लुधियाना Punjab Election 2022: गृह मंत्री अमित शाह बोले- केवल भाजपा नीत गठबंधन पंजाब को सुरक्षित रख सकता है, नशे की समस्या को खत्म कर सकता है

Punjab Election 2022: गृह मंत्री अमित शाह बोले- केवल भाजपा नीत गठबंधन पंजाब को सुरक्षित रख सकता है, नशे की समस्या को खत्म कर सकता है

Punjab Election 2022: गृह मंत्री अमित शाह बोले- केवल भाजपा नीत गठबंधन पंजाब को सुरक्षित रख सकता है, नशे की समस्या को खत्म कर सकता है

लुधियाना: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा कि केवल भाजपा नीत गठबंधन पंजाब को सुरक्षित रख सकता है और राज्य में मादक पदार्थ की समस्या को खत्म कर सकता है. उन्होंने इसके साथ ही राज्य के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और ‘आप नेता’ अरविंद केजरीवाल पर तीखा हमला बोला. पंजाब में 20 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए राज्य में आयोजित रैली में शाह ने कांग्रेस पर वर्ष 1984 के सिख दंगों को लेकर निशाना साधा और आरोप लगाया कि कांग्रेस के नेता दिल्ली में हुई सिखों की हत्याओं में शामिल रहे. उन्होंने राज्य में सिखों और हिंदुओं के धर्मांतरण का मुद्दा उठाया और इसको रोकने में कथित ‘ असफलता’ को लेकर चन्नी सरकार पर करारा प्रहार किया. शाह ने स्वतंत्रता संग्राम के दौरान पंजाब के लोगों के बलिदान को याद किया और देश को खाद्यान्न के मामले में आत्मनिर्भर बनाने में दिए योगदान के लिए राज्य की प्रशंसा की. शाह ने यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि केवल भाजपा नीत गठबंधन ही पंजाब को सुरक्षित रख सकता है. इसके साथ ही उन्होंने विरोधी दलों की इस मामले में क्षमता को लेकर सवाल उठाया. कांग्रेस के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार चन्नी पर हमला करते हुए शाह ने कहा, ‘‘चन्नी साहब दूसरी बार सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं. जो व्यक्ति प्रधानमंत्री के रास्ते की सुरक्षा नहीं कर सकता, क्या वह पंजाब की सुरक्षा कर सकता है?’’

गृह मंत्री पांच जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई कथित ‘चूक’ का हवाला दे रहे थे, जिसके कारण उन्हें 15 से 20 मिनट तक फ्लाईओवर पर फंसे रहना पड़ा था. उल्लेखनीय है कि प्रदर्शनकारियों द्वारा रास्ता बाधित किए जाने की वजह से मोदी फिरोजाबाद स्थित शहीद स्मारक पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए बिना ही लौट गए थे. शाह ने कहा, ‘‘अगर आप प्रधानमंत्री को सुरक्षा नहीं दे सकते, तो पंजाब की सुरक्षा कैसे करेंगे? चन्नी जी, आपको एक सेकेंड के लिये प्रशासन चलाने का कोई अधिकार नहीं है.’’ उन्होंने सभा से पूछा कि क्या पंजाब चन्नी के नेतृत्व में सुरक्षित रह सकता है. आम आदमी पार्टी (आप)के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि वह ‘वोट बैंक’ की राजनीति कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री को सुरक्षा से कोई लेना-देना नहीं है, ‘‘क्या वे पंजाब को सुरक्षित रख सकते हैं.’’ शाह ने कहा, ‘‘ केवल राजग (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) नीत गठबंधन ही पंजाब को सुरक्षित रख सकता है.’’ उन्होंने लोगों को उरी और पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान पर किए गए सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक की याद दिलाई. शाह ने दावा किया कि संप्रग (कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन) के शासन के दौरान आतंकवादी सीमा पार कर भारतीय क्षेत्र में दाखिल होते थे.

 

वर्ष 1984 के दौरान हुए सिख विरोधी दंगों का मुद्दा उठाते हुए शाह ने कहा कि कांग्रेस ने ‘‘दिल्ली में सिखों की हत्या करने का पाप किया है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कोई भी सिख विरोधी दंगों को नहीं भूल सकता है. मेरी आंखें भर आती हैं, जब मैं उसे याद करता हूं. चन्नी को इसका जवाब देना चाहिए. उन्होंने दावा किया कि यह भाजपा नीत सरकार है, जिसने इस दंगे में शमिल लोगों को सलाखों के पीछे पहुंचाया. उन्होंने रेखांकित किया कि पंजाब में कई प्रयोग हुए, राज्य की जनता ने कांग्रेस और अकाली दल को कई मौके दिए लेकिन ‘आप’ तो सरकार बनाने का मौका देने के लायक भी नहीं है. शाह ने लोगों से अपील की कि वे भाजपा को सरकार बनाने का मौका दें और पंजाब की समस्याओं का समाधान करने का वादा किया. उन्होंने कहा, ‘‘हम नवा पंजाब बनाएंगे.’’ गौरतलब है कि भाजपा पंजाब में पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह नीत पंजाब लोक कांग्रेस और सुखदेव सिंह ढींढसा नीत शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है. सोर्स- भाषा
 

और पढ़ें