Live News »

मुस्लिम समुदाय ने शोभायात्रा पर की पुष्प वर्षा

मुस्लिम समुदाय ने शोभायात्रा पर की पुष्प वर्षा

मलारना डूंगर (सवाई माधोपुर)। उपखंड के खिरनी कस्बे में गणेश शोभायात्रा के दौरान आस-पास के गांवों से बड़ी संख्या में गणेश भक्तों का जनसैलाब उमड़ा। गणेश यात्रा को राष्ट्रीय जन संघ के जिलाध्यक्ष कानजी मीणा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यात्रा में विभिन्न प्रकार की झांकियों के साथ बड़ी संख्या में श्रद्धालु नाचते गाते गणपति बप्पा के जयकारे लगाते हुए विसर्जन स्थल तक पहुंचे।

यह शोभायात्रा चामुंडा माता मंदिर से मुस्लिम मोहल्ला, मुख्य बाजार, पंसारी मोहल्ला, गुर्जर मोहल्ला, बालाजी मंदिर होते हुए कस्बे के बड़े तालाब पर पहुंची, जहां गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया गया। वहीं गणेश विसर्जन यात्रा के दौरान मुस्लिम समाज की ओर से सांप्रदायिक सौहार्द की अनूठी मिसाल पेश की गई। जामा मस्जिद के पास मुस्लिम समुदाय के लोगों ने यात्रा पर पुष्प वर्षा कर हिंदू-मुस्लिम सौहार्द का परिचय दिया। गणेश विसर्जन यात्रा के दौरान कस्बे में जगह जगह पुलिस जाब्ता तैनात रहा।


मलारना डूंगर से संवाददाता मोहम्मद राशिद की खबर 

और पढ़ें

Most Related Stories

42 घंटे के बाद मिला बनास नदी में बहे युवक का शव

 42 घंटे के बाद मिला बनास नदी में बहे युवक का शव

मलारना डूंगर(सवाई माधोपुर): मलारना डूंगर थाना क्षेत्र के भूरी पहाड़ी बनास नदी की रपट पर रविवार शाम पानी के तेज बहाव में बहे बाइक सवार युवक का आज तीसरे दिन 42 घंटे के बाद बनास नदी में शव मिला. कल शाम अंधेरा होने के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन रोकना पड़ा. आज सुबह पुलिस और प्रशासन ने एक बार फिर एसडीआरएफ की टीम और स्थानीय गोताखोरों के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन जारी किया. जहां एसडीआरएफ की टीम को झाड़ियों में फंसे युवक का शव  मिला. कड़ी मशक्कत के बाद बनास में बहे मृतक के शव को एसडीआरएफ की टीम ने निकाला.

बाइक लोकेशन के आधार पर किया रेस्क्यू ऑपरेशन: 
पुलिस ने मृतक बनी सिंह निवासी जोडली थाना सपोटरा का पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया. गौरतलब है कि रविवार शाम 4 बजे बनास नदी में बाइक सहित बहे युवक की बाइक कल बनास नदी में रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान मिली. बाइक लोकेशन के आधार पर एसडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू किया जिस पर आज एसडीआरएफ की टीम को सफलता मिली. उधर घटनास्थल करौली और सवाई माधोपुर जिले की सीमा पर होने से मलारना डूंगर पुलिस के साथ खंडार एसडीएम, सपोटरा पुलिस और केलादेवी ग्रामीण पुलिस उप अधीक्षक मौके पर रहे. 

बनास नदी में बहे बाइक सवार युवक का दूसरे दिन भी नहीं लगा कोई सुराग

बनास नदी में बहे बाइक सवार युवक का दूसरे दिन भी नहीं लगा कोई सुराग

मलारना डूंगर(सवाई माधोपुर): मलारना डूंगर थाना क्षेत्र के भूरी पहाड़ी बनास नदी की रपट पर रविवार शाम पानी के तेज बहाव में बहे बाइक सवार युवक का आज दूसरे दिन भी कोई सुराग नहीं लगा. रविवार शाम पुलिस ने ग्रामीणों की सहायता से युवक को ढूंढने का प्रयास किया. मगर सफलता नहीं मिली. पुलिस ने आज सुबह एक बार फिर एसडीआरएफ की टीम के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन जारी किया. मगर दोपहर तक युवक का कोई पता नहीं लगा. हालांकि मोटरसाइकिल बनास नदी में मिल गई.

बाइक सवार सवाई माधोपर से जा रहा था अपने गांव: 
उधर सपोटरा पुलिस के साथ केलादेवी ग्रामीण पुलिस उपाधीक्षक व मलारना स्टेशन पुलिस सहित खंडार एसडीएम गिरदावर और पटवारी मौके पर एसडीआरएफ की टीम और ग्रामीण गोताखोरों के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन कर युवक को ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं. गौरतलब है कि रविवार शाम बनी सिंह मीणा सवाई माधोपुर से बाइक पर सवार होकर अपने गांव जोड़ली जा रहा था. अचानक भूरी पहाड़ी बनास नदी की रपट पर पानी के तेज बहाव में बनी सिंह बाइक सहित बनास नदी में बह गया. 

Open Covid-19