नई दिल्ली प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक : मंत्रियों ने कार्रवाई की मांग की, ठाकुर ने कहा-गृह मंत्रालय कड़ा फैसला करेगा

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक : मंत्रियों ने कार्रवाई की मांग की, ठाकुर ने कहा-गृह मंत्रालय कड़ा फैसला करेगा

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक : मंत्रियों ने कार्रवाई की मांग की, ठाकुर ने कहा-गृह मंत्रालय कड़ा फैसला करेगा

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्रिमंडल ने समझा जाता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान सुरक्षा चूक के मुद्दे पर बृहस्पतिवार को चर्चा की जिसमें कई मंत्रियों ने इस घटनाक्रम पर चिंता व्यक्त करते हुए ऐसी कार्रवाई करने की मांग की, जो मिसाल बने . सूत्रों ने यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि सभी मंत्रियों ने प्रधानमंत्री की बुधवार को कांग्रेस शासित राज्य पंजाब की यात्रा के दौरान ‘बड़ी सुरक्षा चूक’ पर क्षोभ व्यक्त किया और कुछ मंत्रियों ने कड़ी कार्रवाई की मांग की.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बैठक शुरू होने पर कई मंत्रियों ने इस मुद्दे को उठाया और पंजाब में कांग्रेस सरकार द्वारा इस मामले से निपटने के तौर तरीकों को लेकर क्षोभ प्रकट किया. वहीं, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बैठक के बाद कहा कि इस मामले में सूचना एकत्र करने के बाद गृह मंत्रालय बड़ा और कड़ा फैसला करेगा.

दूसरी ओर, नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर एक मंत्री ने कहा कि कई मंत्रियों का मानना था कि इस मामले में ऐसी कार्रवाई होनी चाहिए जो मिसाल बने ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो सके. उन्होंने यह भी कहा कि कि पहले कभी प्रधानमंत्री की सुरक्षा के साथ इस प्रकार से समझौता नहीं किया गया. सूत्रों ने बताया कि इस मुद्दे पर सर्वोच्च स्तर पर चर्चा की जा रही है और गृह मंत्रालय कुछ कड़ी कार्रवाई कर सकता है ताकि ऐसी घटनाएं दोहरायी न जाएं .

 

केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन में सूरक्षा चूक के बारे में पूछे गए सवालों के जवाब में अनुराग ठाकुर ने कहा कि कुछ लोग इस बारे में उच्चतम न्यायालय भी गए हैं और मीडिया सहित अन्य क्षेत्रों से लोगों ने अपने विचार व्यक्त किये हैं. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि गृह मंत्रालय ने भी कार्रवाई की बात कही है. सूचना एकत्र करने के बाद जो भी कदम.बड़े और कड़े निर्णय उसकी ओर से लिये जायेंगे.

ठाकुर ने कहा कि मेरा मानना है कि देश की न्यायिक व्यवस्था ने सभी को न्याय दिया है. और जब ऐसी चूक होती हैं, जो भी कदम उठाने होंगे, उठाये जायेंगे. ’’ इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की. राष्ट्रपति भवन में हुई इस मुलाकात में कोविंद ने, एक दिन पहले मोदी के पंजाब दौरे के दौरान उनकी सुरक्षा में हुई चूक की घटना को लेकर चिंता जाहिर की.

राष्ट्रपति भवन ने राष्ट्रपति कोविंद के हवाले से ट्वीट में यह जानकारी दी और दोनों की मुलाकात की तस्वीर भी साझा की . ट्वीट के अनुसार, राष्ट्रपति भवन पहुंच कर प्रधानमंत्री मोदी ने कोविंद से मुलाकात की. उन्होंने राष्ट्रपति कोविंद को एक दिन पहले, अपने पंजाब दौरे के दौरान हुई सुरक्षा चूक की घटना के बारे में जानकारी दी. ट्वीट के अनुसार, राष्ट्रपति ने (प्रधानमंत्री की) सुरक्षा में चूक को लेकर चिंता व्यक्त की.

मुलाकात के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, राष्ट्रपति जी से भेंट की . उनकी ओर से चिंता व्यक्त करने के लिये आभार. उनकी शुभकामनाओं के लिये आभारी हूं जो हमेशा शक्ति का स्रोत रहे हैं. उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने भी प्रधानमंत्री मोदी के पंजाब दौरे पर हुई सुरक्षा में चूक की घटना को लेकर बृहस्पतिवार को चिंता जताई और इस सिलसिले में उनसे बात भी की. वहीं, केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार ने विश्व के सबसे लोकप्रिय और प्रशंनीय नेता मोदी जी के खिलाफ जानबूझकर आपराधिक लापरवाही बरती है और यह कायराना साजिश का हिस्सा है. नकवी ने कहा कि इस आपराधिक कृत्य पर कांग्रेस अहंकार दिखा रही है. (भाषा) 

और पढ़ें