Motichoor Chaknachoor Movie Review: छोटे शहर की बड़ी कहानी है फिल्म, जानें नवाज़ुद्दीन की फिल्म कितने अरमान पूरे करेगी

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/11/15 11:11

मुंबई  बॉलीवुड में इन दिनों छोटे शहरों की छोटी-छोटी कहानियां दिल को छू रही हैं.कहावत है शादी का लड्डू जो खाए वो पछताए और जो न खाए वो भी पछताए. अब शादी से जुड़ी फिल्म 'मोतीचूर चकनाचूर' लेकर बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी हाजिर हो चुके हैं. वेब सीरीज सैक्रेड गेम्स में गणेश गायतोंडे जैसे खतरनाक किरदार के बाद नवाजुद्दीन ने कॉमेडी फिल्म के जरिए लोगों को हंसाने की कोशिश तो की लेकिन नवाजुद्दीन इस कोशिश में फेल होते दिखाई दिए. फिल्म का ट्रेलर काफी मजेदार था लेकिन जब पूरी पिक्चर सामने आई तो सब कुछ धरा का धरा रह गया. फिल्म में दो परिवार ही शुरू से आखिर तक बने रहते हैं और शादी का मुद्दा सबसे बड़ा मुद्दा होता है. दो घरों के बीच की कहानी काफी बोर कर देती है. फिल्म में भोपाल की महक है,

ये है फिल्म की कहानी

छोटे शहर के मध्यवर्गीय परिवारों की जिंदगी की टीस और मस्ती दोनों भी नजर आती है.'मोतीचूर चकनाचूर' फिल्म का टाइटल ही काफी हद तक फिल्म के बारे में बता देता है. फिल्म पुष्पिंदर (नवाजुद्दीन सिद्दीकी) और ऐनी उर्फ अनिता (अथिया शेट्टी) की शादी पर आधारित है. फिल्म में ऐनी एक ऐसा किरदार है जो शादी के लिए कई लड़के देख चुकी है. ऐनी इसलिए शादी करना चाहती है कि शादी के बाद वो विदेश जा सके और वहां पर फोटो क्लिक कराकर अपनी दोस्तों को दिखा सके और इंटरनेट पर शेयर कर सके. इसलिए ऐनी विदेश में काम कर रहे लड़के से ही शादी करना चाहती है. इसी चक्कर में ऐनी कई लड़कों को रिजेक्ट भी कर चुकी है.'मोतीचूर चकनाचूर (Motichoor Chaknachoor)' की कहानी भोपाल के पुष्पिंदर त्यागी यानी नवाजुद्दीन सिद्दीकी (Nawazuddin Siddiqui) और अनिता यानी आथिया शेट्टी (Athiya Shetty) के इर्द गिर्द घूमती है.

'मोतीचूर चकनाचूर' छोटे शहर और उसकी जिंदगी को बहुत ही आसानी से दर्शकों के सामने पेश करती हैवहीं पुष्पिंदर 36 साल का एक कुंवारा लड़का है, जो दुबई से लौटता है और किसी भी कीमत पर बस शादी करना चाहता है. लेकिन पुष्पिंदर को कोई लड़की नहीं मिल पाती. हालांकि जब ऐनी को पता चलता है कि पुष्पिंदर दुबई से लौटा है तो ऐनी पुष्पिंदर को अपने प्यार के जाल में इसलिए फंसाती है कि वो उसके साथ दुबई जा सके. इसके बाद ऐनी पुष्पिंदर से शादी कर लेती है. भोला-भाला इंसान पुष्पिंदर ये नहीं जान पाता कि ऐनी को उससे प्यार नहीं है और वो बस दुबई जाने की खातिर उससे शादी कर रही है. लेकिन कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब सबको पता चलता है कि पुष्पिंदर को दुबई की नौकरी से निकाल दिया गया है. इसके बाद कहानी क्या करवट लेती है, क्या ऐनी दुबई जा पाती है नहीं? दोनों की शादी टिक पाती है या नहीं? इसके लिए आपको फिल्म देखनी होगी.36 साल की उम्र में अकेलेपन को दूर करने की तड़प को नवाज़ुद्दीन अपने कैरेक्टर में बहुत ही गहराई के साथ लेकर आए हैं

मोतीचूर चकनाचूर' एक कॉमेडी फिल्म है लेकिन कॉमेडी के नाम पर इस फिल्म में घिसे-पिटे जोक्स के अलावा और कुछ भी नहीं है. फिल्म भोपाल में शूट की गई है डायलॉग दमदार नहीं हैं. फिल्म और फिल्म के डायलॉग आपके अरमानों को चकनाचूर कर सकते हैं.नवाजुद्दीन सिद्दीकी और आथिया शेट्टी की दिलचस्प केमेस्ट्री वाली 'मोतीचूर चकनाचूर' वन टाइम वॉच है. फिल्म में हंसाने की भी कोशिश बहुत ही प्यारे पलों से की गई है

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in