नहीं सुलझ रहा चुनावी समीकरण, मतदाताओं की नजर कर्नल सोनाराम पर

Suryaveer Singh Tanwar Published Date 2019/04/18 01:11

जैसलमेर। लोकसभा चुनावों में भले ही 10 दिन का समय शेष रहा है, लेकिन बाड़मेर-जैसलमेर लोकसभा सीट की स्थिति अभी तक स्पष्ट नही हो पा रही है। भाजपा ने जाट वोट बैंक को साधते हुए पूर्व विधायक कैलाश चौधरी को टिकट देकर चुनावी मैदान में उतारा है तो कांग्रेस ने भाजपा छोड़कर कांग्रेस में आये पूर्व विदेश, वित्त,व रक्षा मंत्री रहे जसवंत सिंह के पुत्र मानवेन्द्र सिंह पर दांव खेलकर राजपूत वोटों के ध्रुवीकरण का प्रयास किया है। 

इस बीच मौजूदा सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी के तीखे तेवर भाजपा के लिए सिरदर्द बने हुए हैं। कर्नल सोनाराम 2014 में कांग्रेस का हाथ छोड़ भाजपा में शामिल हुए थे। भाजपा ने उन्हें टिकट देकर लोकसभा भेजा था, लेकिन अभी उनका टिकट काटकर कैलाश चौधरी को टिकट देने से कर्नल काफी नाराज चल रहे है। नाराजगी के चलते बीते दिनों सांसद ने अपने बाड़मेर आवास पर एक सभा का आयोजन कर नाराजगी जाहिर कर चुके है। 

कर्नल सोनाराम के घर वापसी की भी चल रही चर्चा
भाजपा को जब तक मेरी जरूरत थी तब तक मेरा इस्तेमाल किया और काम निकलने के बाद मुझे दूध में से मक्खी की तरह निकाल फेंका ये शब्द भाजपा के ही मौजूदा सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी के है। राजनीतिक गलियारों में खबर है कि कर्नल राहुल गांधी से मिलने के लिए दिल्ली में डेरा डालें है। कर्नल की घर वापसी की चर्चा ने भाजपा प्रत्यासी कैलाश चौधरी के साथ साथ भाजपा के आला नेताओं की सांसों को थाम रखा है। 

सोनाराम के भाई कर रहे भाजपा का प्रचार
भाजपा के लिए राहत की खबर है कि कर्नल के भाई व भाजपा जिला उपाध्यक्ष हिम्मताराम चौधरी अभी भी प्रचार में भाजपा रैलियों में दिखाई दे रहे है। उनका कहना है कि कर्नल का वापस कांग्रेस में जाना मात्र विरोधियों की तरफ से फैलाई जा रही अफवाह है और कुछ नहीं। कर्नल भाजपा में ही रहेंगे। एक तरफ कर्नल का नाराज होकर राहुल से मिलने के लिए दिल्ली में डेरा डालना व दूसरी तरफ उनके भाई का भाजपा का प्रचार करना भाजपा के साथ साथ लाखों मतदाताओं के लिए असमंजस बना हुआ है। लिहाजा ऊंट किस करवट बैठेगा ये तो समय के गर्भ में छिपा है। लेकिन अगर कर्नल की घर वापसी हुई तो निसन्देह भाजपा को बाड़मेर-जैसलमेर सीट के अलावा प्रदेश की अन्य सीटों पर भी नुकसान उठाना पड़ सकता हैं। 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in