श्रम राज्य मंत्री ने की जनसुनवाई, प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आए फरियादियों की सुनी समस्याएं

श्रम राज्य मंत्री ने की जनसुनवाई, प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आए फरियादियों की सुनी समस्याएं

श्रम राज्य मंत्री ने की जनसुनवाई, प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आए फरियादियों की सुनी समस्याएं

जयपुर: श्रम, राज्य मंत्री टीकाराम जूली (Minister of State for Labour Tikaram Julie) ने गुरूवार को मोती डूंगरी स्थित अपने कार्यालय परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distencing) की पालना करते हुए जनसुनवाई की. प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों से आए लोगों ने अपनी समस्याएं मंत्री के सामने रखी जिस पर मंत्री ने समस्याओं के निधान का आश्वासन दिया.

 फरियादियों की समस्याए जल्द से जल्द सुलझाने के दिए निर्देश:
जनसुनवाई में जिलेभर से परिवेदनाएं (Complaints) लेकर आए लोगों ने श्रम मंत्री को अपनी समस्याओं से अवगत कराया. श्रम राज्य मंत्री जूली ने आमजन की समस्याओं को गंभीरतापूर्वक (Seriously) सुना तथा संबंधित अधिकारियों को समस्या के शीघ्र निस्तारण करने के निर्देश दिए. श्रम राज्य मंत्री ने जनसुनवाई में बहादुरपुर के पट्टी मीरान से आई परमीना की दिव्यांग बेटी महमूदा को पेंशन से जोडने की प्रक्रिया सात दिवस में पूर्ण कराने के निर्देश ग्राम विकास अधिकारी को दिए. साथ ही एक सप्ताह पूर्व आए अंधड से परमीना का कच्चा छप्पर उडने पर उसको मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता (Subsidies) दिलाने की कार्रवाई प्रारम्भ करने के निर्देश दिये.

सरकार की जनकल्याणकारि योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोगों को मिले:
उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं (Public Welfare Schemes) का लाभ अधिक से अधिक लोगों को दिलाया जाना सुनिश्चित करे. उन्होंने कहा कि वृद्धावस्था, विधवा, विकलांग व पालनहार योजना सेस सभी पात्र व्यक्तियों को जोडना सुनिश्चित करें. उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के समय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) के कुशल नेतृत्व में सरकार ने जनकल्याण के कार्याें के माध्यम से आमजन को राहत प्रदान की.

मुख्यमंत्री समय-समय पर चर्चा कर समीक्षा बैठकें ले रहे हैं:
मुख्यमंत्री गहलोत और राज्य सरकार के सभी मंत्री जन विकास के कार्याें के संबंध में अधिकारियों से समय-समय पर चर्चा कर समीक्षा बैठकें ले रहे हैं. उन्होंने लोगों से अपील की है कि अब कोरोना का ग्राफ तेजी से कम हुआ है लेकिन ऎसे में हमें और अधिक सर्तकता बरतकर सोशल डिस्टेसिंग का पालन व मास्क (Mask) का नियमित उपयोग करना है.

और पढ़ें