काबुल कुंदुज शहर का अधिकतर हिस्सा तालिबान के नियंत्रण में है: अफगान अधिकारी

कुंदुज शहर का अधिकतर हिस्सा तालिबान के नियंत्रण में है: अफगान अधिकारी

कुंदुज शहर का अधिकतर हिस्सा तालिबान के नियंत्रण में है: अफगान अधिकारी

काबुल: तालिबान विद्रोहियों ने रविवार को उत्तरी अफगानिस्तान के कुंदुज प्रांत की राजधानी के अधिकांश हिस्से पर नियंत्रण कर लिया, जिसमें गवर्नर कार्यालय और पुलिस मुख्यालय भी शामिल है. यह जानकारी प्रांतीय परिषद के एक सदस्य ने दी.

गुलाम रब्बानी रब्बानी ने बताया कि विद्रोहियों और सरकारी बलों के बीच लड़ाई गवर्नर कार्यालय और पुलिस मुख्यालय के आसपास हुई, लेकिन बाद में तालिबान ने दोनों इमारतों पर नियंत्रण कर लिया. उन्होंने कहा कि कुंदुज में मुख्य जेल भवन पर भी चरमपंथियों का नियंत्रण है. रबानी ने कहा कि शहर के हवाईअड्डे और अन्य हिस्सों में लड़ाई जारी है.

कुंदुज रणनीतिक जगह पर स्थित है, जहां से उत्तरी अफगानिस्तान के साथ-साथ लगभग 335 किलोमीटर दूर स्थित राजधानी काबुल तक अच्छी पहुंच है. अमेरिका और नाटो सैनिकों द्वारा देश से वापसी समाप्त करने के साथ ही तालिबान के हमले बढ़ गए हैं. अफगान सुरक्षाबलों ने अमेरिका की सहायता से हवाई हमलों से जवाबी कार्रवाई की है. हालांकि लड़ाई ने आम नागरिकों के हताहत होने को लेकर चिंताएं बढ़ा दी हैं.

तालिबान विद्रोही शनिवार को जावजान प्रांत के 10 में से नौ जिलों पर नियंत्रण के बाद इसकी राजधानी में दाखिल हुए. देश की 34 प्रांतीय राजधानियों में से कई को खतरा है क्योंकि तालिबान लड़ाके आश्चर्यजनक गति से अफगानिस्तान के बड़े इलाके को अपने नियंत्रण में करते जा रहे हैं. इस बीच, प्रांतीय परिषद के एक सदस्य ने रविवार को कहा कि हवाई हमलों में दक्षिणी अफगानिस्तान के हेलमंद प्रांत की राजधानी में एक क्लिनिक और एक हाईस्कूल क्षतिग्रस्त हो गया.

रक्षा मंत्रालय के एक बयान में पुष्टि की गई कि लश्कर गाह शहर के कुछ हिस्सों में हवाई हमले किए गए. इसमें कहा गया कि सुरक्षाबलों ने तालिबान के ठिकानों को निशाना बनाया, जिसमें 54 विद्रोही मारे गए और 23 अन्य घायल हो गए. बयान में किसी क्लिनिक या स्कूल पर बमबारी का कोई जिक्र नहीं किया गया.

हेलमंद प्रांतीय परिषद के उपाध्यक्ष माजिद अखुंद ने कहा कि शनिवार देर रात शहर के सातवें पुलिस जिले में एक क्लिनिक और एक स्कूल हवाई हमले की चपेट में आ गया. उन्होंने हालांकि कहा कि यह इलाका तालिबान के नियंत्रण में है, इसलिए वहां कोई भी व्यक्ति तालिबान के कारण हताहत हो सकता है. वहीं, हेलमंद जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारी डॉ. अहमद खान वेयार ने कहा कि एक स्वास्थ्य क्लिनिक पर हवाई हमले में एक नर्स की मौत हो गई और एक गार्ड घायल हो गया.

तालिबान ने एक बयान में कहा कि अमेरिकी आक्रमणकारियों ने हेलमंद में एक और अस्पताल तथा स्कूल पर बमबारी की और उसे नष्ट कर दिया. इसने कहा कि सफ्यानो अस्पताल और मुहम्मद अनवर खान हाईस्कूल पर बमबारी की गई. अखुंद के अनुसार, लश्कर गाह में क्लिनिक ज्यादातर खानाबदोशों को सेवाएं दे रहा था, जो इस क्षेत्र से गुजर रहे थे, लेकिन हाल के दिनों में यह क्षेत्र तालिबान के नियंत्रण में था और हो सकता है कि तालिबान के लोगों का भी वहां इलाज हुआ हो.

लश्कर गाह में और इसके आसपास भारी लड़ाई हुई है तथा अमेरिका और अफगान सरकार की वायुसेना, दोनों ने शहर में हवाई हमले किए हैं. शहर के 10 पुलिस जिलों में से नौ पर तालिबान का नियंत्रण है.

 

और पढ़ें