close ads


मोहन भागवत ने फिर दोहराया, भारत में मुसलमान सबसे ज्यादा सुखी, क्योंकि हम हिंदू

मोहन भागवत ने फिर दोहराया, भारत में मुसलमान सबसे ज्यादा सुखी, क्योंकि हम हिंदू

भुवनेश्वर: आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने इस बात को फिर दोहराया है कि भारत एक हिंदू राष्ट्र है. ओडिशा के भुवनेश्वर में एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि यहूदी मारे-मारे फिरते थे, अकेला भारत है जहां उन्हें ठिकाना मिला. उन्होंने कहा कि पारसियों की पूजा और मूल धर्म संस्कृति केवल भारत में है. संघ प्रमुख ने कहा कि विश्व में सबसे ज्यादा सुखी मुसलमान भारत में हैं, क्योंकि हम हिंदू हैं. 

दरअसल कल संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक में भाग लेने नौ दिवसीय दौरे पर भुवनेश्वर पहुंचे भागवत ने बुद्धिजीवियों से बातचीत की. भागवत ने जोर देकर कहा कि संघ को किसी से नफरत नहीं है. आरएसएस का उद्देश्य भारत में परिवर्तन के लिए सभी समुदायों को संगठित करने का है, न सिर्फ हिंदू समुदाय को. भागवत ने कहा कि राष्ट्रवाद लोगों को डराता है, क्योंकि वह तुरंत इसे हिटलर और मुसोलिनी से जोड़ देते हैं, लेकिन भारत में राष्ट्रवाद ऐसा नहीं है, क्योंकि यह राष्ट्र अपनी सामान्य संस्कृति से बना है. 

और पढ़ें