अब आपको फिल्मों में आने के लिए स्टार होने की जरूरत नहीं है: सयानी गुप्ता

अब आपको फिल्मों में आने के लिए स्टार होने की जरूरत नहीं है: सयानी गुप्ता

अब आपको फिल्मों में आने के लिए स्टार होने की जरूरत नहीं है: सयानी गुप्ता

मुंबई: अभिनेत्री सयानी गुप्ता ने कहा कि देश में स्ट्रीमिंग मंचों की शुरुआत ने अभिनय जगत में ‘सितारों’ के वर्चस्व को तोड़ा है जिससे कलाकारों को आज लोकतांत्रिक तरीके से काम मिल रहा है. 

गुप्ता को ‘‘मार्गरिटा विद अ स्ट्रॉ’’, ‘‘आर्टिकल 15’’ और ‘‘जॉली एलएलबी’’ जैसी फिल्मों में उनके प्रदर्शन के लिए सराहा गया लेकिन उन्हें ‘‘इनसाइड एज’’ और ‘‘फोर मोर शॉट्स प्लीज’’ जैसी वेब सीरीज के साथ डिजिटल माध्यम पर ज्यादा सफलता मिली. गुप्ता ने कहा कि ओटीटी (ओवर द टॉप) मंच कलाकारों के लिए एक वरदान हैं जिन्हें अब काफी अवसर मिल रहे हैं जो बड़े पर्दे पर नहीं मिलते थे. ओटीटी इंटरनेट के माध्यम से दर्शकों को सीधे उपलब्ध कराई जाने वाली मीडिया सेवा है.

अभिनेत्री (35) ने एक साक्षात्कार में कहा कि अभिनय जगत में लोकप्रिय हस्तियों का वर्चस्व काफी हद तक टूटा है.  इंटरनेट और आपके कार्यक्रमों की बदौलत लोग अब आपको जानते हैं,  आपको किसी कार्यक्रम या फिल्म में काम करने के लिए बड़ा स्टार बनने की जरूरत नहीं रह गयी. आपको काम दिया जाता है क्योंकि आप उस किरदार के लिए एकदम सही हैं. यही सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. 

अपने करीब एक दशक के करियर में कोलकाता में जन्मी अभिनेत्री ने ओटीटी मंचों पर ‘‘पगलैट’’ समेत तीन फिल्में कीं. गुप्ता ने कहा कि मनोरंजन उद्योग की बदलती गतिशीलता ने एक नाट्य फिल्म और स्ट्रीमिंग मंच पर रिलीज फिल्म के बीच अंतर को पूरी तरह खत्म कर दिया है. उन्होंने कहा, ‘‘हालांकि मैं यह नहीं मानती कि जो भी बन रहा है सब अच्छा लेकिन काफी अलग-अलग तरह की चीजें हैं जो आप देख सकते हैं. एक कलाकार के तौर पर फिल्म उद्योग का हिस्सा बनने के लिए इससे अच्छा वक्त नहीं हो सकता. गुप्ता अभी ऑडिबल ऑरिजनल्स की थ्रिलर फिल्म ‘‘बुरी नजर’’ में आवाज दे रही हैं. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें