मुंबई South Vs Bollywood पर Nikamma Fame Abhimanyu Dassani ने कही बड़ी बात

South Vs Bollywood पर Nikamma Fame Abhimanyu Dassani ने कही बड़ी बात

South Vs Bollywood पर Nikamma Fame Abhimanyu Dassani ने कही बड़ी बात

मुंबई : इंडस्ट्री के हैंडसम हंक अभिमन्यु दसानी (Abhimanyu Dassani)  जल्दी अपनी फिल्म निकम्मा (Nikamma) के साथ दर्शकों के बीच आने वाले हैं. मर्द को दर्द नहीं होता से डेब्यू करने के बाद अभिमन्यु अपने अलग-अलग किरदारों के साथ दर्शकों को इंप्रेस करते आए हैं. First India Filmy के Managing Editor Ashish Tiwari ने अभिमन्यु दस्सानी और डायरेक्टर सब्बीर खान (Sabbir Khan) से बात की जहां दोनों ही साउथ वर्सेस बॉलीवुड पर अपनी राय रखते नजर आए. 

जब उनसे पूछा गया कि इस वक्त साउथ और बॉलीवुड को लेकर कई तरह की बातें चल रही है. वहीं इस वक्त मास एंटरटेनर एंड एक्शन मूवी काफी चल रही हैं. इस बारे में आप क्या कहेंगे. इस पर सब्बीर (Sabbir) ने कहा कि हम लोगों ने फिल्मों को साउथ और बॉलीवुड में डिवाइड कर दिया है. जबकि सब कुछ इंडियन सिनेमा ही है. मास एंटरटेनर फिल्म का मतलब ही वही होता है जो सबको पसंद आए पूरे देश को पसंद आए. इसलिए यह वर्ड सामने आया था मास. उन्होंने कहा कि एक समय ऐसा भी आया जब लोगों ने मेहनत करना बंद कर दिया और हर चीज वेस्ट से लेने लगे. उन्होंने कहा कि इंडियन सिनेमा अपने आप में बहुत ही खास है. वेस्ट से चीजें हमें लेनी चाहिए अगर वह अच्छी है तो लेकिन पूरी तरह से उस पर डिपेंड नहीं होना चाहिए.

जब अभिमन्यु (Abhimanyu) से इस बारे में पूछा गया कि यह जो डिफरेंस चल रहा है. इस बारे में आप क्या कहेंगे. इस पर उन्होंने कहा कि बॉउंडेशन हम खुद खड़ा कर रहे हैं. हम लोग आपके सामने जो पेश कर रहे हैं वह एक इमोशन है और मुझे नहीं लगता कि इमोशन की कोई भाषा होती है. उन्होंने कहा कि अंग्रेजी में चिल्लाओ या हिंदी में या फिर चाइनीज या तेलुगु में व्यक्ति अगर चिल्ला रहा है तो पता तो पड़ेगा ही. अभिमन्यु ने कहा कि कई बार बहुत सी कलाएं इस लैंग्वेज के डिफरेंस के कारण कहीं खो जाती है. भाषा के इस मसले पर अभिमन्यु ने और भी कई सारी बातें कही. जानने के लिए देखें पूरा इंटरव्यू.

और पढ़ें