VIDEO: जयपुर नगर निगम क्षेत्र में वार्डों की संख्या 91 से बढक़र 150, लॉटरी के दौरान जमकर हुई सियासत

FirstIndia Correspondent Published Date 2019/09/18 09:40

जयपुर: प्रदेश में इस साल नवंबर में होने वाले चुनावों को देखते हुए 52 नगरीय निकायों के वार्डों के आरक्षण की लॉटरी निकलने के बाद तस्वीर साफ हो गई है. राजधानी जयपुर में पुनर्गठन के बाद जयपुर नगर निगम क्षेत्र में वार्डों की संख्या 91 से बढक़र 150 हो गई. कलेक्ट्रेट में जिला निर्वाचन अधिकारी जगरूप सिंह यादव की मौजूदगी में लॉटरी निकाली गई.

लाहोटी की कलेक्टर यादव से जबरदस्त बहस:
लॉटरी से पहले भाजपा विधायकों का हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला. विधायकों ने वार्डों के पुनर्गठन के बाद एससी-एसटी के लिए निर्धारित किए वार्डों की प्रक्रिया पर सवाल खड़े करते हुए जोरदार हंगामा किया. लाहोटी की कलेक्टर यादव से जबरदस्त बहस भी हुई. लाहोटी ने एससी-एसटी महिलाओं के आरक्षण की लॉटरी को रूकवाने का प्रयास भी किया.

चुनाव को लेकर सियायत तेज:
पिंकसिटी में नगर निगम के वार्डों के आरक्षण की लॉटरी का पिटारा खुलने के बाद चुनाव को लेकर सियायत तेज हो गई है. जयपुर नगर निगम के 150 वार्डों के आरक्षण की लॉटरी निकलने के बाद तय हो गया है, कौनसा वार्ड किस वर्ग के लिए आरक्षित है. जयपुर नगर निगम की जयपुर जिला कलेक्ट्रेट में 150 वार्डों की आरक्षण लॉटरी निकाली गई. लॉटरी में सबसे पहले अनुसूचित जाति (एससी) व अनुसूचित जनजाति (एसटी) और फिर अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के आरक्षण के लिए निकाली गई. एससी के पहले से निर्धारित 19 वार्डो में से 6 महिला वर्ग के लिए लॉटरी निकाली गई. इसके बाद एसटी के निर्धारित 6 में से 2 महिला वर्ग के लिए लॉटरी निकाली गई. इसके बाद ओबीसी के 32 वार्डों के लिए लॉटरी निकाली और इन 32 में से 11 महिला आरक्षण के लिए पर्ची के जरिए लॉटरी निकाली गई. सबसे आखिरी में सामान्य वर्ग की 93 में से 31 महिला वर्ग की लॉटरी निकली.

भाजपा विधायकों का हाईवोल्टेज ड्रामा:
नगर निगम की लॉटरी से पहले भाजपा विधायकों का हाईवोल्टेज ड्रामा देखने को मिला. विधायकों ने वार्डों के पुनर्गठन के बाद एससी-एसटी के लिए निर्धारित किए वार्डों की प्रक्रिया पर सवाल खड़े करते हुए जोरदार हंगामा किया. लाहोटी की कलेक्टर यादव से जबरदस्त बहस भी हुई. लाहोटी ने एससी-एसटी महिलाओं के आरक्षण की लॉटरी को रूकवाने का प्रयास भी किया. लाहोटी ने इतना तक कह दिया की सब फर्जीवाडा है. हम भी पढे लिखे हैं, हमें मत सिखाइए. लॉटरी की बैठक में कांग्रेसी पार्षद उमरदराज भी पहुंच गए. जिस पर लाहोटी ने विरोध करते हुए उन्हे बाहर निकालने की बात कही, क्योंकि लॉटरी में विधायक प्रतिनिधि ही शामिल होने थे. ऐसे में पार्षद के आने पर लाहोटी नाराज हो गए. इसके बाद कलेक्टर ने पार्षद को बाहर निकलवा दिया. बैठक में भाजपा विधायक नरपत सिंह राजवी, अशोक लाहोटी, कालीचरण सराफ, अमीन कागजी, पूर्व विधायक मोहनलाल गुप्ता सहित जनप्रतिनिधि मौजूद रहे.

वार्डों की तस्वीर हुई साफ:
कुल वार्ड-150, अनुसूचित जाति-19, अनुसूचित जनजाति-6, अन्य पिछडा वर्ग-32, सामान्य-93 वार्ड
महिला वार्डों की संख्या-50, अनुसूचित जाति-6, अनुसूचित जनजाति-2, अन्य पिछडा वर्ग-11, सामान्य-31
एससी और एसटी के लिए 25 वार्ड आरक्षित

लॉटरी के बाद ये रही स्थिति:
अनुसूचित जाति (एससी): कुल वार्ड 19

सामान्य: 106, 78, 88, 61, 96, 82, 95, 62, 85, 30, 81, 75, 89
महिला: 1, 18, 84, 113, 117, 137

अनुसूचित जनजाति (एसटी): कुल वार्ड 6
सामान्य: 79, 80, 83, 108
महिला: 74, 76

अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी): कुल वार्ड 32
सामान्य: 03, 10, 25, 26, 37, 40, 43, 44, 58, 68, 71, 100, 112, 115, 124, 128, 129, 136, 138, 144, 147
महिला:  07, 17, 34, 35, 42, 60, 87, 91, 114, 122, 132

सामान्य वर्ग: कुल वार्ड 93
सामान्य : 04, 06, 08, 12, 13, 14, 15, 16, 19, 21, 28, 31, 32, 36, 39, 45, 46, 47, 48, 49, 50, 51, 53, 54, 55, 56, 57, 63, 64, 65, 66, 67, 70, 72, 73, 86, 92, 93, 94, 98, 101, 102, 103, 105, 107, 109, 118, 119, 125, 126, 127, 131, 134, 135, 139, 140, 142, 145, 146, 148, 149, 150

महिला: 02, 05, 09, 11, 20, 22, 23, 24, 27, 29, 33, 38, 41,  52, 59, 69, 77, 90, 97, 99, 104, 110, 111, 116, 120, 121, 123, 130, 133, 141, 143

बहरहाल, आरक्षण लॉटरी के बाद जयपुर नगर निगम के 62 वार्ड ऐसे हैं जिन पर किसी भी वर्ग के महिला और पुरूष चुनाव लड सकते हैं. नगर निगम के वार्डों की लॉटरी निकलने के बाद तस्वीर साफ होने के साथ ही चुनाव लडने वाले नेताओं ने भी जोड-भाग लगाना शुरू कर दिया है. जिन वार्डों में पुरूष दावेदारी जता रहे थे, वो अब महिला वर्ग या आरक्षित होने पर उनका पार्षद बनने का सपना टूट गया है.

... संवाददाता शिवेंद्र परमार की रिपोर्ट 
 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in