15 अगस्त को देश मनाएगा आजादी की 75वीं वर्षगाठ, क्या आप जानते हैं आजादी के समय से जुड़े कुछ खास रोचक तथ्य

15 अगस्त को देश मनाएगा आजादी की 75वीं वर्षगाठ, क्या आप जानते हैं आजादी के समय से जुड़े कुछ खास रोचक तथ्य

15 अगस्त को देश मनाएगा आजादी की 75वीं वर्षगाठ, क्या आप जानते हैं आजादी के समय से जुड़े कुछ खास रोचक तथ्य

जयपुर: देश का 75वां स्वतंत्रता दिवस इस साल एक अलग ही अंदाज में मनाया जाएगा. कोरोना महामारी के कारण तमाम स्कूल, कॉलेज, निजी संस्थान अभी बंद है, ऐसे में हमेशा की तरह अब हर स्कूल में परेड़, हर कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रम तो नहीं होंगे लेकिन फिर भी आजादी की वर्षगाठ को लेकर कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी. इस ऑनलाइन दौर में ऑनलाईन जश्न का भी अपना ही एक अलग ही आनंद है, सभी लोग सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए एक-दूसरे को बधाईयां देगें, तो बंटवारे के समय की कहानी भी एक-दूसरे को बताई जाएगीं. 

आजादी के समय से जुड़े हुए कुछ ऐसे रोचक तथ्य हैं जो सुनकर कभी हमारी रुह कांप जाती हैं तो कुछ कहानियां सुनकर और किस्से जानने का मन करता हैं. 

1- देश में यह तो सभी को पता है कि 15 अगस्तय 1947 को हमें आजादी मिली लेकिन बहुत कम लोगों को पता होगा कि यह आजादी आधी रात के समय मिली थी. 

2- जवाहर लाल नेहरू ने 14 अगस्त 1947 को 'ट्रिस्ट विद डेस्टनी' के साथ ऐतिहासिक भाषण दिया. ये भाषण उन्होंने वायसराय लॉज से दिया था इसे अब राष्ट्रपति भवन के तौर पर जाना जाता है. उस समय नेहरू प्रधानमंत्री नहीं बने थे. इस भाषण को जहां पूरी दुनिया ने सुना तो महात्मा गांधी उस दिन नौ बजे सोने चले गए थे.

3- आप देखते है हर स्वतंत्रता दिवस पर भारतीय प्रधानमंत्री लाल किले से झंडा फहराते हैं. लेकिन 15 अगस्त 1947 में ऐसा नहीं हुआ था. लोकसभा सचिवालय के एक रिसर्च पेपर के मुताबिक नेहरू ने 16 अगस्त, 1947 को लाल किले से झंडा फहराया था.

4- 15 अगस्त 1947 तक भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा रेखा का निर्धारण नहीं हुआ था बल्कि इसका फैसला 17 अगस्त 1947 को रेडक्लिफ लाइन की घोषणा से हुआ था. 

5- भारत 15 अगस्त को आजाद जरूर हो गया था लेकिन भारत के पास तब तक अपना कोई राष्ट्र गान नहीं था. रवींद्रनाथ टैगोर जन-गण-मन 1911 में ही लिख चुके थे, लेकिन यह राष्ट्रगान के रुप में 1950 में ही बन पाया. 

6- आपको ये जानकर हैरानी होगी कि 15 अगस्त ना केवल भारतीय आजादी का दिन है बल्कि 3 देश और है जो भी आज ही के दिन स्वतंत्रता दिवस मनाते है, जी हां, भारत के अलावा, दक्षिण कोरिया, जापान से 15 अगस्त, 1945 को आजाद हुआ. ब्रिटेन से बहरीन 15 अगस्त, 1971 को और फ्रांस से कांगो 15 अगस्त, 1960 को आजाद हुआ. तो ये तीनों देश भी आज के दिन ही आजादी का जश्न मनाते हैं. 

7- जब इस बात का फैसला हो गया था कि भारत को 15 अगस्त को आजादी मिलेगी, तब जवाहर लाल नेहरू और सरदार वल्लभ भाई पटेल ने महात्मा गांधी को एक चिट्ठी लिखकर भेजी. उन्होनें इस चिट्ठी में लिखा था कि 15 अगस्त हमारा पहला स्वाधीनता दिवस होगा, आप राष्ट्रपिता हैं और इसमें शामिल हो अपना आशीर्वाद दें. तब महात्मा गांधी ने इस चिट्ठी का जवाब अपने अंदाज में दिया. उन्हों ने जवाब में कहा कि जब कलकत्ते में हिंदु-मुस्लिम एक दूसरे की जान ले रहे हैं, ऐसे में मैं जश्न मनाने के लिए कैसे आ सकता हूं. मैं दंगा रोकने के लिए अपनी जान दे दूंगा. 

8- सबसे अनोखी बात, क्या आप जानते है कि भारत ने इतिहास के अपने पिछले 100,000 वर्षों में कभी भी किसी देश पर हमला नहीं किया हैं

9- भारत की आजादी के बारे में एक रोचक बात यह भी है कि भारत की स्वतंत्रता के बाद, पुर्तगाल ने अपने संविधान में संशोधन किया और गोवा को एक पुर्तगाली राज्य के रूप में घोषित किया. भारतीय सैनिकों ने 19 दिसम्बर 1961 को गोवा पर हमला किया और इसे भारत में मिला दिया था.
 

और पढ़ें