मुंबई कोविड-19 : नौसेना का जहाज कतर से 40 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर पहुंचा मुंबई

कोविड-19 : नौसेना का जहाज कतर से 40 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर पहुंचा मुंबई

कोविड-19 : नौसेना का जहाज कतर से 40 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर पहुंचा मुंबई

मुंबई: भारतीय नौसेना का जहाज त्रिखंड कतर से 40 मीट्रिक टन चिकित्सकीय ऑक्सीजन लेकर सोमवार को मुंबई पहुंचा है. आधिकारिक बयान के अनुसार, यह खेप महामारी के खिलाड़ लड़ाई में भारत का साथ देने के लिए फ्रांस के मिशन ‘ऑक्सीजन सॉलिडारिटी ब्रिज’ के तहत आई है.

पहली बार ‘फ्रेंच एयर लिक्विड’ ड्रमों को कतर से भारत लाया गयाः
बयान के अनुसार, पहली बार ‘फ्रेंच एयर लिक्विड’ ड्रमों को कतर से भारत लाया गया है. उसमें कहा गया है कि अभियान समुद्र सेतु दो के तहत भारतीय नौसेना के जहाज त्रिखंड को कतर के हमद बंदरगाह से तरल चिकित्सकीय ऑक्सीजन के क्रायोजेनेकि कंटेनर मुंबई लाने के लिए भेजा गया था. उसमें कहा गया है कि जहाज पांच मई, 2021 को कतर पहुंचा और 40 मीट्रिक टन तरल ऑक्सीजन लेकर 10 मई, 2021 को मुंबई लौटा.

फ्रांस से 600 मीट्रिक टन से ज्यादा तरल चिकित्सकीय ऑक्सीजन मिलने की संभावनाः
कतर में भारत के राजदूत डॉक्टर दीपक मित्तल के प्रयासों से शुरू भारत-फ्रांस की इस साझेदारी के तहत देश को अगले दो महीनों में 600 मीट्रिक टन से ज्यादा तरल चिकित्सकीय ऑक्सीजन मिलने की संभावना है. उसमें कहा गया है कि पहली खेप महाराष्ट्र को दी गई है. महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे और मुंबई में फ्रांस की महावाणिज्यदूत सोनिया बारबरी इस मौके पर उपस्थित थे.

ठाकरे ने नौसेना काे कहा धन्यवादः 
ठाकरे ने बाद में ट्वीट किया कि मुंबई में आज सुबह तरल चिकित्सकीय ऑक्सीजन को जहाज से उतारने का काम शुरू हो गया. महामारी के इस दौर में दोस्ती का हाथ बढ़ाने के लिए मुंबई में फ्रांस के मिशन को धन्यवाद करने के लिए मैं आईएनएस त्रिखंड गया था. मैं इस मिशन के लिए नौसेना का भी धन्यवाद करता हूं. ठाकरे ने बताया कि मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर भी मौके पर मौजूद थीं.
सोर्स भाषा

और पढ़ें