उत्तर प्रदेश में नौ नए राजकीय मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार: योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में नौ नए राजकीय मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार: योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश में नौ नए राजकीय मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार: योगी आदित्यनाथ

देवरिया:  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि देवराहा बाबा मेडिकल कॉलेज देवरिया समेत प्रदेश में नौ नये राजकीय मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार है. योगी ने कहा कि प्रदेश के 59 जिलों में मेडिकल कॉलेज बन गये हैं . उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग और राज्य सरकार अपने संसाधनों से प्रदेश में मेडिकल कॉलेजों की श्रृंखला खड़ी कर रही है.

साढ़े चार सालों में 32 नए राजकीय मेडिकल कॉलेज बनाए गए: योगी
मुख्यमंत्री योगी शनिवार को महर्षि देवराहा बाबा मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे. उन्होंने कहा कि 1947 से 2016 तक उत्तर प्रदेश में सिर्फ 12 राजकीय मेडिकल कॉलेज थे, जबकि 2017 से 2021 के बीच महज साढ़े चार सालों में 32 नए राजकीय मेडिकल कॉलेज बनाए गए हैं. योगी ने कहा कि अब तक 59 जिलों को मेडिकल कॉलेज से आच्छादित कर दिया गया है और केंद्र सरकार के सहयोग तथा राज्य सरकार खुद के संसाधनों से प्रदेश में मेडिकल कॉलेजों की श्रृंखला खड़ी कर रही है. अगले छह माह में प्रदेश के सभी 75 जिलों में मेडिकल कॉलेज होंगे.

देवरिया में भी मेडिकल कॉलेज होगा:
एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार उन्होंने कहा कि महराजगंज, संतकबीरनगर, मऊ, बलिया जैसे जो 16 जिले शेष हैं वहां केंद्र के सहयोग से पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि पांच-सात साल पहले यह कल्पना भी नहीं की जा सकती थी कि देवरिया में भी मेडिकल कॉलेज होगा. हम आभारी हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जिन्होंने प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना प्रारंभ किया और देवरिया में भी हमें मेडिकल कॉलेज खोलने का मिला. उन्होंने कहा कि देवरिया के मेडिकल कॉलेज की लागत 208 करोड रुपए है इसमें से 155 करोड़ रुपए खर्च कर लिए गए हैं,15 दिसंबर तक सभी निर्माण कार्य पूरे हो जाएंगे. योगी ने कहा कि फैकल्टी के नियुक्ति की प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के संकटकाल में देश की आबादी के लिहाज से सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में इस वैश्विक महामारी को सफलतापूर्वक नियंत्रित किया गया और इसमें मेडिकल कॉलेजों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है. उन्होंने कहा कि विगत 4 सालों में हमने इंसेफलाइटिस पर भी प्रभावी नियंत्रण किया है और कभी देवरिया भी सर्वाधिक इंसेफेलाइटिस प्रभावित जिलों में से था और अब इससे होने वाली मौतें 95% तक कम हो गई हैं. (भाषा)

और पढ़ें