हठधर्मिता छोड़कर किसानों के हित में कृषि कानूनों को वापस लें केंद्र सरकार - मंत्री आंजना

हठधर्मिता छोड़कर किसानों के हित में कृषि कानूनों को वापस लें केंद्र सरकार - मंत्री आंजना

हठधर्मिता छोड़कर किसानों के हित में कृषि कानूनों को वापस लें केंद्र सरकार - मंत्री आंजना

प्रतापगढ़: जिला प्रमुख चुनाव को लेकर प्रतापगढ़ पहुंचे प्रदेश के सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने किसान आंदोलन को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने केंद्र से अपील की है कि हठधर्मिता छोड़कर किसानों के हित में कृषि कानूनों को वापस ले. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार इस पर पुनर्विचार करें और लोकतंत्र का तकाजा है की जनता की बात को सुना जाए.

प्रतापगढ़ में जिला प्रमुख और पंचायत समितियों के चुनाव में कांग्रेस की सफलता से उत्साहित सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना का आज प्रतापगढ़ पहुंचने पर विधायक रामलाल मीणा पूर्व, पालिका अध्यक्ष ओम प्रकाश ओझा सहित कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया. फर्स्ट इंडिया न्यूज़ से खास बातचीत करते हुए इस दौरान आंजना ने कहा कि जिला प्रमुख के लिए हमारा रास्ता पूरी तरह से साफ है. भाजपा के कोई सदस्य हमारे पक्ष में मतदान करते हैं तो स्वागत है. वैसे भी 17 में से 9 सीट हमारे पास है. पंचायत समितियों में भी पांच में हमारे पास बहुमत है और दलोट की ट्रायंगल टक्कर में कांग्रेस की जीत निश्चित है. 

 

उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए मोदी हठधर्मिता कर रहे:
आंजना ने कहा कि उनके गृहनगर छोटी सादड़ी में 1988 से जनता का स्नेह है उनके प्रति बना हुआ है यहां कभी भी पंचायत समिति के चुनाव में कांग्रेस नहीं हारी पिछली बार भी भाजपा ने फर्जीवाड़ा कर चुनाव जीता था. जिसका सबक जनता ने इस बार उन्हें सिखा दिया है. किसान आंदोलन पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि सरकार अपनी हठधर्मिता छोड़कर जो किसान कह रहा है उनकी बात माने. कांग्रेस का इस आंदोलन से कोई लेना देना नहीं है लेकिन किसान आंदोलन हैं उसका समर्थन करते हैं. उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए मोदी हठधर्मिता कर रहे हैं. सरकार सभी जिंसों को समर्थन मूल्य पर खरीदने के लिए कानून बनाएं. किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए काम किया जाए. आंजना ने जिले में कांग्रेस की जोरदार जीत के लिए कार्यकर्ताओं को बधाई दी.

और पढ़ें