Live News »

CAA हिंसा मामले में मानवाधिकार आयोग ने यूपी के डीजीपी को भेजा नोटिस

CAA हिंसा मामले में मानवाधिकार आयोग ने यूपी के डीजीपी को भेजा नोटिस

लखनऊ: नागरिकता कानून के खिलाफ देशभर में बवाल जारी है. कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं. वहीं हिंसक प्रदर्शन से उत्तर प्रदेश सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है. इसी बीच सीएए के विरोध में बीते दिनों उत्तर प्रदेश के 22 जिलों में हुए हिंसा मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी को एक नोटिस जारी किया है, जिसमें चार हफ्ते के भीतर यूपी में राज्य प्राधिकरणों द्वारा मानवाधिकारों के उल्लंघन की घटनाओं पर रिपोर्ट मांगी है. 

दरअसल हिंसा और मौत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के वकीलों का एक समूह आयोग पहुंचा था. एनएचआरसी ने डीजीपी से इंटरनेट सेवाएं बंद करने पर भी रिपोर्ट मांगी है. कानून को लेकर उत्तर प्रदेश में 10 दिसंबर के बाद से ही विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. 15 दिसंबर को अलीगढ़ में एएमयू में जमकर हिंसा हुई. इसके बाद मऊ, लखनऊ और फिर हिंसा की चिंगारी ने 22 जिलों को अपनी चपेट में ले लिया. आगजनी, तोड़फोड़, पथराव, फायरिंग में 18 लोगों की जान गई. 
 

और पढ़ें

Most Related Stories

नर्सों के साथ अभद्रता करने वाले जमातियों पर NSA लगाने का आदेश, CM योगी बोले- ये मानवता के दुश्मन, छोड़ेंगे नहीं

नर्सों के साथ अभद्रता करने वाले जमातियों पर NSA लगाने का आदेश, CM योगी बोले- ये मानवता के दुश्मन, छोड़ेंगे नहीं

लखनऊ: सीएम योगी आदित्यनाथ ने नर्सों की अभद्रता के बाद बड़ा फैसला लिया है. गाजियाबाद के जिला एमएमजी अस्पताल में हुई घटना के बाद आरोपियों पर रासुका (NSA) लगाने का आदेश दिया है. ग़ाज़ियाबाद की घटना पर यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये ना क़ानून को मानेंगे, ना व्यवस्था को मानेंगे, ये मानवता के दुश्मन हैं, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि महिला स्वास्थ्यकर्मियों के साथ जो किया है, वह जघन्य अपराध है और इन पर रासुका (एनएसए) लगाया जा रहा है. हम इन्हें छोड़ेंगे नहीं. 

Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा पहुंचा 161, उदयपुर में तीन नए मरीज आए सामने 

तबलीगी जमात के लोगों के लिए अब केवल पुरूष कर्मचारी ही तैनात रहेंगे:
इसके साथ तबलीगी जमात के लोगों की चिकित्सा और सुरक्षा में महिला स्वास्थ्यकर्मी और महिला पुलिसकर्मियों को नहीं लगाने का फैसला किया गया है. अब केवल पुरूष कर्मचारी ही तैनात रहेंगे. बता दें कि इससे पहले स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला करने वालों पर मध्य प्रदेश सरकार ने भी बड़ी कार्रवाई की. उन सभी आरोपियों पर रासुका लगाई गई है. 

देश के 1500 शहरों के काजी देंगे कोरोना से बचाव का संदेश, चीफ काजी खालिद उस्मानी ने की पहल 

क्या है मामला: 
दरअसल, गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल की नर्सों ने अस्पताल में भर्ती कराए गए जमाती मरीजों पर गंभीर आरोप लगाए गए हैं. उन पर अस्पताल परिसर में बिना पैंट नग्न घूमने, नर्सों के साथ छेड़छाड़ और अश्लील इशारे करने, अस्पताल स्टाफ से बीड़ी सिगरेट मांगने के भी आरोप हैं. मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने डीएम, एसएसपी और स्थानीय पुलिस को इसकी लिखित शिकायत दी, जिसके बाद यूपी सरकार ने यह बड़ा फैसला लिया.

Coronavirus Updates: उत्तर प्रदेश में कोरोना से 25 साल के युवक की मौत, देशभर में मरीजों की संख्या 1700 के पार

Coronavirus Updates:  उत्तर प्रदेश में कोरोना से 25 साल के युवक की मौत, देशभर में मरीजों की संख्या 1700 के पार

लखनऊ: देश-दुनिया में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. देश में COVID-19 से संक्रमित लोगों की संख्या 1700 से पार हो गई है. मंगलवार को तमिलनाडु में 55 नए मामले आए हैं, जिसमें से 50 लोगों ने दिल्ली निजामुद्दीन मरकज कार्यक्रम में भाग लिया था. वहीं यूपी में भी कोरोना वायरस के चलते पहली मौत हो गई है. गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल में 25 साल के युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई. मरने के बाद आई KGMU की जांच रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजिटिव मिला है. यह लड़का बस्ती का रहने वाला है. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: पिछले 12 घंटे में राजस्थान में नहीं आया कोई नया पॉजिटिव केस, भीलवाड़ा से राहत की खबर  

मरने के बाद आई रिपोर्ट में पॉजिटिव मिले से मचा हड़कंप:
जानकारी के अनुसार यह युवक 28 मार्च को बस्ती के अस्पताल में भर्ती हुआ था. इसके बाद उसे 29 मार्च को गोरखपुर के मेडिकल कॉलेज में रेफर किया गया. यहां उसका इलाज चल रहा था. 30 मार्च को सुबह 8 बजे उसकी मौत हो गई. इसके बाद 30 मार्च को ही उसका बस्ती में अंतिम संस्कार कर दिया गया. लेकिन अब मरने के बाद आई KGMU की जांच रिपोर्ट में वह पॉजिटव पाया गया है. इसके बाद हड़कंप मच गया है. बस्ती पुलिस ने लॉकडाउन को सख्ती से पालन करने का निर्देश जारी किया है. इसके साथ ही इस युवक के संपर्क में आए लोगों की शिनाख्त की जा रही है.

VIDEO- WHO ने की कोरोना वायरस की हवा में मौजूदगी की पुष्टि, अपने पहले के बयान को बदला 

इतनी कम उम्र में मौत का यह पहला मामला:
वहीं इसमे सबसे बड़ी चौंकाने वाली बात तो यह है कि कोरोना वायरस की चपेट में आकर इतनी कम उम्र में मौत का यह पहला मामला बताया जा रहा है. इससे पहले मध्य प्रदेश में 35 साल के युवक की मौत हुई थी. वहीं गोरखपुर में 25 वर्षीय युवक की मौत के बाद देश में मरने वालों का आंकड़ा 50 हो गया है. वहीं कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1700 से अधिक हो गया है. 
 

Coronavirus Updates: योगी सरकार ने मनरेगा मजदूरों के खाते में भेजे पैसे, दी बड़ी राहत

Coronavirus Updates: योगी सरकार ने मनरेगा मजदूरों के खाते में भेजे पैसे, दी बड़ी राहत

लखनऊ: कोरोना वायरस के चलते पूरा देश लॉकडाउन है. कई जगहों पर बड़ी संख्या में मजदूरों का पलायन जारी है. ऐसे में मौजूदा स्थिति में इनके खाने-पीने के लाले पड़े हुए हैं. इस संकट के समय में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मजदूरों को 1-1 हजार रुपये देने का फैसला किया है. सोमवार को प्रदेश के करीब 27 लाख मनरेगा मजदूरों के खाते में सीएम योगी ने पैसे भेजे हैं. इससे पहले 20 लाख मजदूरों को एक-एक हजार रुपये की सहायता राशि दी गई थी. 

VIDEO: जोधपुर में एक और कोरोना पॉजिटिव आया सामने, कल ईरान से आए 275 लोगों में शामिल था ये व्यक्ति 

योगी ने कुल 611 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए:
लॉकडाउन के बीच यूपी के मनरेगा मजदूरों के लिए राहत भरी खबर है.  प्रदेश के 27.5 लाख मनरेगा मजदूरों के खाते में आज सीएम योगी ने कुल 611 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए. इसके साथ ही सीएम योगी ने मजदूरों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बात भी की. इस दौरान उन्होंने खुद लोगों को सरकारी योजनाओं के बारे में बताया. 

अजमेर में एक ही परिवार के 4 सदस्यों को रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव, प्रशासन अलर्ट मोड़ पर 

राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 80:
बता दें कि पिछले 9 दिनों से लखनऊ में कोई भी संक्रमित मरीज नहीं पाया गया है. हालांकि राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 80 है, जो चिंता का विषय है. वहीं प्रशासन भी लगातार संक्रमण की चेन तोड़ने का लगातार प्रयास कर रहा है.  लोगों से भी हर वक्त घरों में रहने की अपील की जा रही है. 

Corona Virus से पीड़ित सिंगर कनिका कपूर की चौथी रिपोर्ट भी आई पॉजिटिव

Corona Virus से पीड़ित सिंगर कनिका कपूर की चौथी रिपोर्ट भी आई पॉजिटिव

लखनऊ: बॉलिवुड की मशहूर सिंगर कनिका कपूर की चौथी कोरोना रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. इससे पहले कनिका कपूर का तीसरा मेडिकल टेस्ट भी पॉजिटिव आया है. जानकारी अनुसार कनिका कपूर इन दिनों लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट इंस्टीट्यूट में भर्ती हैं. सिंगर कनिका कपूर 20 मार्च को अस्पताल में भर्ती हुई थीं.

सलमान खान ने फिर दिखाया बड़ा दिल, फिल्म इंडस्ट्री के 25,000 मजदूरों की मदद के आए आगे 

19 मार्च को लिया था सैंपल:
तबीयत खराब होने पर 19 मार्च को कनिका कपूर का उनके आवास से सैंपल कलेक्शन किया गया. उसके बाद 20 मार्च को जांच में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई. इसके बाद लखनऊ शहर में हड़कंप मच गया. उनके संपर्क में आए मंत्री, सांसद व कई लोग अभी भी हो क्वारंटाइन में हैं. कनिका की आज आई चौथी रिपोर्ट में भी उनके शरीर में वायरस की पुष्टि हुई है.

भरतपुर में सड़कों पर पसरा सन्नाटा, तो कई जगहों पर लॉकडाउन का पालन नहीं करने पर पुलिस ने दिखाई सख्ती

9 मार्च को लंदन से लौटी थी कनिका:
बता दें कि कनिका कपूर के अलावा उनके संपर्क में आए 262 लोगों में से 60 लोगों की मेडिकल रिपोर्ट नेगेटिव आई है. सिंगर कनिका कपूर बीत 9 मार्च को लंदन से मुंबई लौटी थीं, इसके दो दिन बाद वह लखनऊ में गईं और कई पार्टियों में शामिल हुई. कनिका कपूर की लापरवाही को लेकर यूपी में उन पर कई एफआईआर भी दर्ज की गई है.
 

Coronavirus Update: UP में कोरोना वायरस के 42 मामले, पुलिस ने लोगों से घर में रहने की अपील की

Coronavirus Update: UP में कोरोना वायरस के 42 मामले, पुलिस ने लोगों से घर में रहने की अपील की

लखनऊ: यूपी में कोरोना वायरस के आज 5 नए मामले सामने आए है. मरीजों की संख्या अब बढ़कर 42 हो गई है. नोएडा में आज कोरोना के तीन नए पॉजिटिव मामले सामने आए है. लखनऊ में पुलिस दूसरे दिन सख्ती से लॉकडाउन का पालन करा रही है. वहीं यूपी में सबसे बड़ी समस्या मजदूरों के पलायन को लेकर है.

VIDEO-Corona Updates: खुशी और गम दोनों लेकर आया भीलवाड़ा में आज का दिन 

मजदूरों के सभी इंतजाम किए जा रहे:
पुलिस के अनुसार लॉकडाउन के बाद मजदूर अपने घर जा रहे हैं. यह हमारे लिए बड़ा चैलेंज है. हम लोगों को समझा रहे हैं कि जो लोग जहां हैं, वहीं रहें. घर के अंदर रहें और सुरक्षित रहें. उनके सभी इंतजाम किए जा रहे हैं. कल सभी समस्याओं का निपटारा  कर लिया गया है.

कोरोना को लेकर जल्द टलेगा खतरा, काली माता अखाड़े के पांडुलिपि में उल्लेख 

अब लोग जागरूक हो गए हैं:
पुलिस ने मजदूरों से अपील की है कि जहां रह रहे हैं वहीं रहें. हम आपके लिए जरूरी सामान पहुंचा रहे हैं. पुलिस के अनुसार पहले तो लॉकडाउन को लेकर हमे शक्ति करनी पड़ी लेकिन अब लोग जागरूक हो गए हैं. अब घरों से बाहर उन्हीं लोगों को निकलने दिया जा रहा है जो आवश्यक सेवाओं के दायरे में आती हैं. इसके साथ ही लोगों के पास की दुकानों पर सभी जरूरत के सामान पहुंचा दिए गए हैं. हम लोगों की मदद कर रहे हैं.
 

Coronavirus Updates: लखनऊ में सीएए-एनआरसी विरोधी धरना फिलहाल स्थगित, देशहित में लिया निर्णय

Coronavirus Updates: लखनऊ में सीएए-एनआरसी विरोधी धरना फिलहाल स्थगित, देशहित में लिया निर्णय

लखनऊ: कोरोना वायरस के चलते एनआरसी व नागरिकता कानून के विरोध में लखनऊ के घंटाघर में पिछले 66 दिनों से चल रहा प्रदर्शन अचानक स्थगित कर दिया गया है. प्रदर्शकारी महिलाओं ने पुलिस आयुक्त को लिखित में सूचना देकर धरने को फिलहाल स्थगित किया है. 

Coronavirus Updates: लॉकडाउन का पालन नहीं करने पर होगा एक्शन, पीएम मोदी ने भी किया ट्वीट 

सांकेतिक प्रदर्शन के लिए छोड़े दुपट्टे:
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संबंध में सरकार द्वारा दिए गए लॉकडाउन के आदेश की अवधि समाप्त होने पर सभी महिलाएं फिर से उसी जगह पर प्रदर्शन चालू रखेंगी. हालांकि धरना स्थल खाली करने के बाद भी महिलाओं ने सांकेतिक प्रदर्शन को चालू रखते हुए वहां अपने दुपट्टे छोड़ दिए हैं. 

Coronavirus Updates: शराब कारोबारी सरकार के आदेशों का कर रहे खुला उल्लंघन, नहीं आ रहे बाज 

देशहित में लिया फैसला:
17 जनवरी से सीएए और एनआरसी का विरोध कर रही महिलाओं ने रविवार रात तीन बजे धरना स्थगित करने का फैसला किया, जिसके बाद पुलिस की निगरानी में सभी को घर पहुंचाया. धरने पर बैठी महिलाओं ने कहा कि अगर हम में से किसी को कोरोना जैसी बीमारी हो जाती, तो हमारा धरना हमेशा के लिए बदनाम हो जाता. इसलिए हमने देशहित में यह निर्णय लिया है. 
 

लखनऊ में दो नए मरीज मिलने से यूपी में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 19 हुई

लखनऊ में दो नए मरीज मिलने से यूपी में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 19 हुई

लखनऊ(यूपी): जिले में आज कोरोना वायरस से संक्रमित दो और मरीजों की पुष्टि हुई है. इन दो मरीजों के सामने आने से प्रदेश में मरीजों की संख्या 19 हो गई है. इनमें आगरा के आठ, गाजियाबाद के दो, नोएडा के चार, लखनऊ के पांच मरीज हैं. दोनों मरीजों को फिलहाल केजीएमयू में भर्ती कराया गया है.

VIDEO- Coronavirus Updates: झुंझुनूं के प्रशासन के भरोसे मत रहिए! कर्फ्यू वाले एरिया में लगा रहा जमघट 

घूमकर लौटे थे दोनों मरीज:
जानकारी के अनुसार निशातगंज निवासी मरीज कुछ दिनों पहले यूके से लौटा था और लखीमपुर खीरी निवासी मरीज टर्की से घूमकर आया था. वापस आने के बाद दोनों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए थे, जिसके बाद रिपोर्ट आने पर दोनों को संक्रमित पाया गया है. 

जयपुर में मिले कोरोना के पांच संदिग्ध, एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग के दौरान हुई पहचान 

प्रशासन भी चौकन्ना हो गया:
वहीं संक्रमित के बारे में जानकारी मिलने पर प्रशासन भी चौकन्ना हो गया है. मरीज जिस इलाके में मिले है वहां स्वास्थ्य विभाग की एक टीमे रवाना कर दी गई है, जो इस बात की जांच करेगी कि उक्त मरीज किन लोगों से संपर्क में आया था.  इससे पहले लखनऊ में आठ मार्च को कनाडा से आई महिला डॉक्टर पॉजिटिव पाई गई थी. इसके बाद उसके संपर्क में आया एक रिश्तेदार भी पॉजिटिव पाया गया था. 

कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर प्रियंका गांधी ने साधा योगी सरकार पर निशाना, यूपी में बच्चों के साथ अपराध की सबसे ज्यादा घटनाएं

कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर प्रियंका गांधी ने साधा योगी सरकार पर निशाना, यूपी में बच्चों के साथ अपराध की सबसे ज्यादा घटनाएं

लखनऊ: प्रियंका गांधी ने एक बार फिर कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर योगी सरकार पर हमला बोला है. प्रियंका ने ट्वीट करते हुए यूपी की बीजेपी सरकार पर हमला बोला है. उन्होंने उन्नाव में बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना का जिक्र करते हुए ट्वीट किया और लिखा कि यूपी की बीजेपी सरकार में बच्चों के साथ अपराध की सबसे ज्यादा घटनाएं घटी हैं. 

आबकारी लाइसेंस आवेदन प्रक्रिया संपन्न, कल सुबह 11बजे जिला मुख्यालयों पर निकाली जाएगी लॉटरी 

आखिर कब तक ऐसे चलेगा?
प्रियंका ने सवाल करते हुए कहा कि क्या सरकार पर इन घटनाओं का कोई असर नहीं पड़ता? नौ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ और इलाज के दौरान वो नहीं रही. आखिर कब तक ऐसे चलेगा. बता दें कि यूपी के उन्नाव जिले में नौ साल की मासूम बच्ची को दरिंदे ने हवस का शिकार बनाया. विरोध करने पर आरोपी ने मासूम का गला दबा दिया. उसके बाद पीड़िता ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लोकर जांच शुरू कर दी है. 

अंधविश्वास के चलते 4 माह के मासूम को गर्म सलाखों से दागा, हालत गंभीर 

मंगलवार शाम अज्ञात व्यक्ति ने किया दुष्कर्म: 
यह घटना उन्नाव जिले के बिहार थाना इलाके के एक गांव की है जहां कक्षा पांच में पढ़ने वाली नौ साल की बच्ची से मंगलवार शाम अज्ञात व्यक्ति ने दुष्कर्म किया. शोर मचाने पर आरोपी ने उसका गला दबा दिया. उसके बाद बच्ची के बेहोश होने पर आरोपी उसे गांव के बाहर सुनसान जगह पर फेंककर फरार हो गया. उसके बाद ग्रामीणों ने मासूम को बेहोस ही लात में पड़ा देखकर पुलिस को सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्ची को अस्पताल पहुंचाया जहां उसकी मौत हो गई. 
 

Open Covid-19