कराची मुख्य चयनकर्ता पद से हट सकते हैं मिसबाह लेकिन बने रहेंगे मुख्य कोच

मुख्य चयनकर्ता पद से हट सकते हैं मिसबाह लेकिन बने रहेंगे मुख्य कोच

मुख्य चयनकर्ता पद से हट सकते हैं मिसबाह लेकिन बने रहेंगे मुख्य कोच

कराची: मिसबाह उल हक ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम के मुख्य कोच की अपनी जिम्मेदारियों पर अधिक ध्यान देने के लिये मुख्य चयनकर्ता पद से हटने का फैसला किया है. मिसबाह ने बुधवार को लाहौर में कहा कि उन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को सूचित कर दिया है कि वह 30 नवंबर को मुख्य चयनकर्ता पद से हट जाएंगे.

पिछले साल सितंबर से निभा रहे हैं मुख्य चयनकर्ता और मुख्य कोच भूमिका: 
वह पिछले साल सितंबर से मुख्य चयनकर्ता और मुख्य कोच की दोहरी भूमिका निभा रहे हैं. मिसबाह ने कहा कि मैं जिम्बाब्वे के खिलाफ होने वाली आगामी शृंखला के लिये टीम का चयन करूंगा लेकिन इसके बाद मैं केवल मुख्य कोच की अपनी भूमिका पर ही ध्यान केंद्रित करना चाहता हूं.

बोर्ड या किसी अन्य के दबाव में नहीं हट रहे पद से: 
इस पूर्व कप्तान ने कहा कि वह बोर्ड या किसी अन्य के दबाव में मुख्य चयनकर्ता पद से नहीं हट रहे हैं. उन्होंने कहा कि यह पूरी तरह से मेरा खुद का फैसला है. मैंने यह फैसला इसलिए किया क्योंकि मुझे लगता है कि एक समय में दो महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाना आसान नहीं है. मैं राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच के तौर पर अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहता हूं.

नए मुख्य चयनकर्ता  का सहयोग करूंगा:
मिसबाह ने कहा कि जिसे भी मुख्य चयनकर्ता चुना जाएगा मैं उसके साथ पूरा सहयोग करूंगा और पाकिस्तानी टीम को प्रत्येक प्रारूप में शीर्ष तीन में ले जाने के लिये प्रयासरत रहूंगा. दिलचस्प बात यह है कि पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने हाल में कहा था कि उनकी मुख्य चयनकर्ता पद के लिये बोर्ड के साथ बातचीत चल रही है. बोर्ड ने हालांकि इसका खंडन करते हुए कहा था कि उसकी मिसबाह की जगह किसी अन्य को मुख्य चयनकर्ता बनाने की योजना नहीं है.
सोर्स भाषा 

और पढ़ें