मिल्खा को अपनी स्वस्थ जीवन शैली और नियमित व्यायाम पर था पूरा भरोसा, कहा था- तीन चार दिन में ठीक हो जाऊंगा

मिल्खा को अपनी स्वस्थ जीवन शैली और नियमित व्यायाम पर था पूरा भरोसा, कहा था- तीन चार दिन में ठीक हो जाऊंगा

मिल्खा को अपनी स्वस्थ जीवन शैली और नियमित व्यायाम पर था पूरा भरोसा, कहा था- तीन चार दिन में ठीक हो जाऊंगा

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण (Covid Infection) का पता चलने के बाद PTI से बातचीत में महान फर्राटा धावक मिल्खा सिंह (Sprinter Milkha Singh) ने कहा था कि वह जल्दी ठीक हो जायेंगे और उन्हें यकीन था कि अपनी स्वस्थ जीवन शैली और नियमित व्यायाम के दम पर वह वायरस को हरा देंगे. 91 वर्ष के मिल्खा का एक महीने तक कोरोना संक्रमण से जूझने के बाद चंडीगढ के पीजीआईएमईआर अस्पताल (PGIMER Hospital) में निधन हो गया.

मैं तीन चार दिन में ठीक हो जाऊंगा: मिल्खा
सोशल मीडिया (Social Media) पर उनके कोरोना पॉजिटिव होने की खबरें आने के बाद PTI ने जब उनसे संपर्क किया, तो उन्होंने जवाब दिया था कि हां बच्चा, मैं 19 मई को कोरोना पॉजिटिव हो गया हूं, लेकिन मैं ठीक हूं. कोई दिक्कत नहीं है. कोई बलगम या बुखार नहीं. यह चला जायेगा. डॉक्टर ने कहा है कि मैं तीन चार दिन में ठीक हो जाऊंगा.

छह दिन पूर्व खोया था पत्नी को:
इसके कुछ दिन बाद एहतियात के तौर पर उन्हें मोहाली के फोर्टिस अस्पताल (Fortis Hospital) में भर्ती कराया गया. उनकी पत्नी और भारतीय वॉलीबॉल टीम (Indian Volleyball Team) की पूर्व कप्तान निर्मल कौर (Former Captain Nirmal Kaur) भी कोरोना संक्रमण के कारण अस्पताल में भर्ती हुई और छह दिन पहले ही उनका निधन हुआ था. परिवार के अनुरोध पर मिल्खा को अस्पताल से छुट्टी मिल गई लेकिन तीन जून को फिर पीजीआईएमईआर में भर्ती कराना पड़ा.

मैं संक्रमित होने को लेकर हैरान हूं.
मिल्खा ने 20 मई को हुई बातचीत में कहा था कि हमारे रसोइये (Chef) को बुखार था लेकिन उसने बताया था. हमने उसे उसके गांव भेज दिया. उसके बाद हम सभी ने कोरोना जांच कराई. मैं हैरान हूं कि मुझे संक्रमण कैसे हो गया. उन्होंने कहा था कि मैं तो घर के भीतर ही रह रहा था. 

सिर्फ सुबह जॉगिंग (Jogging) और कसरत (Exercise) के लिये निकलता था. मैने कल भी जॉगिंग की. चिंता मत करो, मैं ठीक हो जाऊंगा. उनकी पत्नी ने कहा था कि जिंदगी में पहली बार उन्होंने कमजोरी और शरीर में दर्द की शिकायत की.

और पढ़ें