केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा- अजमेर दरगाह की विश्राम स्थली को बनाया जाएगा कोरोना केयर सेंटर

केंद्रीय मंत्री नकवी ने कहा- अजमेर दरगाह की विश्राम स्थली को बनाया जाएगा कोरोना केयर सेंटर

नई दिल्लीः केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि अजमेर शरीफ दरगाह से संबंधित एक बड़ी विश्राम स्थली को अस्थायी ‘कोरोना केयर सेंटर’ के तौर पर उपयोग में लाने का फैसला किया गया है.

अजमेर दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने नकवी को पत्र लिखकर की थी मांगः
दरअसल, अजमेर दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने नकवी को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि अजमेर के कायड़ में स्थित विश्राम स्थली को ‘कोरोना केयर सेंटर’ के इस्तेमाल करने की अनुमति दी जाए. नकवी ने मंगलवार को इस प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की. यह विश्राम स्थली 150 बीघे में बनी है.

मानवीय कल्याण के काम में दरगाह कमेटी के प्रस्ताव को दी स्वीकृतिः
अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने अमीन पठान को पत्र लिखकर कहा कि मुझे यह जानकार खुशी हुई कि मंत्रालय के अतर्गत कार्य कर रही दरगाह कमेटी ने इस संकट की घड़ी में सहयोग देना चाहती है. इस मानवीय कल्याण के काम में दरगाह कमेटी के प्रस्ताव को स्वीकृति देता हूं. आप लोग राजस्थान सरकार से तत्काल संपर्क कर वहां ‘कोरोना केयर सेंटर’ शुरू कराएं. उल्लेखनीय है कि नकवी ने सोमवार को 16 राज्यों के हज भवनों का इस्तेमाल अस्थायी ‘कोरोना केयर सेंटर’ के रूप में करने का फैसला किया था.
सोर्स भाषा

और पढ़ें