जयपुर देश में नहीं होगा 11 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन, कोरोना के चलते जस्टिस एनवी रमन्ना ने लिया फैसला

देश में नहीं होगा 11 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन, कोरोना के चलते जस्टिस एनवी रमन्ना ने लिया फैसला

देश में नहीं होगा 11 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन, कोरोना के चलते जस्टिस एनवी रमन्ना ने लिया फैसला

जयपुर: देश में कारोना वायरस के वर्तमान हालात को देखते हुए 11 जुलाई को देशभर की अदालतों में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत को रद्द कर दिया गया है.नालसा के एक्जीक्यूटीव चेयरमैन जस्टिस एन वी रमन्ना के निर्देश पर ये फैसला लिया गया है. वर्ष 2020 में अब तक सिर्फ एक राष्ट्रीय लोक अदालत का ही आयोजन हो पाया है.

देशभर में अनलॉक-1 में बाजारों में लौटने लगी रौनक, दुकानें खुलने के साथ बाजारों में लौटने लगे ग्राहक

राष्ट्रीय लोक अदालतों का आयोजन:
इस वर्ष अप्रैल में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत को भी लॉकडाउन के चलते रद्द कर दिया गया था. ऐसे में अब वर्ष 2020 के वार्षिक कैलेण्डर के अनुसार 12 सितंबर और 12 दिसंबर को राष्ट्रीय लोक अदालतों का आयोजन किया जाएगा.वहीं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरणों को छोटे स्तर पर लोक अदालतों के कार्य जारी रखने की छूट दी गई है. 

साल 2019 में  52.93 लाख केस हुए थे निस्तारित:
राष्ट्रीय लोक अदालतों के आयोजन में वर्ष 2019 काफी सफल माना गया. वर्ष 2019 में कुल चार राष्ट्रीय लोक अदालतों का आयोजन किया गया था जिसमें देशभर की अदालतों में 52.93 लाख प्रकरणों का निस्तारण किया गया.इन प्रकरणों में 26,16,790 पेडिंग प्रकरण और 26,76,483 प्री लिटिगेशन के प्रकरण शामिल है.8 फरवरी 2020 को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में 11.25 लाख प्रकरणों का निस्तारण किया गया था.इनमें करीब 4.81 लाख पेडिंग प्रकरणों का निस्तारण हुआ था.

गुजरात राज्यसभा चुनाव को लेकर बड़ा अपडेट, कांग्रेस विधायकों को फिर एक बार राजस्थान में किया गया शिफ्ट 

और पढ़ें