निर्भया केस: पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर बेहोश हुई दोषी अक्षय की पत्नी

निर्भया केस:  पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर बेहोश हुई दोषी अक्षय की पत्नी

नई दिल्ली: निर्भया केस के चारों दोषियों की डेथ वॉरेंट पर रोक लगाने वाली याचिका पर सुनवाई पूरी हो गई. दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया है. अब जज लंच के बाद इसपर फैसला सुनाएंगे. इसी बीच पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर दोषी अक्षय कुमार की पत्नी पुनीता देवी का ड्रामा शुरू हो गया.

 अदालतों के कम्प्लीट शटडाउन से मुख्य न्यायाधीश का इंकार, हाइकोर्ट बार ने न्यायिक कार्य नही करने का किया ऐलान 

पटियाला हाउस कोर्ट परिसर के बाहर एक गिर गई:
कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान परिसर के बाहर पुनीता देवी न रो-रोकर बुरा हाल कर लिया. इस दौरान वह पटियाला हाउस कोर्ट परिसर के बाहर एक गिर गई. एएनआई के खबर के मुताबिक महिला रोते-रोते बेहोश हो गई. वहीं दूसरी ओर दोषी अक्षय की पत्नी ने औरंगाबाद के फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी भी दाखिल की है. अर्जी में उसका कहना है कि वह विधवा बनकर नहीं जी सकती इसलिए उसे तलाक दिया जाए. साथ ही उसने कहा कि इससे उसे पूरी जिंदगी रेपिस्ट की विधवा के रूप में काटनी पड़ेगी. 

SC ने की निर्भया के दोषी की क्यूरेटिव याचिका खारिज, नहीं चला बचने का दांव 

पति को निर्दोष बताया:
वहीं इस अपनी अर्जी में पुनीता देवी ने लिखा कि मेरे पति निर्दोष हैं, ऐसे में मैं उनकी विधवा बनकर नहीं रहना चाहती, मुझे अपने पति से तलाक चाहिए. पुनीता ने अर्जी में लिखा है कि वैसे तो उसका पति निर्दोष है लेकिन न्यायालय के दृष्टिकोण से वो दोषी है. ऐसे में कानून के अनुसार बलात्कारी की पत्नी तलाक ले सकती है क्योंकि वो विधवा के रूप में गुजर-बसर नकरने के लिए तैयार नहीं है. 
 

और पढ़ें