close ads


लॉकडाउन में फंसे हुए मजदूरों का पलायन, लेकिन अब रोड़ा बनी सीमाएं, नहीं दिया जा रहा प्रवेश 

लॉकडाउन में फंसे हुए मजदूरों का पलायन, लेकिन अब रोड़ा बनी सीमाएं, नहीं दिया जा रहा प्रवेश 

भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर जिले के मथुरा रोड पर स्थित उत्तर प्रदेश की रारह सीमा पर बिहार के मजदूरों को यूपी में प्रवेश नहीं करने देने का मामला अब धीरे-धीरे तूल पकड़ने लग गया है. अब इस मामले पर राजस्थान और उत्तर प्रदेश पुलिस आमने-सामने हो गई है.शनिवार सुबह से ही बिहार के सैकड़ों मजदूर राजस्थान के विभिन्न इलाकों से रारह बॉर्डर पर पहुंच गए थे, लेकिन मथुरा पुलिस ने उत्तर प्रदेश के मजदूरों को तो अपनी सीमा में प्रवेश दे दिया, लेकिन बिहार के मजदूरों को रोक दिया गया.

सिक्किम बॉर्डर पर भारत-चीन के सैनिक आमने-सामने, नाकु ला सेक्टर के पास हुई झड़प ! 

वार्ता से नहीं निकला कोई हल:
इस बात को लेकर शनिवार से ही भरतपुर में मथुरा के अधिकारियों के बीच वार्ता हो रही है लेकिन अभी तक कोई समाधान भी नहीं निकला है. मामला रविवार सुबह ज्यादा तूल पकड़ गया, जब यूपी और राजस्थान के पुलिसकर्मी आमने-मजदूरों को प्रवेश कराने को लेकर फिर आमने-सामने हो गए. रविवार सुबह से ही समझाइश के दौर जारी है. लेकिन कोई भी निष्कर्ष नहीं निकल पाया.

बिहार के मजदूरों को नहीं दिया प्रवेश:
यूपी पुलिस राजस्थान पुलिस पर दादागिरी करने और मारपीट के आरोप लगा रही थी, साथ ही यूपी पुलिस के अधिकारी कह रहे हैं की सरकार ने कहा है कि जो जहां है वही रहे इसलिए वह अपनी सरकार के आदेश की अवहेलना नहीं कर सकते. भरतपुर के जिला कलेक्टर और एसपी भी रारह बॉर्डर पहुंच गए हैं. साथ ही मथुरा जिला प्रशासन के अधिकारी में मौके पर पहुंचे हैं और उम्मीद जताई जा रही है कि जल्दी ही बिहारी मजदूरों के यूपी सीमा में प्रवेश को लेकर सामने आ रही समस्या का समाधान जल्दी होगा.

अमेरिका में भारतीय राजदूत का बयान, भारत-अमेरिका मिलकर बना रहे कोरोना वैक्सिन 

और पढ़ें