Live News »

VIDEO: दुष्कर्म की घटनाओं पर मंत्री मेघवाल का बड़ा बयान, कहा- दुष्कर्मियों को सरेआम फांसी दी जाए

VIDEO: दुष्कर्म की घटनाओं पर मंत्री मेघवाल का बड़ा बयान, कहा- दुष्कर्मियों को सरेआम फांसी दी जाए

जयपुर: अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले मंत्री मा. भंवरलाल मेघवाल का बड़ा बयान सामने आया है. दुष्कर्म की घटनाओं पर मंत्री मेघवाल ने कहा कि दुष्कर्मियों को सरेआम फांसी दी जाए. कोर्ट को चाहिए दुष्कर्मियों को 3 माह में मुकदमे का फैसला कर कड़ी से कड़ी सजा दें. उन्होंने कहा कि विदेशों में दुष्कर्मी को सरेआम फांसी देने का प्रवधाना है तो हमारे यहां भी इसी तरह का प्राधान होना चाहिए. मास्टर मेघवाल ने कहा कि जब टीवी मोबाइल नहीं होता था तब दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराध नहीं होते थे लेकिन अब मोबाइल टीवी में देखकर युवा गलत प्रवृत्ति की तरफ बढ़ रहे हैं. देखिए वीडियो में क्या कुछ कहा...

और पढ़ें

Most Related Stories

सरकार के विश्वास मत हासिल करने के बाद बोले सचिन पायलट, जो भी अटकलें लगाई जा रही थी उन पर आज लग गया विराम

जयपुर: राजस्थान विधानसभा में गहलोत सरकार के विश्वास मत हासिल करने के बाद पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि आज सदन के अंदर सरकार ने विश्वास मत जीता, जो भी अटकले लगाई जा रही थी उन पर आज विराम लग गया. कांग्रेस के विधायकों ने एकजुटता का संदेश दिया. आने वाले समय में हम पूरी ताकत के साथ काम करेंगे. पर्दे के पीछे भाजपा में छुरियां चल रही है. भाजपा नेताओं को इस पर ध्यान देना चाहिए. ना कि हमारे बीच क्या चल रहा है इस पर. इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सचिन पायलट ने विश्वास मत जीतने पर बधाई दी. 

सरहद पर भेजा जाता है सबसे मजबूत योद्धा को: 
सदन में सचिन पायलट ने कहा आपने मेरी सीट में बदलाव किया और सीट को मैंने यहां पाया. पहले मैं वहां बैठता था तो सुरक्षित था, सरकार का हिस्सा था. फिर मैंने सोचा अध्यक्ष महोदय ने मेरी सीट यहां पर क्यों रखी है? 2 मिनट मैंने सोचा और देखा यह सरहद है, सरहद पर सबसे मजबूत योद्धा को भेजा जाता है. 

सदन में विपक्ष पर जमकर बरसे सीएम गहलोत, कहा-राजस्थान में किसी कीमत पर नहीं गिरने दूंगा सरकार

धरातल पर हमने लिया संकल्प:
हम लोगों ने अपने मर्जी को जिस डॉक्टर को बताना था बता दिया. इलाज कराने के बाद अब हम सदन में सब लोग आए हैं, तो कहने सुनने वाली बातों से परे हटकर आज वास्तविकता पर ध्यान देना पड़ेगा. धरातल पर हमने संकल्प लिया. बैठकर बातें करके सारी बातें खत्म करके प्रवेश किया है, तो इस सरहद पर कितनी भी गोलाबारी हो. हम सब लोग हमें कवच और ढाल बनकर सुरक्षित रखने का काम करेंगे.

21 अगस्त तक सदन की कार्यवाही स्थगित:
आपको बता दें कि पिछले एक माह से राजस्थान में सियासी संकट जारी था. इस बीच शुक्रवार को 15वीं राजस्थान विधानसभा का पांचवां सत्र शुरू हुआ. जिसमें गहलोत सरकार ने विधानसभा में विश्वास मत हासिल किया. ध्वनि मत से सदन में विश्वास मत पारित हुआ. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सदन में विश्वास मत जीता. अब 21 अगस्त तक सदन की कार्यवाही स्थगित की गई. विश्वास मत हासिल करने पर सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री गहलोत को बधाई दी. 

राजस्थान: गहलोत सरकार ने हासिल किया विधानसभा में विश्वास मत, 21 अगस्त तक सदन की कार्यवाही स्थगित

भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह का निलंबन खत्म, अनिवाश पांडे ने की घोषणा

भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह का निलंबन खत्म, अनिवाश पांडे ने की घोषणा

जयपुर: राजस्थान में शुक्रवार से विधानसभा का सत्र शुरू हो रहा है. इससे पहले आज कांग्रेस के भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह का निलंबन खत्म किया गया है. कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अनिवाश पांडे ने इसकी घोषणा की है. इसके बाद अब इन दोनों विधायकों को भी CMR की बैठक में बुलाया है. 

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए विधायक भंवरलाल शर्मा और विश्वेंद्र सिंह को पार्टी से निलंबित कर दिया था. इन दोनों विधायकों पर बीजेपी से सांठगांठ करके गहलोत सरकार गिराने का आरोप लगा था. इसके कुछ ऑडियो भी सामने आए थे. इस बारे में कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस नेता भंवरलाल शर्मा और बीजेपी नेता संजय जैन की बातचीत के बारे में बताया था. ह

जयपुर में भाजपा विधायक दल की बैठक शुरू, वसुंधरा राजे और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी पहुंचे

जयपुर में भाजपा विधायक दल की बैठक शुरू, वसुंधरा राजे और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी पहुंचे

जयपुर: आज जयपुर में पार्टी मुख्यालय पर भाजपा विधायक दल की बैठक शुरू हो गई है. बैठक में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे भी हिस्सा ले रही है. साथ ही केंद्र कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली से जयपुर पहुंचे हैं. इसके साथ ही पार्टी के लगभग सभी विधायक भी बैठक में पहुंचे हैं. मुरलीधर राव, अविनाश राय खन्ना, वी सतीश व चंद्रशेखर भी बैठक में मौजूद है. 

कल ही विश्वास मत हासिल करेगी सरकार! कांग्रेस के रणनीतिकारों ने बनाई रणनीति 

पार्टी विधानसभा सत्र को लेकर अपनी रणनीति तय कर सकती है: 
मिली जानकारी के अनुसार, बैठक में पार्टी विधानसभा सत्र को लेकर अपनी रणनीति तय कर सकती है. इसके साथ ही विधायक दल की बैठक में प्रदेश के आमजन से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की जायेगी, सरकार को हर मोर्चे पर घेरने की रणनीति तैयार की जायेगी और हमारे विधायक मुखर होकर सदन में अपनी बात रखेंगे. 

कांग्रेस विधायक दल की बैठक भी आज:
वहीं इससे आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक विधानसभा या मुख्यमंत्री के घर में होने वाली है. मीटिंग में गहलोत और पायलट दोनों खेमों के विधायक मौजूद रहेंगे. मीटिंग के बाद दोनों गुटों में मेल-मिलाप का दौर चलेगा. यह देखना दिलचस्प होगा कि गहलोत और पायलट की मुलाकात किस तरह से होती है. गौरतलब है कि गहलोत खेमे के विधायक बुधवार को जैसलमेर से जयपुर लौट आए हैं. उन्हें फिर से उसी होटल फेयरमोंट में ठहराया गया है, जहां से वे 31 जुलाई को जैसलमेर गए थे. 

पीएम मोदी ने की नए प्लेटफॉर्म की शुरुआत, कहा- अब ईमानदार का सम्मान होगा 

सरकार कल ही विश्वास मत हासिल करेगी:
मिली जानकारी के अनुसार सरकार कल ही विश्वास मत हासिल करेगी. कांग्रेस के रणनीतिकारों ने इसके लिए रणनीति बनाई है. कल से विधानसभा का 5वां सत्र शुरू होने जा रहा है ऐसे में सब कुछ सही रहा तो कल विधानसभा में विश्वास मत रखा जाएगा. 

कल ही विश्वास मत हासिल करेगी सरकार! कांग्रेस के रणनीतिकारों ने बनाई रणनीति

कल ही विश्वास मत हासिल करेगी सरकार! कांग्रेस के रणनीतिकारों ने बनाई रणनीति

जयपुर: कांग्रेस में सियासी घमासान थमने के बाद अब सरकार कल ही विश्वास मत हासिल करेगी. कांग्रेस के रणनीतिकारों ने इसके लिए रणनीति बनाई है. कल से विधानसभा का 5वां सत्र शुरू होने जा रहा है ऐसे में सब कुछ सही रहा तो कल विधानसभा में विश्वास मत रखा जाएगा. 

Coronavirus in India: पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 66999 नए मामले सामने आए, अबतक 47 हजार से ज्यादा लोगों की मौत 

अब लम्बी बाड़ेबंदी नहीं चाहते मुख्यमंत्री गहलोत: 
इस बारे में विधानसभा सचिवालय को औपचारिक सूचना देने की खबर है. मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री गहलोत अब लंबी बाड़ेबंदी नहीं चाहते. विधायक भी 15 अगस्त को अपने क्षेत्रों में जाना चाहते हैं. ऐसे में जल्द विश्वास मत सिद्ध करने की औपचारिकता करना चाहते हैं. हालांकि अंतिम फैसला कल सुबह BAC मीटिंग में होगा. 

मुख्यमंत्री गहलोत ने जोधपुर पहुंच बहन विमला देवी से बंधवाई राखी, रिश्तों की दी अहमियत

आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक:
वहीं इससे पहले आज कांग्रेस विधायक दल की बैठक विधानसभा या मुख्यमंत्री के घर में होने वाली है. मीटिंग में दोनों खेमों के विधायक मौजूद रहेंगे. मीटिंग के बाद दोनों गुटों में मेल-मिलाप का दौर चलेगा. यह देखना दिलचस्प होगा कि गहलोत और पायलट की मुलाकात किस तरह से होती है. गौरतलब है कि गहलोत खेमे के विधायक बुधवार को जैसलमेर से जयपुर लौट आए हैं. उन्हें फिर से उसी होटल फेयरमोंट में ठहराया गया है, जहां से वे 31 जुलाई को जैसलमेर गए थे. 

VIDEO: जैसलमेर से जयपुर लौटे विधायक, सरकार की रणनीति के तहत अगले कुछ दिन होटल में ही रहेंगे

जयपुर: जैसलमेर की बाड़ेबंदी के बाद कांग्रेस के विधायक एक बार फिर जयपुर पहुंच गए है. विधानसभा सत्र से पहले इन विधायकों को जयपुर लाया गया है. सरकार की रणनीति के तहत अगले कुछ दिन विधायक होटल फेयरमोंट में ही रहेंगे. ऐसा माना जा रहा है कि विधानसभा सत्र के बाद ही विधायक अपने क्षेत्रों का दौरा कर सकेंगे. 

अमेरिका की आर्थिक पैकेज की चर्चा से सोने-चांदी की कीमतों में भारी गिरावट, जानिए आज का भाव 

सीएम गहलोत मंगलवार को जैसलमेर गए थे: 
जैसलमेर से करीब 90 विधायक और 20 कांग्रेस नेता लौटे हैं. इससे पहले सीएम गहलोत मंगलवार को जैसलमेर गए थे. वहां उन्होंने विधायकों से बदले राजनीतिक हालात पर चर्चा की. उसके बाद आज विधायकों को जैसलमेर से जयपुर रवाना किया गया. वहीं दूसरी ओर शुक्रवार से शुरू होने जा रहा विधानसभा सत्र इस बार काफी हंगामेदार रहने के आसार हैं. 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जोधपुर दौरा, देचू में 11 लोगों की मौत पर किया शोक व्यक्त 

गहलोत खेमे के विधायक लगातार 31 दिनों से बाड़ेबंदी में: 
गहलोत खेमे के विधायक लगातार 31 दिनों से बाड़ेबंदी में हैं. पहले 13 जुलाई से जयपुर के फेयरमोंट होटल में विधायकों को रखा गया फिर 31 जुलाई को जैसलमेर के सूर्यगढ़ होटल ले जाया गया. अब एक बार फिर विधायकों को जयपुर के फेयरमोंट होटल में ठहराया गया है. विधायकों ने विक्ट्री का साइन दिखाकर होटल में प्रवेश किया. 


 

VIDEO: हमने कभी सरकार गिराने की कोशिश नहीं की, हमें बागी या विरोधी कहना बिल्कुल गलत- विश्वेन्द्र सिंह

VIDEO: हमने कभी सरकार गिराने की कोशिश नहीं की, हमें बागी या विरोधी कहना बिल्कुल गलत- विश्वेन्द्र सिंह

जयपुर: राजस्थान का सियासी दंगल अब खत्म हो गया है. केंद्रीय आलाकमान से समस्याओं के समाधान का भरोसा मिलने के बाद सचिन पायलट भी जयपुर वापस लौट आए हैं. इस बीच आज विश्वेन्द्र सिंह ने 1st इंडिया से खास बात की. इस दौरान उन्होंने कहा कि हमने कभी सरकार गिराने की कोशिश नहीं की. हमें बागी या विरोधी कहना बिल्कुल गलत है. अशोक गहलोत सरकार के मुखिया हैं और हम सरकार के साथ हैं. 

VIDEO: प्रदेशवासियों को विश्वास दिलाता हूं कि आने वाले दिनों में दुगुने जोश से काम करेंगे - सीएम गहलोत 

हमारे कारण सरकार को कोई चिंता नहीं होनी चाहिए: 
उन्होंने कहा कि हमारे कारण सरकार को कोई चिंता नहीं होनी चाहिए. वहीं ऑडियो व SOG मामले पर बोलते हुए विश्वेंद्र सिंह ने कहा कि मेरे ऑडियो को एडिट किया गया है मैंने गजेंद्र सिंह से कोई बात नहीं की. वहीं गहलोत के नेतृत्व में फिर से मंत्री बनकर काम करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी जो भूमिका तय करेगी उसे निभाएंगे. सुनिए विश्वेंद्र सिंह ने क्या कुछ कहा...

 

VIDEO: हिली हुई डगमगाई सरकार अपने कदमों को साधने की कोशिश कर रही - राजेंद्र राठौड़

जयपुर: राजस्थान में तेजी से बदल रहे सियासी राजनैतिक घटनाक्रम पर उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि कुनबा बिखर गया आखिर आलाकमान को बीच में दखल देनी पड़ी. यह नाकामयाबी ही मानी जाएगी. वहीं राठौड़ ने वसुंधरा राजे पर बोलते हुए कहा कि गठबंधन धर्म की पालना करनी चाहिए. अनर्गल आरोप लगाना कदापि उचित नहीं है. जिन किसी ने भी उन पर आरोप लगाए हमने उनको समझाया. वसुंधरा राजे हमारी पूर्व मुख्यमंत्री है प्रदेश की नेता हैं और नेता रहेंगी.  

बीजेपी ने पूरा जोर लगा लिया लेकिन एक आदमी टूट कर नहीं गया- मुख्यमंत्री गहलोत 

तरकस में एक भी तीर नहीं रखेंगे सभी तीर छोड़े जाएंगे: 
अविश्वास प्रस्ताव और विश्वास प्रस्ताव जैसी बात पर बोलते हुए राठौड़ ने कहा कि सरकार को बेनकाब करने के लिए कोशिश करेंगे. तरकस में एक भी तीर नहीं रखेंगे सभी तीर छोड़े जाएंगे. भारतीय जनता पार्टी मजबूत प्रतिपक्ष है इसलिए हमारे सामने कोई चुनौती नहीं है. 13 तारीख की विधायक दल की बैठक के बाद हमारी रणनीति फाइनल होगी. 

हिली हुई डगमगाई सरकार अपने कदमों को साधने की कोशिश कर रही: 
वहीं गहलोत सरकार पर तंज कसते हुए राठौड़ ने कहा कि हिली हुई डगमगाई सरकार अपने कदमों को साधने की कोशिश कर रही है. लेकिन भूचाल आया है वह अपने निशान छोड़ कर चला गया. उन्होंने कहा कि सत्र निश्चित तौर पर हंगामेदार और शानदार रहेगा. सरकार के नाकामी, टिड्डी का आक्रमण, कोरोना का कहर, सूखे की संभावना व जर्जर कानून व्यवस्था के मुद्दों पर विपक्ष का आक्रमण होगा. हम सदन से सड़क दक कुशासन से लड़ेंगे. 

VIDEO: राजनीति में भाषा मर्यादित होनी चाहिए, मैंने कोई मांग आलाकमान के सामने नहीं रखी- सचिन पायलट  

बाहर से बुर्ज की मरम्मत हो जाए तो यह नहीं माने की किला सुरक्षित: 
राठौड़ ने कहा कि टेलीफोन टेप हुए पुलिस की एजेंसी विधायकों को ढूंढती रही लेकिन पपला गुर्जर को पुलिस ढूंढती तो अच्छा होता. वहीं पांच साल सरकार चलने के सवाल पर उन्होंने कहा कि किला अगर ढह जाता है और बाहर से बुर्ज की मरम्मत हो जाए तो यह नहीं माने की किला सुरक्षित है. ऐसे में यह तो समय की रफ्तार और समय की धार बताएगी. 

VIDEO- मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात के बाद बोले विधायक ओम प्रकाश हुड़ला, कहा...

जयपुर: राजस्थान में तेजी से सियासी घटनाक्रम में बदलाव हो रहे हैं. इसी बीच तीन निर्दलीय विधायक ओम प्रकाश हुड़ला, सुरेश टांक व खुशबीर सिंह ने मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे कर सीएम गहलोत से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद फर्स्ट इंडिया से बात करते हुए निर्दलीय विधायक ओम प्रकाश हुड़ला ने कहा कि कुछ समय पहले हमारे खिलाफ SOG में एक मुकदमा दर्ज हुआ था सरकार ने वो वापस ले लिया. 

VIDEO: राजनीति में भाषा मर्यादित होनी चाहिए, मैंने कोई मांग आलाकमान के सामने नहीं रखी- सचिन पायलट  

उन्होंने कहा कि उस मुकदमे को लेकर सरकार और हमारे बीच एक आपसी तनाव पैदा हुआ था. हमे खुशी है इस बात की कि सरकार ने वह मुकदमा वापस ले लिया. आज हमने जो भी गिले-शिकवे थे वो सौहार्दपूर्ण वातावरण में मुख्यमंत्री से मुलाकात कर दूर किए. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य एक ही है कि हमारे क्षेत्र की जनता का विकास कैसे हो. सुनिए और क्या कुछ कहा...

 

Open Covid-19