अब पोकरण में लगाई कांस्टेबल ने फांसी, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

अब पोकरण में लगाई कांस्टेबल ने फांसी, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

अब पोकरण में लगाई कांस्टेबल ने फांसी, कारणों का नहीं हुआ खुलासा

पोकरण(जैसलमेर): प्रदेश के पुलिस विभाग में 9 दिन में रविवार को चौथे पुलिसकर्मी ने जान दे दी. पोकरण थाना क्षेत्र अंतर्गत जैसलमेर पोकरण सड़क मार्ग पर स्थित एक निजी होटल में रविवार की देर रात एक पुलिस कांस्टेबल ने होटल की तीसरी मंजिल पर स्थित एक कमरे में फांसी का फंदा लगाकर ईह लीला समाप्त कर दी. कांस्टेबल द्वारा आत्म हत्या की खबर मिलते ही शहर में सनसनी फैल गई. 

मशहूर संगीतकार वाजिद खान का निधन, लंबे समय से किडनी की बीमारी से थे ग्रसित 

शव को कब्जे में ले मामले की जांच प्रारंभ:  
वहीं जानकारी मिलते ही पोकरण सींओ मोटाराम चौधरी, थाना अधिकारी सुरेंद्र प्रजापति मौके पर पहुंचे व मौका मुआयना कर जिला पुलिस अधीक्षक डॉ किरण कंग को मामले की जानकारी दी. वह जानकारी मिलते ही डॉ किरण कंग पोकरण पहुंची व मौका मुआयना कर घटना की जानकारी परिजनों को दी. पुलिस ने कांस्टेबल मायाराम के शव को कब्जे में ले मामले की जांच प्रारंभ कर दी है. साथ ही शव का आज पोस्मार्टम किया जाएगा.

 Lockdown 5.0: Unlock 1 होने का आगाज, राजस्थान में मिलेंगी कई तरह की छूट, ये अब भी बंद रहेंगे 

जैसलमेर रोड पर स्थित एक निजी होटल में रहता था कांस्टेबल: 
गौरतलब है कि पुलिस लाइन में कार्यरत 2015 बैच के कांस्टेबल मायाराम गत कुछ दिनों से पॉवर ग्रिड कंपनी में गार्ड के रूप में कार्यरत था. बताया जा रहा है कि मायाराम कंपनी के अधिकारियों के साथ पोकरण में जैसलमेर रोड पर स्थित एक निजी होटल में रहता था. रविवार को उसने अपने कमरे में फंदा लगाकर ईहलीला समाप्त कर ली. रविवार रात सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लिया. पुलिस उपाधीक्षक मोटाराम गोदारा व थानाधिकारी सुरेंद्रकुमार प्रजापति भी मौके पर आए. पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के साथ मामले की जांच शुरू कर दी है. जानकारी के मुताबिक मृतक के पास कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. पुलिस की कार्यवाही जारी है. 

और पढ़ें