On Phone Call सबसे पहले हम Hello बोलते है, किंतु ये शब्द ही क्यों बोला जाता है; बेहद Interesting है इसकी कहानी

On Phone Call सबसे पहले हम Hello बोलते है, किंतु ये शब्द ही क्यों बोला जाता है; बेहद Interesting है इसकी कहानी

On Phone Call सबसे पहले हम Hello बोलते है, किंतु ये शब्द ही क्यों बोला जाता है; बेहद Interesting है इसकी कहानी

नई दिल्ली: हम किसी को फोन करने पर हैलो ही क्यों कहते हैं! हम चाहे Call रिसीव (Call Recive) करें या कॉल करें. हमारा सबसे पहला शब्द होता है हैलो (Hello). आखिर हम इसी शब्द का इस्तेमाल क्यों करते हैं! अगर ये कहा जाय कि यह किसी का नाम है तो आप सोच में पड जायेंगे कि ये किसी का नाम कैसे हो सकता है. ऐसे में आज हम आपको बताएंगे फोन पर हैलो शब्द को ही ज्यादातर इस्तेमाल क्यों किया जाता है. तो चलिए जानते है पूरी दिलचस्प कहानी (interesting story),

फोन पर Hello बोलते ही बातचीत हो जाती है शुरू:
वैसे यह भी खूब है कि लोग भले ही यह न जानते हों कि टेलीफोन (Teliphone) का आविष्कार किसने किया लेकिन हैलो को तो जानते ही हैं. पूरी दुनिया में जब भी कोई किसी को फोन करता है तो उसे हैलो से ही अपनी बात शुरू करनी होती है. ऐसे में फोन करने या आने की दशा में Hello बोलते ही आपस में बातचीत शुरू हो जाती है.

अंग्रेजी शब्द हेलो के है बहुत मायने:
Hello, बहुत ही कॉमन है न ये शब्द.. हम सभी बोलते हैं. किंतु इस शब्द के बहुत मायने है. फोन पर भी हेलो बोलते हैं और आम बातचीत में हेलो बोला जाता है. यूं तो हेलो एक अंग्रेजी शब्द (English Words) है, जिसका जन्म पुराने जर्मन शब्द हाला या होला से हुआ था. हाला या होला का अर्थ था ‘कैसे हो’. हालांकि, यह शब्द समय के साथ-साथ बदलता गया. यह होला से हालो बना और फिर बाद में हालू बन गया.

आज देश में फोन पर बात करते समय हर व्यक्ति लगभग-लगभग इसी शब्द का इस्तेमाल करता है:
इसी सिलसिले में ये आगे चलकर हेलो बन गया. हम अपने देश की बात करें तो आज के समय में कोई इंसान पढ़ा-लिखा हो या फिर अनपढ़, फोन करते समय सभी लोग पहले शब्द के रूप में हेलो ही बोलते हैं. लेकिन क्या आपके मन में कभी ये सवाल आया कि फोन करते वक्त सबसे पहला शब्द हेलो ही क्यों बोला जाता है? शायद आपने कभी इस पर गौर ही नहीं किया होगा, कोई बात नहीं. आज हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं.

ग्राहम बेल की गर्लफ्रेंड का सरनेम था Hello:
वैसे आपकों तो पता होगा कि फोन का आविष्कार ग्राहम बेल (Graham Bell) ने किया था. ऐसे में टेलीफोन का जनक (Father of Telephone) भी उसे ही माना जाता है. Hello यह नाम था वैज्ञानिक (Scientist) ग्राहम बेल की गर्लफ्रेंड का. जिसका पूरा नाम मारग्रेट हैलो था. ग्राहम बेल जिसे प्यार से हैलो कहते थे. वह जब भी अपनी गर्लफ्रेंड को फोन करते तो उसे हैलो कहते थे तब से यह शब्द प्रचलित हो गया.

क्या एलेक्जेंडर ग्राहम बेल ने फोन पर बोला था पहला हेलो?
फोन करते वक्त हेलो बोलने का इतिहास जानने से पहले ये जानना चाहिए कि टेलीफोन का आविष्कार महान वैज्ञानिक एलेक्जेंडर ग्राहम बेल (Alexander Graham Bell) ने किया था. कुछ रिपोर्ट्स में कहा जाता है कि ग्राहम बेल ने सिर्फ टेलीफोन का ही नहीं बल्कि हेलो शब्द का भी आविष्कार किया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ग्राहम बेल की गर्लफ्रेंड का नाम मारग्रेट हेलो (Margaret Hello) था. टेलीफोन का आविष्कार करने के बाद ग्राहम बेल ने अपने गर्लफ्रेंड को फोन किया और उनका नाम लेते हुए बोला- हेलो. इसके बाद से ही फोन पर कॉल करने के बाद सबसे पहले हेलो शब्द बोलने का चलन शुरू हो गया.

कुछ दावों में ग्राहम बेल की हेलो वाली कहानी सही नहीं:
लेकिन कई रिपोर्ट (Reports) में ये भी दावा किया जाता है कि हेलो की शुरुआत को लेकर सुनाई जाने वाली ग्राहम बेल और मारग्रेट हेलो की ये कहानी सही नहीं है. वे बताते हैं कि ग्राहम बेल की गर्लफ्रेंड के रूप में मारग्रेट हेलो का कोई पुख्ता तथ्य नहीं है. उनके मुताबिक ग्राहम बेल की गर्लफ्रेंड का नाम मेबेल हवार्ड (Mabel Howard) था, जिससे उन्होंने बाद में शादी भी की थी.

फोन पर सबसे पहले हेलो शब्द 1887 में बोला गया था: रिर्पोट
फोन कॉल पर हेलो शब्द के जन्म को लेकर एक और थ्योरी है. दावे के मुताबिक हेलो शब्द का सबसे पहला इस्तेमाल लिखित रूप में साल 1833 में हुआ था. जबकि फोन कॉल पर सबसे पहले हेलो शब्द का इस्तेमाल 1887 में हुआ था. इस थ्योरी के मुताबिक फोन पर सबसे पहले हेलो बोलने का श्रेय एक अन्य महान वैज्ञानिक थॉमस अल्वा एडिसन (Thomas Alva Edison) को जाता है. इस बात का जिक्र विकिपीडिया (Wikipedia) पर भी है. 

हेलो शब्द अज लगभग-लगभग पूरी दुनिया में बोला जाता है:
थॉमस अल्वा एडिसन (Thomas Alva Edison) के फोन पर हेलो बोलने के बाद से ही दुनियाभर में फोन कॉल की शुरुआत में हेलो बोलने की परंपरा शुरू हुई जो अभी तक चल रही है. हैरानी की बात ये है कि आज किसी भी फोन कॉल पर हेलो बोलने का चलन सिर्फ एक-दो देश में नहीं बल्कि पूरी दुनिया में है. बताते चलें कि थॉमस ने जब फोन पर पहली बार हेलो बोला था, उस समय फोन पर ‘आर यू देयर’ (Are You There ') यानि ‘क्या आप वहां हैं’ बोला जाता था. लेकिन थॉमस को फोन करने के बाद इतना बड़ा वाक्य बिल्कुल भी पसंद नहीं था.

और पढ़ें