारे में उन्होंने एक वीडियो बनाकर भी सोशल मीडिया पर पोस्ट किया. उन्होंने कहा कि बसपा के मौजूदा हालात के लिये पार्टी के समन्वयक जिम्मेदार हैं. सिर्फ इसलिए, हमने पार्टी छोड़ने का फैसला किया है. हालांकि, बसपा विधायक सुषमा पटेल ने अखिलेश से मुलाकात की बात स्वीकार करते हुए कहा कि अखिलेश ने उन्हें बुलाया था. लेकिन और अधिक बताने से उन्होंने इनकार कर दिया.

बसपा ने रामजी गौतम को राज्यसभा चुनाव में बनाया है उम्मीदवारः 
गौरतलब है कि 403 सदस्यीय विधानसभा में 18 विधायकों वाली बसपा ने पर्याप्त संख्याबल नहीं होने के बावजूद पार्टी के राष्ट्रीय समन्वयक और बिहार इकाई के प्रभारी रामजी गौतम को राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार बनाया है. गौतम ने गत सोमवार को नामांकन दाखिल किया था. उत्तर प्रदेश से राज्यसभा की एक सीट से उम्मीदवार को जिताने के लिये 38 विधायकों का समर्थन होना आवश्यक है.
सोर्स भाषा