मांगे नहीं मानने पर शिक्षकों ने दी आमरण अनशन की चेतावनी

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/12/18 03:27

भीलवाड़ा। भीलवाड़ा जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक कार्यालय के बाहर आज शिक्षक भर्ती 2012 और 2013 के रिवाईज परिणाम में चयनित शिक्षकों ने अपनी मांगों का लेकर प्रदर्शन किया। वहीं मांगे पूरी नहीं होने पर शिक्षकों ने धरना और आमरण अनशन करने की चेतावनी दी है।

शिक्षक नरपत सिंह शेखावत ने कहा कि हमें 2012 और 2013 के रिवाईज परिणाम में च‍यनित हुए थे। हम पिछले कई वर्षों से नोशनल परिलाभ, स्‍थाईकरण, एरियर और वेतन नियमितकरण को लेकर प्रदर्शन कर रहे है। इसके लिए हमने उच्‍च न्‍यायालय में याचिका दायर की थी और उसमें भी इसके लिए आदेश दे दिये गये लेकिन आज तक हमारी मांगे पूरी नहीं हुई है। 

प्रदेश के सभी जिलों में कोर्ट के आदेश पर वहां लागू भी कर दिये गये है लेकिन भीलवाडा के अधिकारियों की हठधर्मिता के कारण यह लागू नहीं हो पाया है। इसके विरोध में हम आज प्रदर्शन करके ज्ञापन दे रहे है और जब तक हमारी मांग पर कोई जवाब नहीं मिल जाता है तब तक हम यहां पर ही प्रदर्शन करते रहेगें। शेखावत ने यह भी कहा कि यदी हमारी मांगे पूरी नहीं होती है तो अनिश्चित कालिन हड़ताल करके कार्यालय के बाहर ही धरना और आमरण अनशन किया जायेगा।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in

बीजेपी से ज्यादा झूठ कोई नहीं बोलता-अखिलेश यादव

भगोड़े मेहुल चोकसी ने छोड़ी भारत की नागरिकता
देश में बढ़ी अमीरी-गरीबी के बीच की खाई
वाराणसी में आज से 15वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन का आगाज़
राहुल गांधी बोले- 100 दिन में PM मोदी के अत्याचार से मुक्ति मिल जाएगी
रैलियों का तिहरा शतक लगाएंगे मोदी
PM मोदी को CM गहलोत की \'पाती\'
ज़मीन से आसमान तक \'कोहरा\'म
loading...
">
loading...