चंडीगढ़ नवजोत सिंह सिद्धू ने मुख्यमंत्री पद का चेहरा चुनने के वास्ते आप के अभियान को बताया घोटाला

नवजोत सिंह सिद्धू ने मुख्यमंत्री पद का चेहरा चुनने के वास्ते आप के अभियान को बताया घोटाला

नवजोत सिंह सिद्धू ने मुख्यमंत्री पद का चेहरा चुनने के वास्ते आप के अभियान को बताया घोटाला

चंडीगढ़: कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने राज्य विधानसभा चुनावों के लिए अपने मुख्यमंत्री पद के चेहरे का चयन करने के लिए आम आदमी पार्टी (आप) के सर्वेक्षण को सोमवार को एक घोटाला और एक कपटपूर्ण कृत्य करार दिया. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने इसके खिलाफ निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज कराई है. सिद्धू ने आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल पर तीखा हमला करते हुए उन्हें चालबाज और पाखंडी कहा.

सिद्धू ने यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए निर्वाचन आयोग से फर्जी अभियान चलाने के लिए आप के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने का अनुरोध किया. आप ने पिछले सप्ताह अपनी पंजाब इकाई के प्रमुख भगवंत मान को अपना मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित किया था. केजरीवाल ने दावा किया था कि उन्हें जनता चुनेगी अपना सीएम अभियान के तहत 13 से 17 जनवरी तक 21.59 लाख से अधिक प्रतिक्रियाएं मिली थीं और 93.3 प्रतिशत लोगों ने भगवंत मान का नाम दिया था.

 

केजरीवाल ने कहा था कि सिद्धू को 3.6 फीसदी वोट मिले. सिद्धू ने कहा कि इतने सारे कॉल एक निजी नंबर पर कुछ दिनों में प्राप्त नहीं हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि अगर हम इस आंकड़े को गणितीय गणनाओं के हिसाब से देखने की कोशिश करते हैं, तो इसका कोई मतलब नहीं है. आमतौर पर, इस तरह की कॉल में कम से कम 15 सेकंड लगते हैं, फिर एक दिन में केवल 5,760 कॉल प्राप्त की जा सकती हैं और चार दिनों में 23,040 कॉल ही प्राप्त हो सकेंगी.

उन्होंने कहा कि फर्जी खबरों को फैलाना और दुष्प्रचार पैदा करने का यह तरीका आदर्श आचार संहिता का पूर्ण उल्लंघन है और भारत के निर्वाचन आयोग को इस पर कड़ा संज्ञान लेना चाहिए.उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की है कि केजरीवाल किस तरह से पंजाब के लोगों को अपनी ‘गंदी चालों’ से ‘बेवकूफ’ बनाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि आप का यह अभियान लोगों को बेवकूफ बनाने की चाल के अलावा और कुछ नहीं है. निर्वाचन आयोग को दी गई शिकायत में सिद्धू ने लिखा है कि आप को लगभग सात लाख व्हाट्सएप संदेश, 2.50 लाख वॉयस संदेश और लगभग आठ लाख वॉयस कॉल मिले. सिद्धू ने निर्वाचन आयोग से इस फर्जी अभियान को चलाने के लिए आप के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने का आग्रह किया.(भाषा) 

और पढ़ें