किसानों के लिए कर्ज माफी की घोषणा की महज एक जुमला : पायलट

FirstIndia Correspondent Published Date 2017/09/14 03:54

जयपुर। राजधानी जयपुर में आज बिरला ऑडिटोरियम में सांझी विरासत बचाओ सम्मलेन का आयोजन किया गया, जिसमें राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट समेत देशभर की विभिन्न विपक्षी पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं ने अपनी-अपनी पार्टी का प्रतिनिधित्व करते कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार के राज में देश की स्थिति बहुत ही चिंताजनक हो गई है।

कांग्रेस के ख़िलाफ दुष्प्रचार करके जनता से विकास और देश बदलने के बड़े-बड़े झूठे चुनावी वादे कर भाजपा ने वोट बंटोरे और पूर्ण बहुमत से ऐतिहासिक जीत के साथ देश में अपनी सरकार बनाई। इसके बावजूद दुर्भाग्य से आज जो हालात देश में उत्पन्न हुए हैं, उनसे ये स्पष्ट हो गया है कि सत्ता में आने के बाद भाजपा की प्राथमिकताएं बदल गई है। आज आमजन से जुड़ी समस्याओं से सरकार को कोई सरोकार नहीं रहा।

देश के विकास और जनता के कल्याण की चिंता छोड़ भाजपा सरकार का आज उद्देश्य कांग्रेस मुक्त और विपक्ष मुक्त भारत बनाना रह गया है। आश्चर्य की बात है कि कांग्रेस ने इतने वर्षों तक राज किया, बड़ी-बड़ी ऐतिहासिक जीत कांग्रेस पार्टी के नाम दर्ज़ है, लेकिन कांग्रेस के किसी भी नेता ने कभी भी विपक्ष मुक्त भारत की बात करना तो दूर, बल्कि हमेशा विपक्ष का सम्मान किया है।

पायलट ने कहा कि केंद्र एवं राज्य में भाजपा का जो पिछले चार वर्षों में जो निराशाजनक कार्यकाल रहा है, उसे देख कर स्पष्ट हो गया है कि भाजपा की रीति-नीति जनता और देश का विकास नहीं है। हाल ही में बिहार में जो सत्ता परिवर्तन हुआ है, ये इसका ताज़ा उदहारण है कि भाजपा का एक मात्र उद्देश्य है 'साम दाम दंड भेद' हर संभव कोशिश करके किसी भी तरह सत्ता हांसिल कर ली जाए। जिस जनता ने भाजपा को बड़ी उम्मीदों से सत्ता सौंपी थी, आज उसी सरकार में जनता की वेदना सुनने वाला कोई नेता या मंत्री नहीं है।

दिल्ली से लेकर सीकर तक देशभर में पीड़ित किसान आंदोलन कर रहे है, लेकिन भाजपा में ऐसा कोई चेहरा नहीं है, जो इन किसानों के पक्ष में पैरवी कर सके। राजस्थान में पिछले दो सप्ताह से किसान आंदोलन कर रहे थे सरकार किसानों की सुनवाई नहीं कर रही थी। मोहन भागवत जी के जयपुर आते ही आधी रात को समझौता किया गया। अब किसानों की कर्ज माफी के लिए कमेटी बनाने की घोषणा की है ये भी एक तरह का जुमला है, क्योंकि सरकार से कोई पूछे कि क्या इन्होंने पूंजीपतियों का कर्ज माफ करने से पहले किसी कमेटी का गठन किया था।

इस दौरान मंच पर उपस्थित सभी नेताओं ने एक स्वर में कहा कि देश की जनता को ये आश्वश्त करते हैं कि भाजपा सरकार की इस तानाशाही से जनता को मुक्त करवाने के लिये हम सभी एकजुट होकर सरकार के ख़िलाफ डंटकर मुकाबला करेंगे। देश की जनता भाजपा की वादा खिलाफी से आहात हुई है और भाजपा का असली चेहरा अब सबके सामने आ चुका है। जनता अपना मन बना चुकी है और इंतज़ार कर रही है कि कब मौक़ा मिले तो भाजपा को आइना दिखाने का काम करें।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in