Live News »

सुप्रीम कोर्ट की तर्ज पर राजस्थान हाईकोर्ट में भी अब ई फाईलिंग, संभवतया सभी प्रकार के केसों की ई फाईलिंग करने वाला बना पहला हाईकोर्ट

सुप्रीम कोर्ट की तर्ज पर राजस्थान हाईकोर्ट में भी अब ई फाईलिंग, संभवतया सभी प्रकार के केसों की ई फाईलिंग करने वाला बना पहला हाईकोर्ट

जयपुर: कोरोना महामारी के चलते देशभर में लॉकडाउन की स्थिती के बीच भी देश की न्यायपालिका लगातार अपनी भूमिका निभा रही है.सुप्रीम कोर्ट सहित देशभर की हाईकोर्ट के साथ ही अदालतों में मोबाईल से लेकर वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए सुनवाई कि जा रही है. लेकिन अब राजस्थान हाईकोर्ट ने एक बड़ी पहल करते हुए सुप्रीम कोर्ट की तर्ज पर केसों की ई फाइलिंग की व्यवस्था कि शुरू की है.सुप्रीम कोर्ट के बाद राजस्थान हाईकोर्ट ही एक मात्र ऐसा हाईकोर्ट है जिसने ई फाईलिंग को पूर्णतया अपना लिया है.

विधिवत रूप से प्रारंभ कर दिया:
मंगलवार को हाईकोर्ट प्रशासन ने इसे विधिवत रूप से प्रारंभ कर दिया है. मुख्य न्यायाधीश इन्द्रजीत महाति के आने के बाद से ही इस प्रोजेक्ट पर लगातार कार्य किया जा रहा था.इस प्रोजेक्ट को लेकर कई बार तकनीकी टीम को सुप्रीम कोर्ट और अन्य जगहो पर भी भेजा गया था.इस नई व्यवस्था के जरिए पक्षकार और अधिवक्ता स्वयं ही हाईकोर्ट की वेबसाईट से अपने केस को दायर कर सकेगा और जरूररत पड़ने पर केस से जुडा कोई भी दस्तावेज भी स्केन कर उसमें जोड़ सकेगा या पेश कर सकेगा. इस व्यवस्था से अब पक्षकार और अधिवक्ता अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी समय और कभी भी और कही से केस फाइल कर सकेगा.

Coronavirus Updates: प्रदेश में एक ही दिन में 40 पॉजिटिव केस आये सामने, मरीजों की संख्या हुई 383

ई फाइलिंग व्यवस्था शुरू:
अब तक देश के छत्तीसगढ हाईकोर्ट में कुछ केसेज के लिए ई फाइलिंग की व्यवस्था थी लेकिन राजस्थान हाईकोर्ट ने सभी प्रकार के केसो के लिए ई फाइलिंग व्यवस्था शुरू कर दी है. साथ ही हजारो पुराने केसो में भी पक्षकार या अधिवक्ता अपने दस्तावेज पेश कर सकेंगे.इसके लिए अधिवक्ता या पक्षकार को वेबसाईट पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा. रजिस्ट्रेशन के लिए पक्षकार को मोबाईल नंबर और एडवोकेट को मोबाईल संख्या और एनरोलमेंट नंबर देानो ही इन्द्राज करने होंगे. ई फाईलिंग में मोबाईल देने से पक्षकार और अधिवक्ता को उनके केस से जुड़ा प्रत्येक अपडेट मोबाईट मैसेजे के जरिए प्राप्त होता रहेगा.

निशुल्क रहेगी पूर्ण सुविधा
राजस्थान हाईकोर्ट की वेबसाईट पर यह सुविधा 24 घण्टे 365 दिन दुनिया के किसी भी कोने से प्रयोग में ली जा सकेगी. हाईकोर्ट रजिस्ट्रार जनरल निर्मलसिंह मेड़तवाल के अनुसार ये सुविधा पूर्णतया निशुल्क रहेगा. इसके लिए ना ही अधिवक्ता और ना ही पक्षकार से किसी प्रकार का शुल्क नही लिया जायेगा. ई फाईलिंग के लिए कोई शुल्क नही लगेगा. इस प्रोजेक्ट को लेकर पिछले कई दिनो से सीपीसी रजिस्ट्रार हेमंतसिंह बघेल, ओएसडी डॉ मोहित शर्मा, तकनीकि निदेशक संजय शर्मा सहित कई कार्मिक लगातार जुटे रहे है.

कोरोना संकट से जूझ रहे राज्यों को रिजर्व बैंक की बड़ी राहत, राजस्थान ले सकेगा 13 हजार करोड़ से ज्यादा का कर्ज 

और पढ़ें

Most Related Stories

आज से शुरू होगा आईपीएल का रोमांच, चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच होगा मुकाबला

आज से शुरू होगा आईपीएल का रोमांच, चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच होगा मुकाबला

नई दिल्ली: आज से इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन की शुरुआत होने जा रही है. आईपीएल टूर्नामेंट का पहला मैच चेन्नई सुपरकिंग्स और मुंबई इंडियंस के बीच 19 सितंबर को अबुधाबी में खेला जाएगा.रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई की टीम मौजूदा चैंपियन है जबकि महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी वाली चेन्नई टीम ने सबसे ज्यादा फाइनल खेले हैं.

तीसरी बार विदेश में खेला जा रहा है आईपीएल:
आज के मुकाबले में रोमांच चरम पर होगा क्योंकि एक तो लंबे समय के बाद भारतीय फैंस को लाइव मैच देखने मिलेगा. आईपीएल तीसरी बार विदेश में खेला जा रहा है. इससे पहले साल 2009 में दक्षिण अफ्रीका में सभी मैच हुए थे. साल 2014 में शुरुआती कुछ मैच यूएई में खेले गए थे.

{related}

10 नवंबर को खेला जाएगा फाइनल:
आईपीएल के मुकाबले यूएई में दुबई, शारजाह और अबुधाबी में खेले जाएंगे. आईपीएल का 10 नवंबर को फाइनल मैच खेला जाएगा. 8 टीमों के बीच कुल 60 मैच खेले जाएंगे. टूर्नामेंट में 10 डबल हेडर हैं यानी एक दिन में 2 मैच खेले जाएंगे. पहले मैच का प्रसारण भारतीय समयानुसार दोपहर 3:30 बजे से होगा. वहीं, दूसरे मैच का प्रसारण शाम 7:30 से होगा. जिस दिन सिर्फ एक मैच होंगे उस दिन शाम 7:30 बजे से ही मुकाबला शुरू होगा. 

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने जीता सबका दिल! कहा-असाधारण परिस्थितियों में सांसद देश को दे रहे सकारात्मक संदेश

नई दिल्ली: लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने सबका दिल जीत लिया. सदन में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भावुक अपील करते हुए कहा कि असाधारण परिस्थितियों में सांसद देश को सकारात्मक संदेश दे रहे है, लेकिन चर्चा के दौरान सदन की गरिमा बनाए रखना भी जरूरी है. ओम बिरला ने कहा कि वाद-विवाद, चर्चा, तर्क-वितर्क, संवाद के दौरान आपसी सम्मान बनाए रखें है. तथ्यों के साथ कहें, आरोप-प्रत्यारोप से बचें.

सांसदों के अधिकारों का संरक्षण मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता:
ओम​ बिरला ने कहा कि हम सिर्फ सांसद नहीं एक संस्था हैं जो लाखों लोगों का प्रतिनिधित्व करते हैं. सांसदों के अधिकारों का संरक्षण मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता है. सदन की स्वस्थ परम्पराओं को जीवंत बनाए रखना हम सबका दायित्व है.

{related}

हम सदन को गरिमा के साथ चलाएंगे:
अधीर रंजन चौधरी ने स्पीकर ओम बिरला से माफी मांगते हुए कहा कि तकलीफ-जरूरत में आपकी ओर ही देखते हैं, हम आपका सम्मान और सहयोग करते हैं. हम सदन को गरिमा के साथ चलाएंगे. जब हम लोग घर में बैठे थे तब आपने सदन चलाने के लिए कड़ी मेहनत की. कोई भी सदस्य परेशानी में होता है तब आप उनकी समस्या सुलझाने में मदद करते है.

अलवर में विवाहिता के साथ किया दुष्कर्म, पुलिस ने 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार 

अलवर: प्रदेश के अलवर जिले से एक बार फिर शर्मसार करने वाली खबर सामने आई है. अलवर में विवाहिता के साथ बलात्कार किया गया है. ​महिला भांजे के साथ रिश्तेदारी से लौट रही थी. तभी आरोपियों ने महिला के साथ बलात्कार किया है. महिला ने तिजारा थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है. 

{related}

5-6 युवकों ने भांजे को बनाया था बंधक:
इस मामले में पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. 5-6 युवकों ने भांजे को बंधक बनाया था.आरोपियों ने महिला का अश्लील वीडियो भी बनाया है. दुष्कर्म का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. हालांकि फर्स्ट इंडिया वायरल वीडियो की पुष्टि  नहीं करता है. 
 

कोविड 19 संक्रमित मरीजों को लेकर राज्य सरकार का बड़ा फैसला, अब अस्पताल में भर्ती मरीज से मिल सकेंगे परिजन

कोविड 19 संक्रमित मरीजों को लेकर राज्य सरकार का बड़ा फैसला, अब अस्पताल में भर्ती मरीज से मिल सकेंगे परिजन

जयपुर: चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कोविड संक्रमित मरीजों को राहत देते हुए कोरोना से संक्रमित मरीजों के परिजनों को पीपीई किट व अन्य सुरक्षित साधनों के साथ मरीजों से मिलने व उन्हें भोजन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं. चिकित्सा विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोरा ने कोरोना से संक्रमित मरीजों के एकाकीपन व उसके कारण उत्पन्न तनाव को दृष्टिगत रखते हुए यह निर्देश जारी किए हैं.

तय प्रोटोकॉल के साथ मुलाकात का वक़्त रहेगा तय:
निर्देशों के अनुसार किया कोविड-19 से संक्रमित मरीज जो राजकीय/निजी चिकित्सालयों में उपचाररत हैं, उनसे उनके परिजनों/रिश्तेदारों को समस्त सुरक्षात्मक उपाय (यथा पीपीई किट, मास्क, दस्ताने, नियत दूरी आदि) अपनाते हुए अस्पताल द्वारा तय समय अवधि में मिलने दिया जाए. साथ ही यह भी निर्देशित किया जाता है कि मरीज के परिजन/रिश्तेदार यदि मरीज को घर का खाना देना चाहते हैं तो निर्धारित प्रॉटोकॉल के अनुसार दिया जा सकता है.

{related}

सुरक्षात्मक उपाय को करना होगा फॉलो:
साथ ही निर्देशित किया जाता है कि कोविड डेडिकेटेड अस्पतालों में बैड क्षमता को देखते हुए, उपचार हेतु आने वाले मरीजों की सुविधा व आपात स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए पर्याप्त संख्या में व्हील चेयर/स्ट्रेचर एवं छोटे ऑक्सीजन सिलेण्डर हैल्प डेस्क पर उपलब्ध रखा जाना सुनिश्चित करें, जिससे आपात स्थिति में आवश्यकता होने पर मरीज़ को व्हील चेयर/स्ट्रेचर पर ही लो फ्लो ऑक्सीजन, सिलेण्डर के माध्यम से उपलब्ध करावें ताकि मरीज को आपातकालीन स्थिति में तत्काल राहत देते हुए मरीज की स्थिति को स्थिर किया जा सके. 

सोशल मीडिया पर पेपर आउट ऑडियो वायरल मामला: राज.अधीनस्थ बोर्ड अध्यक्ष ने कहा-हमारे पास अभी तक नहीं है इस तरह की कोई सूचना

 सोशल मीडिया पर पेपर आउट ऑडियो वायरल मामला: राज.अधीनस्थ बोर्ड अध्यक्ष ने कहा-हमारे पास अभी तक नहीं है इस तरह की कोई सूचना

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर पुस्तकालय अध्यक्ष ग्रेड थर्ड सीधी भर्ती-2018 परीक्षा पेपर आउट ऑडियो वायरल मामले पर राजस्थान अधीनस्थ बोर्ड अध्यक्ष ने कहा कि हमारे पास अभी तक इस तरह की कोई सूचना नहीं है. अगर इस तरह का कोई मामला आया है, तो इस मामले की जांच करना पुलिस का काम है. हम कल भर्ती परीक्षा की तैयारियां पूरी कर चुके है. कल पूरी सावधानी के साथ परीक्षा करवाई जाएगी. 

पेपर आउट गिरोह सक्रिय होने की खबर आई थी सामने:
इससे पहले खबर सामने आई थी कि परीक्षा के एक दिन पहले पेपर आउट गिरोह सक्रिय हो गए है. जानकारी के मुताबिक सोशल मीडिया पर पेपर आउट करने का ऑडियो वायरल हो रहा है. जानकारी के मुताबिक परीक्षा से 5 घंटे पहले 13 लाख रुपए में पेपर देने की बात कही जा रही है. जयपुर और जोधपुर में पेपर आउट गिरोह सक्रिय हो रहे हेै. परीक्षा से पहले 3 लाख रुपए देने की बात हो रही है. तो वहीं अंतिम सिलेक्शन के बाद 10 लाख रुपए देने की बात हो रही है. दिसंबर 2019 में पहले भी पेपर आउट होने के चलते यह परीक्षा रद्द हुई थी. 

{related}

शनिवार को आयोजित होगी परीक्षा:
आपको बता दें कि पुस्तकालय अध्यक्ष ग्रेड थर्ड सीधी भर्ती परीक्षा-2018 शनिवार को आयोजित की जाएगी. यह परीक्षा प्रदेश के 23 जिलों में आयोजित होगी. सुबह 11 बजे से 2 बजे तक परीक्षा आयोजित होगी. 700 पदों पर करीब 90 हजार परीक्षार्थी परीक्षा में बैठेंगे. परीक्षा को लेकर कोरोना गाइड लाइन अनुसरण के निर्देश दिए गए है.बिना मास्क के किसी परीक्षार्थी को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. परीक्षार्थियों की तापमान जांच और हाथ सैनिटाइज की व्यवस्था होगी.

जयपुर में 18047 परीक्षार्थी हैं पंजीकृत:
पुस्तकालय अध्यक्ष ग्रेड थर्ड सीधी भर्ती परीक्षा-2018 के लिए जयपुर में 18047 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं. जयपुर में 69 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा आयोजित होगी. परीक्षा के लिए 15 सतर्कता दल और 15 उप समन्वयकों की नियुक्ति की गई है.

नेहरू-गांधी को लेकर अनुराग ठाकुर ने की टिप्पणी, लोकसभा में कांग्रेस सांसदों ने किया जमकर हंगामा 

नेहरू-गांधी को लेकर अनुराग ठाकुर ने की टिप्पणी, लोकसभा में कांग्रेस सांसदों ने किया जमकर हंगामा 

नई दिल्‍ली: कोरोना संकट के बीच संसद के मॉनसून सत्र का आज पांचवां दिन है. आज लोकसभा में कांग्रेस सांसदों ने जमकर हंगामा किया. संसद में फाइनेशियल बिल पर चर्चा के दौरान सोनिया गांधी और गांधी परिवार का नाम लेने पर यह हंगामा हुआ. हंगामे के बाद सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गई. आपको बता दें कि भाजपा सांसद और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर द्वारा सोनिया गांधी और नेहरू-गांधी का नाम लिया गया तो कांग्रेस सांसदों ने लोकसभा में जमकर हंगामा किया.

अनुराग ठाकुर के इस बयान पर हुआ हंमामा:
अनुराग सिंह ठाकुर ने पीएम केयर्स फंड का बचाव करते हुए जवाहर लाल नेहरू और सोनिया गांधी पर टिप्पणी की. उन्होंने कहा कि नेहरूजी ने फंड बनाया आज तक उसका रजिस्ट्रेशन नहीं कराया. आपने केवल एक परिवार गांधी परिवार के लिए ट्रस्ट बनाया. सोनिया गांधी को अध्यक्ष बनाया, इसकी जांच होनी चाहिए तो दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा.

{related}

तृणमूल सांसद ने लगाया स्‍पीकर पर आरोप: 
अनुराग ठाकुर की इस टिप्‍पणी का कांग्रेस सांसदों ने जमकर विरोध करते हुए हंगामा किया. हंगामे के बीच लोकसभा स्‍पीकर ओम बिरला को सदन की कार्यवाही चलाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. यह गरमाहट तब और बढ़ गई जब तृणमूल सांसद ने स्‍पीकर पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे भाजपा सांसदों का बचाव करते हैं. उन्‍होंने कहा-आप चाहे तो हमें निकाल दीजिए. यह नहीं चलेगा. हम नहीं चलने देंगे. आपको बता दें कि स्‍पीकर ने कहा था कि कोई अगर सुरक्षा से खिलवाड़ करने की कोशिश करेगा तो नाम लेकर सदन से बाहर जाने को भी कह सकता हूँ. मास्क लगा कर बोलिए.

PLAY STORE से हटाया गया PAYTM, गूगल ने लगाया आरोप, कहा-नियमों का किया उल्लंघन

 PLAY STORE से हटाया गया PAYTM, गूगल ने लगाया आरोप, कहा-नियमों का किया उल्लंघन

नई दिल्ली: भारत की डिजिटल पेमेंट ऐप पेटीएम (Paytm) को गूगल ने अपने प्ले स्टोर (Play Store) से हटा दिया है. कंपनी पर नियमों के उल्लंघन के आरोप लगे हैं. पेटीएम (Paytm) की तरफ से एक ट्वीट कर बताया गया है कि प्लेस्टोर (Play Store) पर फिलहाल यह एप कुछ समय के लिए उपलब्ध नहीं रहेगा. पेटीएम (Paytm) का Paytm First Games एप भी प्लेस्टोर से हटा दिया गया है.

पेटीएम ने किया ट्वीट:
पेटीएम (Paytm) ने शुक्रवार को एक ट्वीट कर लिखा, 'डियर पेटीएमर्स, पेटीएम (Paytm) एंड्रॉयड एप नए डाउनलोड और अपडेट्स के लिए उपलब्ध नहीं है. हम जल्द ही वापस आएंगे. आपका पूरा पैसा सुरक्षित है और आप पेटीएम (Paytm) सामान्य तरीके से यूज कर पाएंगे.

एंड्रॉयड के लिए प्ले स्टोर से हटाया:
आपको बता दें कि पेटीएम (Paytm) की ओर से हाल ही में फैंटेसी क्रिकेट टूर्नामेंट शुरू किया था, जिसके बाद यह दोनों ही एप हटा दिए गए हैं. पेटीएम (Paytm) को एंड्रॉयड के लिए प्ले स्टोर (Play Store) से हटाया गया है, लेकिन यह iOS यूज़र्स के लिए Apple के App Store पर उपलब्ध रहेगा. वहीं, जिनके फोन में पहले से पेटीएम (Paytm) है, वो अपना एप और मोबाइल वॉलेट पहले की तरह यूज कर पाएंगे.

{related}

गूगल ने किया बयान जारी:
मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक गूगल (Google) ने अपनी गैंबलिंग पॉलिसी को लेकर एक बयान जारी किया है. कंपनी ने अपने बयान में कहा है कि हम ऑनलाइन कसीनो या फिर किसी भी तरह के अनियमित गैंबलिंग एप जो स्पोर्ट्स में सट्टा लगाने की सुविधा देते हैं, को प्लेटफॉर्म पर रहने की अनुमति नहीं देते हैं. इसमें ऐसे ऐप्स भी शामिल हैं, जो यूजर्स को ऐसी बाहरी वेबसाइटों पर ले जाते हैं, जो उन्हें किसी पेड टूर्नामेंट में नकद पैसे या फिर कैश प्राइज़ जीतने के लिए भाग लेने को कहती हैं. यह हमारी पॉलिसीज का उल्लंघन है.साथ ही गूगल (Google) ने यह भी कहा है कि जब कोई एप इन नीतियों का उल्लंघन करता है, तो उसके डेवलपर को इस बारे में सूचित किया जाता है, और जब तक डेवलपर ऐप को नियमों के अनुरूप नहीं बनाता है, उसे तब तक गूगल प्ले स्टोर (Play Store) से हटा दिया जाता है.

VIDEO: RHUS में बैड क्षमता होगी दोगुनी! SMS मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ सुधीर भण्डारी से खास बातचीत

जयपुर: प्रदेश के सबसे बड़े कोरोना डेडिकेटेड अस्पताल आरयूएचएस में जल्द ही बैड की क्षमता दोगुना तक बढ़ाई जाएगी.मरीजों की बढ़ती तादाता को देखते हुए गहलोत सरकार ने इस दिशा में काम करना शुरू कर दिया है.एक तरफ जहां आरयूएचएस में बैड क्षमता 800 से 900 करने के लिए प्रयास जारी है, वहीं दूसरी ओर कोरोना डेडिकेटेड जयपुरिया और ESI हॉस्पिटल  में भी सुविधाओं में विस्तार किया जा रहा है.एसएमएस मेडिकल कॉलेज को RUHS-जयपुरिया-ESI की सभी प्रशासनिक जिम्मेदारी मिलने के बाद प्राचार्य डॉ सुधीर भण्डारी से खास बातचीत की फर्स्ट इंडिया संवाददाता विकास शर्मा ने...

RHUS में हर मरीज को मिले ऑक्सीजन बैड और बेहतर इलाज
-SMS मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ सुधीर भण्डारी से खास बातचीत
-भण्डारी ने कहा, SMS ने टेकओवर किए है तीनों कोविड अस्पताल
-अनुभवी फैकल्टी मैम्बर्स की टीम को दी गई है वहां की जिम्मेदारी
-हमारी कोशिश रहेगी कि सभी मरीजों को अच्छे वातावरण में ट्रीटमेंट दें
-रिसेप्शन पर हर समस्या का समाधान हो, ये रहेगा हमारा फोकस
-यदि अस्पताल में नहीं होगा बैड तो दूसरी जगह करेंगे शिफ्ट
-लेकिन किसी भी मरीजों को उपचार के लिए नहीं किया जाएगा इनकार

{related}

पैटर्न ऑफ कोविड में आया बड़ा बदलाव
-SMS मेडिकल कॉलेज प्राचार्य डॉ सुधीर भण्डारी से खास बातचीत
-मार्च अप्रेल मई में कोरोना मरीजों में जो लक्षण आ रहे थे
-उनमें अब काफी बदलाव सामने आ रहा है
-कई मरीजों में क्लासिकल कोविड निमोनिया की स्थित बन रही है
-एक्सरे-सीटी में तो पेंच दिखते है,लेकिन कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आती है
-ऐसे मरीजों में शॉट ड्यूरेशन में भी लंग इफेक्ट हो रहे है
-भण्डारी ने आमजन से की अपील, लोग कोविड को गंभीरता से लें
जरा भी लक्षण दिखे तो जांच कराए, आईसोलेशन की पालना करें

Open Covid-19