तोक्यो मोदी की जापान के कारोबारी दिग्गजों से भेंट, भारत में निवेश के अवसरों पर हुई चर्चा

मोदी की जापान के कारोबारी दिग्गजों से भेंट, भारत में निवेश के अवसरों पर हुई चर्चा

 मोदी की जापान के कारोबारी दिग्गजों से भेंट, भारत में निवेश के अवसरों पर हुई चर्चा

तोक्यो: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को सॉफ्टबैंक के मासायोशी सोन और सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के ओसामु सुजुकी सहित जापान के कारोबारी दिग्गजों से मुलाकात की. इस दौरान प्रधानमंत्री ने उन्हें भारत में निवेश के लिए आमंत्रित किया. मोदी ने सोमवार को सॉफ्टबैंक कॉरपोरेशन के संस्थापक और सीईओ मासायोशी सोन से मुलाकात की और उनके साथ भारतीय प्रौद्योगिकी, ऊर्जा, वित्त और अनुसंधान एवं विकास जैसे क्षेत्रों में निवेश की संभावनाओं पर चर्चा की.

प्रधानमंत्री मोदी अपने जापानी समकक्ष फुमियो किशिदा के निमंत्रण पर क्वाड नेताओं के एक शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए दो दिन की जापान यात्रा पर हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने ट्वीट किया, भारत में जापानी निवेश को और बढ़ावा दिया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सॉफ्टबैंक समूह के संस्थापक मासायोशी सोन से मुलाकात की और भारत के स्टार्टअप क्षेत्र में सॉफ्टबैंक की भूमिका की सराहना की.

उन्होंने आगे कहा कि इस दौरान भारत में प्रौद्योगिकी, ऊर्जा, वित्त, अनुसंधान एवं विकास आदि क्षेत्रों में सॉफ्टबैंक द्वारा भविष्य में भागीदारी पर चर्चा हुई. सॉफ्टबैंक भारत के स्टार्टअप परिवेश में निवेश करने वाला प्रमुख संस्थान है और उसने पेटीएम तथा पॉलिसीबाजार जैसे बड़े उपक्रमों में निवेश किया है, जो अब भारतीय शेयर बाजारों में सूचीबद्ध हैं.सॉफ्टबैंक ने ओयो होटल्स एंड होम्स, डेल्हीवरी और अनअकैडमी जैसे अन्य स्टार्टअप में भी निवेश किया है.

प्रधानमंत्री ने अपनी जापान यात्रा के दौरान सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के सलाहकार ओसामु सुजुकी से भेंट की और भारत में निवेश, नवाचार, इलेक्ट्रिक वाहनों के विनिर्माण और पुनर्चक्रण केंद्रों को लेकर अवसरों पर चर्चा की.बागची ने ट्वीट किया, सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के सलाहकार ओसामु सुजुकी के साथ एक बैठक में मोदी ने भारत के मोटर वाहन उद्योग में सुजुकी की परिवर्तनकारी भूमिका की सराहना की.

बागची ने कहा कि उन्होंने भारत में निवेश, नवाचार, ईवी विनिर्माण, पुनर्चक्रण (रिसाइक्लिंग) केंद्रों के अवसरों पर चर्चा की.सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन ने इस साल मार्च में घोषणा की थी कि वह गुजरात में इलेक्ट्रिक वाहनों और बैटरी के स्थानीय विनिर्माण के लिए 2026 तक लगभग 150 अरब येन (लगभग 10,445 करोड़ रुपये) का निवेश करेगी.

मोदी ने जापानी बहुराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी इलेक्ट्रॉनिक कंपनी एनईसी कॉरपोरेशन के प्रमुख नोबुहिरो एंडो से भी मुलाकात की. इस भेंट के बारे में प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया कि मोदी ने भारत में हो रहे सुधारों का जिक्र किया. उन्होंने डिजिटल शिक्षा, फिनटेक, अवसंरचना और लॉजिस्टिक नेटवर्क जैसे क्षेत्रों में अवसरों के बारे में बात की.

विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री ने भारत के दूरसंचार क्षेत्र में एनईसी की भूमिका की सराहना की और खासतौर से चेन्नई-अंडमान और निकोबार द्वीप समूह (सीएएनआई) और कोच्चि-लक्षद्वीप (केएलआई) ओएफसी परियोजनाओं का उल्लेख किया, जिसमें एनईसी का उल्लेखनीय योगदान है.उन्होंने उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना के तहत निवेश के अवसरों पर भी प्रकाश डाला. प्रधानमंत्री ने जापानी कपड़ों के ब्रांड यूनिक्लो के सीईओ से मुलाकात कर भारत में कपड़ा निर्माण क्षेत्र में निवेश के अवसरों पर चर्चा की.

बागची ने ट्वीट किया, भारत के कपड़ा क्षेत्र को बढ़ावा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूनिक्लो की मूल कंपनी फास्ट रिटेलिंग के सीईओ तदाशी यानाई से मुलाकात की. उन्होंने आगे कहा कि इस दौरान प्रधानमंत्री ने भारत में यूनिक्लो की बढ़ती उपस्थिति और पीएलआई योजना के तहत भारत में कपड़ा निर्माण के लिए निवेश के अवसरों पर चर्चा की. (भाषा) 

और पढ़ें