बीजेपी की दूसरी लिस्ट में भी नाम नहीं होने पर मुस्लिमों ने बनाई रणनीति 

Tanveer Ahmed Published Date 2018/11/14 09:24

जयपुर। राजस्थान में भाजपा की ओर से एक भी टिकट नहीं मिलने और कांग्रेस के ढुलमुल रवैये से चिंतित शहर के मुस्लिम आज बुधवार को एक जाजम पर इकट्ठे हुए। राजस्थान मुस्लिम फोरम के नेतृत्व में घाटगेट स्थित दरगाह आदमशा में जुटे मुसलमानों ने फैसला लिया कि जहां मुस्लिम उम्मीदवार हो, उसे जिताएंगे, जहां न हो, वहां उम्मीदवार खड़ा करेंगे और वोट काटने के लिए चुनाव मैदान में उतरे मुसलमानों का बायकॉट किया जाएगा। इस बैठक में मुस्लिम समाज के विभिन्न वर्क, मसलकों के लोगों समेत कुल 17 तंजीमों ने शिरकत की और प्रदेश में किसी भी सूरत में मुस्लिम उम्मीदवार को जिताने का आह्वान किया। 

टिकट बंटावारे में सियासी रहनुमाई में पीछे धकेले जाने से नाराज मुस्लिम संगठनों को अब एक जुट किया जा रहा है, पहले 17 तंजीमों के साथ में राजस्थान मुस्लिम फोरम का गठन किया गया था अब इसी के बैनर तले समाज के मसलकी झगड़े भुलकर सभी को एक जाजम पर लाने की शुरूआत की गई है, इसी दिशा में एक बैठक आज जिम्मेदारों की हुई। जिसमें तंजीमों के अध्यक्ष, रिटायर्ड अधिकारी, प्राफेसर, बिजनेसमैन और समाज के जिम्मेदार लोगों ने इसमें शिरकत की। बैठक में राजस्थान में सियासी पार्टियों की  ओर से नजर अंदाज किये जाने पर नाराजगी जाहिर की गई, साथ ही इस बात पर जोर दिया गया कि मुसलमान एकजुट होकर वोट करें। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

दीया का राजनीतिक भविष्य ?, राज्यपाल ने ये क्या कह दिया ? #ElectionExpress2019

दिल्ली में गिरफ्तार हुआ आईएसआई एजेंट | Breaking
KESARI WEEKEND BOX OFFICE COLLECTION | FIRST INDIA NEWS^
सोनिया गांधी के आवास पर CEC की बैठक
जेट एयरवेज के चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी ने बोर्ड की सदस्यता से दिया इस्तीफा
राहुल गाँधी की घोषणा \'हर गरीब को मिलेंगे 72 हजार रुपये\'
कांग्रेस ने जारी की 40 स्टार प्रचारकों की सूची, सूची में गहलोत, पायलट और विश्वेन्द्र सिंह शामिल
दिल्ली में कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक संपन्न, कई अहम मुद्दों को लेकर हुई चर्चा