जयपुर: माता-पिता की मृत्यु के बाद निराश्रित बच्चों के लिए बन रही है Model Policy: Khachariyawas

माता-पिता की मृत्यु के बाद निराश्रित बच्चों के लिए बन रही है Model Policy: Khachariyawas

माता-पिता की मृत्यु के बाद निराश्रित बच्चों के लिए बन रही है Model Policy: Khachariyawas

जयपुर: परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Transport Minister Pratap Singh Khachariyawas) ने बताया कि कोरोना के कारण निराश्रित हुए बच्चों के लिए उनके स्तर पर त्वरित सहायता (Quick Help) के लिए 9 लाख रुपए की प्रारम्भिक राशि से ‘‘किड्स केयर वेलफेयर फण्ड’’ (Kids Care Welfare Fund) प्रारम्भ किया गया है. जो भी व्यक्ति इसमें सहायता करना चाहे सीधे ही लाभार्थी तक सहायता पहुंचा सकेंगे. 

कई स्कूल इन बच्चों के शिक्षा की जिम्मेदारी लेने को तैयार:
कई स्कूल भी इन बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी लेने के लिए सम्पर्क कर रहे हैं. राज्य सरकार (State Government) के स्तर भी पहले से जारी पालनहार योजना (Foster Plan) के साथ ही एक ‘‘मॉडल पॉलिसी’’ बनाने पर काम जारी है. जिला कलक्टर नेहरा (Collector Nehra) ने बताया कि जयपुर में भी इसके लिए सर्वे कराया जा रहा है.

शहर में सफाई कार्य से समझौता नहीं:
परिवहन मंत्री खाचरियावास ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान शहर में सफाई कार्य बंद किया जाना स्वीकार्य नहीं है. उन्होंने दोनों निगमों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि कम्पनी द्वारा कचरा नहीं उठवाया जाए तो विधानसभावार टेण्डर कर लिए जाएं. इस पर नगर निगम जयपुर ग्रेटर (Municipal Corporation Jaipur Greater) के आयुक्त यज्ञमित्र सिंह देव (Commissioner Yagya Mitra Singh Deo) ने उन्हें जानकारी दी कि सफाई व्यवस्था एक-दो दिन में सुचारू हो जाएगी.

और पढ़ें