राष्ट्रीय आवास बैंक ने पीएमएवाई के तहत 30 हजार करोड़ रुपये की ब्याज सहायता कराई उपलब्ध 

राष्ट्रीय आवास बैंक ने पीएमएवाई के तहत 30 हजार करोड़ रुपये की ब्याज सहायता कराई उपलब्ध 

राष्ट्रीय आवास बैंक ने पीएमएवाई के तहत 30 हजार करोड़ रुपये की ब्याज सहायता कराई उपलब्ध 

मुंबई: राष्ट्रीय आवास बैंक (एनएचबी) ने कहा है कि उसने प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत सस्ते आवास रिण के लेनदारों को ब्याज सहायता के तौर पर अब तक 30,000 करोड़ रुपये वितरित किये हैं. यह योजना जून 2016 में शुरू हुई थी.

पीएमएवाई के तहत सस्ते आवास रिण के लिये तीन प्रतिशत अंक तक की ब्याज सब्सिडी दी जाती है. हालांकि, इसमें प्रत्येक पात्र कर्ज लेनदार के लिये एक बारगी सब्सिडी को अधिकतम 2.35 लाख रुपये रखा गया है. यह योजना जून 2016 से लागू हुई और इसे राष्ट्रीय आवास मिशन के एक हिस्से के तौर पर शुरू किया गया.

 

राष्ट्रीय आवास बैंक के साथ ही हुडको और भारतीय स्टेट बैंक को इस योजना के तहत कर्जदाता संस्थान को सब्सिडी जारी करने और उसकी प्रगति पर निगरानी रखने के लिये शीर्ष केन्द्रीय एजेंसी नियुक्त किया गया है. एनएचबी के कार्यकारी निदेशक राहुल भावे ने एक कार्यक्रम में कहा कि सरकार की योजना के हिस्से के तौर पर पात्र कर्ज लेनदारों को पिछले पांच साल के दौरान हमने 30,000 करोड़ रुपये की सब्सिडी उपलब्ध कराई है. (भाषा) 

और पढ़ें