मुंबई एक बार दोबारा Women Cricket Team के कोच बने पोवार, रमेश ने कहा- दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं; बस चाहते हैं ऐसा हो

एक बार दोबारा Women Cricket Team के कोच बने पोवार, रमेश ने कहा- दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं; बस चाहते हैं ऐसा हो

एक बार दोबारा Women Cricket Team के कोच बने पोवार, रमेश ने कहा- दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं; बस चाहते हैं ऐसा हो

मुंबई: भारतीय महिला क्रिकेट टीम (Indian Women Cricket Team) के कोच रमेश पोवार (Coach Ramesh Powar) को एक बार दोबारा टीम का कोच बनाया गया है. हेड कोच पोवार टीम के साथ अपनी दूसरी पारी का आगाज करने जा रहे ने मंगलवार को कहा कि उनके दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं है और केवल यही चाहते है कि उनके खिलाड़ी हर मैच के साथ सुधार करें.

मेरे दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं: पोवार
पोवार की पहली परीक्षा इंग्लैंड के दौरे (Engaland Tour) पर होगी, जहां मिताली राज (Mithali Raj) की अगुवाई में टीम को सात साल के बाद पहला टेस्ट मैच खेलना है. पोवार ने इंग्लैंड रवानगी से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस (Press Conference) में कहा कि सच कहूं तो मेरे दिमाग में कोई लक्ष्य नहीं है. मैं बस यही चाहता हूं कि वे अपने खेल में और बेहतर करें. आप नाम कमाने और लक्ष्य हासिल करने के लिए नहीं जाते हैं. यह सही समय पर अपने आप हो जाता है.

कप्तान मिताली से मतभेदों के बाद हटा दिए गए थे पोवार:
पोवार को हाल ही में दोबारा महिला टीम का कोच नियुक्त किया गया है. वह 2018 में भी इस टीम के कोच थे, लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 विश्व कप के दौरान कप्तान मिताली से मतभेद होने के बाद उन्हें हटा दिया गया था. कप्तान और कोच, दोनों ने हालांकि कहा है कि उन्होंने अपने मतभेद को पीछे छोड़ दिया है.

एक-एक कदम कर के आगे बढ़ा जाए: रमेश
भारतीय महिला टीम लंबे समय के बाद टेस्ट (Test Match) खेलेगी, लेकिन पोवार को भरोसा है कि खिलाड़ी आश्चर्यचकित करने वाला प्रदर्शन करेंगे. उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से मैं चाहूंगा कि पूरी दुनिया में और अधिक टेस्ट हो, लेकिन यह एक अच्छी शुरुआत है. आइए एक-एक कदम कर के आगे बढ़ा जाए.

इंताजार के बाद देखना होगा कि ये कैसे होता है:
उन्होंने कहा कि यह एक नए फॉर्मेट (New Formats) की तरह है, जो पिछले 10 सालों से लगातार नहीं खेला गया है. हमें इंतजार करना चाहिए और देखना चाहिए कि कैसा करते है. आपको आश्चर्य हो सकता है, मुझे लगता है कि वे (खिलाड़ी) अच्छा प्रदर्शन करेंगे.

हमें बेहतर क्रिकेट खेलने की प्रक्रिया पर ध्यान देने की जरूरत है:
पोवार ने कहा कि जहां तक ​​टेस्ट क्रिकेट की बात है तो वह प्रक्रिया पर ध्यान दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि हम लंबे समय के बाद खेल रहे हैं और हमें बेहतर क्रिकेट खेलने के लिए प्रक्रिया पर ध्यान देने की जरूरत है. हम सकारात्मक माहौल (Positive Atmosphere) को बनाने की कोशिश कर रहे हैं. 

बल्लेबाजों को शरीर के करीब बल्ला रख कर खेलना होगा:
भारत के इस पूर्व ऑफ स्पिनर (Former Off Spinner) ने कहा कि हां टेस्ट क्रिकेट के बारे में अनुभव कम है, लेकिन धीरे-धीरे और तेजी से हम चीजों को आगे बढ़ाएंगे. पोवार के मुताबिक खिलाड़ियों को टेस्ट क्रिकेट के लिए खेल में बदलाव करने की जरूरत होगी. 

उन्होंने कहा कि बल्लेबाजों को शरीर के करीब बल्ला रख कर खेलना होगा और धैर्य दिखाना होगा जबकि गेंदबाजों को स्विंग पर नियंत्रण करना होगा. पोवार के साथ पूर्व भारतीय बल्लेबाज शिव सुंदर दास और अभय शर्मा टीम के सहयोगी सदस्य होंगे.

और पढ़ें