Live News »

किसानों के लिए कर्ज माफी की घोषणा की महज एक जुमला : पायलट

किसानों के लिए कर्ज माफी की घोषणा की महज एक जुमला : पायलट

जयपुर। राजधानी जयपुर में आज बिरला ऑडिटोरियम में सांझी विरासत बचाओ सम्मलेन का आयोजन किया गया, जिसमें राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट समेत देशभर की विभिन्न विपक्षी पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं ने अपनी-अपनी पार्टी का प्रतिनिधित्व करते कार्यक्रम में शिरकत की। इस दौरान सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार के राज में देश की स्थिति बहुत ही चिंताजनक हो गई है।

कांग्रेस के ख़िलाफ दुष्प्रचार करके जनता से विकास और देश बदलने के बड़े-बड़े झूठे चुनावी वादे कर भाजपा ने वोट बंटोरे और पूर्ण बहुमत से ऐतिहासिक जीत के साथ देश में अपनी सरकार बनाई। इसके बावजूद दुर्भाग्य से आज जो हालात देश में उत्पन्न हुए हैं, उनसे ये स्पष्ट हो गया है कि सत्ता में आने के बाद भाजपा की प्राथमिकताएं बदल गई है। आज आमजन से जुड़ी समस्याओं से सरकार को कोई सरोकार नहीं रहा।

देश के विकास और जनता के कल्याण की चिंता छोड़ भाजपा सरकार का आज उद्देश्य कांग्रेस मुक्त और विपक्ष मुक्त भारत बनाना रह गया है। आश्चर्य की बात है कि कांग्रेस ने इतने वर्षों तक राज किया, बड़ी-बड़ी ऐतिहासिक जीत कांग्रेस पार्टी के नाम दर्ज़ है, लेकिन कांग्रेस के किसी भी नेता ने कभी भी विपक्ष मुक्त भारत की बात करना तो दूर, बल्कि हमेशा विपक्ष का सम्मान किया है।

पायलट ने कहा कि केंद्र एवं राज्य में भाजपा का जो पिछले चार वर्षों में जो निराशाजनक कार्यकाल रहा है, उसे देख कर स्पष्ट हो गया है कि भाजपा की रीति-नीति जनता और देश का विकास नहीं है। हाल ही में बिहार में जो सत्ता परिवर्तन हुआ है, ये इसका ताज़ा उदहारण है कि भाजपा का एक मात्र उद्देश्य है 'साम दाम दंड भेद' हर संभव कोशिश करके किसी भी तरह सत्ता हांसिल कर ली जाए। जिस जनता ने भाजपा को बड़ी उम्मीदों से सत्ता सौंपी थी, आज उसी सरकार में जनता की वेदना सुनने वाला कोई नेता या मंत्री नहीं है।

दिल्ली से लेकर सीकर तक देशभर में पीड़ित किसान आंदोलन कर रहे है, लेकिन भाजपा में ऐसा कोई चेहरा नहीं है, जो इन किसानों के पक्ष में पैरवी कर सके। राजस्थान में पिछले दो सप्ताह से किसान आंदोलन कर रहे थे सरकार किसानों की सुनवाई नहीं कर रही थी। मोहन भागवत जी के जयपुर आते ही आधी रात को समझौता किया गया। अब किसानों की कर्ज माफी के लिए कमेटी बनाने की घोषणा की है ये भी एक तरह का जुमला है, क्योंकि सरकार से कोई पूछे कि क्या इन्होंने पूंजीपतियों का कर्ज माफ करने से पहले किसी कमेटी का गठन किया था।

इस दौरान मंच पर उपस्थित सभी नेताओं ने एक स्वर में कहा कि देश की जनता को ये आश्वश्त करते हैं कि भाजपा सरकार की इस तानाशाही से जनता को मुक्त करवाने के लिये हम सभी एकजुट होकर सरकार के ख़िलाफ डंटकर मुकाबला करेंगे। देश की जनता भाजपा की वादा खिलाफी से आहात हुई है और भाजपा का असली चेहरा अब सबके सामने आ चुका है। जनता अपना मन बना चुकी है और इंतज़ार कर रही है कि कब मौक़ा मिले तो भाजपा को आइना दिखाने का काम करें।

और पढ़ें

Most Related Stories

इस बार घरेलू टूर्नामेंट भी चढ़ा कोरोना वायरस की भेंट, ट्रायल के माध्यम से ही चुनी जाएगी टीम

इस बार घरेलू टूर्नामेंट भी चढ़ा कोरोना वायरस की भेंट, ट्रायल के माध्यम से ही चुनी जाएगी टीम

जयपुर: राजस्थान के घरेलू टूर्नामेंट भी इस बार कोरोना वायरस की भेंट चढ़ गए हैं.  लॉक डाउन के कारण 2 महीने से अधिक समय तक खेल मैदान बंद रहने के कारण खिलाड़ियों को तो नुकसान हुआ ही है और अब खेल संघ भी इसका खामियाजा भुगतेंगे. लॉक डाउन के कारण आरसीए के घरेलू टूर्नामेंट इस बार नहीं हो सकेंगे और एक बार फिर ट्रायल और कैंप के आधार पर ही बीसीसीआई के विभिन्न टूर्नामेंटों के लिए आरसीए की टीम चयनित की जाएगी. 

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले 

उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में बोर्ड से गाइडलाइंस आ जाएगी:
अगस्त के आखिरी सप्ताह से बीसीसीआई का घरेलू टूर्नामेंट शुरू हो जाता है और उससे पहले आरसीए को अपने घरेलू टूर्नामेंट कराने होते हैं लेकिन फिलहाल यह स्थिति नजर नहीं आ रही और इसके बाद बारिश का मौसम भी शुरू हो जाएगा.  आरसीए के सचिव महेंद्र शर्मा से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आरसीए बीसीसीआई की गाइडलाइंस की पालना करेगी और उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में बोर्ड से गाइडलाइंस आ जाएगी. 

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन 

इस बार ट्रायल के माध्यम से ही टीम चुनी जाएगी:
उन्होंने स्वीकार किया कि इस बार ट्रायल के माध्यम से ही टीम चुनी जाएगी. महेंद्र शर्मा ने कहा कि क्रिकेट में क्योंकि टीम गेम होता है ऐसे में हमें बहुत सी सावधानियां रखनी होगी. दरअसल जब आरसीए के घरेलू टूर्नामेंट होते हैं तो खेल मैदान, सहयोगी स्टाफ और होटल जैसी कई सुविधाएं लेनी पड़ती है. फिलहाल इन सुविधाओं के बारे में असमंजस की स्थिति है. ऐसे में एक बार फिर खिलाड़ियों को कॉल्विन शील्ड जैसे टूर्नामेंटों से महरूम रहना पड़ेगा. वैसे लोग डाउन के कारण आरसीए का ऑफिस भी बंद है और अधिकांश क्रिकेट मैदानों में मेंटेनेंस में समय लगेगा. 

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 76 नए पॉजीटिव, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 7376

Rajasthan Corona Updates: पिछले 12 घंटे में सामने आए 76 नए पॉजीटिव, मरीजों का ग्राफ पहुंचा 7376

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. पिछले 12 घंटे में प्रदेश में 76 नए पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं. इसमें झालावाड़ में 12, नागौर में 4, राजसमंद 11, उदयपुर 13, जयपुर में 16, झुंझुनूं में 5, बीकानेर में 5, कोटा में 4, भरतपुर में 1, पाली में 3 और धौलपुर में 2 पॉजिटिव केस चिन्हित किए गए हैं. ऐसे में प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ 7376 पहुंच गया है. 

भारत में कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी प्रोफेसर का बड़ा अनुमान, जुलाई में होंगे करीब 5 लाख मामले 

अब तक 167 लोगों की मौत:
राजस्थान में कोरोना से अब तक 167 लोगों की मौत हुई है. इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 83 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई. इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, पाली और नागौर में 6, भरतपुर में 5, अजमेर में 6, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है. वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है.

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन 

सोमवार को सामने आए 272 नए मामले: 
इससे पहले सोमवार को प्रदेश में कोरोना के 272 नए मामले सामने आए हैं. इसमें सर्वाधिक 50 पॉजिटिव केस अकेले पाली जिले में सामने आये है. इसके अलावा अलवर में 5, बाड़मेर में 5, भीलवाड़ा में एक, चूरू में 17, दौसा में एक, डूंगरपुर में एक, जयपुर में 13, जालोर में 5, झुंझुनूं में 3, जोधपुर में 47, कोटा में 7, नागौर में 48, राजसमंद में 3, सवाई माधोपुर में एक, सीकर में 44, सिरोही में 9 और उदयपुर में 12 पॉजिटिव केस मिले हैं. 

राजस्थान में पान, गुटखा और तम्बाकू बिक्री की अनुमति मिली, किया गया यह संशोधन

जयपुर: राजस्थान सरकार ने राज्य में पान, गुटखा और तम्बाकू की बिक्री शुरू करने का निर्णय लिया गया है. इसके साथ ही रेड जोन में भी सार्वजनिक पार्कों, टैक्सी और कैब सेवा फिर से बहाल की जाएगी. गृह विभाग ने चौथे चरण के लॉकडाउन के आदेश के तहत प्रतिबंधित गतिविधियों में से पान, गुटखा, तम्बाकू आदि की बिक्री को हटाते हुए स्पष्ट किया है कि कोई भी व्यक्ति इन चीजों का उपयोग सार्वजनिक स्थानों पर नहीं कर सकेगा.

राजस्थान रोडवेज की मोक्ष कलश स्पेशल बस सेवा शुरू, सिंधी कैंप बस स्टैंड से मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने किया रवाना

शर्तें सुनिश्वित करते हुए टैक्सी, ऑटो और कैब की सेवाओं की स्वीकृति:  
आदेश के अनुसार सार्वजनिक स्थानों पर थूकना अभी भी दंडनीय अपराध है. वहीं राज्य सरकार ने रेड जोन में सामाजिक दूरी और सैनिटाइजेशन की शर्तें सुनिश्वित करते हुए टैक्सी, ऑटो और कैब की सेवाओं की स्वीकृति दी है. सरकार ने रेड जोन इलाकों में सुबह सात बजे से शाम 6 बजकर 45 मिनट तक सार्वजनिक पार्कों को खोलने की अनुमति प्रदान की है. इससे पहले ऑरेंज और ग्रीन जोन में आने वाले इलाकों में इन गतिविधियों की अनुमति दी गई थी. 

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, कामगारों को सीधे जेब में 10 हजार रुपए देने की मांग, कांग्रेस चलायेगी ऑनलाइन अभियान

लोगों के एकसाथ एकत्र होने पर रोक रहेगी:
संशोधित आदेश में हाथ रिक्शा, कियोस्क, खाने की छोटी दुकानें, जूस, चाय और अन्य सामान की दुकानों को स्वीकृति प्रदान की गई है. लेकिन इस दौरान स्वच्छता, स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा. इसके साथ ही लोगों के एकसाथ एकत्र होने पर भी रोक रहेगी. 
 

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 7300 कोरोना संक्रमित, पिछले 24 घंटे में 4 मरीजों की मौत, 272 नए केस आये सामने

Rajasthan Corona Updates: राजस्थान में कुल 7300 कोरोना संक्रमित, पिछले 24 घंटे में 4 मरीजों की मौत, 272 नए केस आये सामने

जयपुर: राजस्थान में लगातार कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे है. पिछले 24 घंटे में 4 मरीजों की मौत हो गई. जबकि 272 नए पॉजिटिव केस सामने आये है. सर्वाधिक 50 पॉजिटिव केस अकेले पाली जिले में सामने आये है. इसके अलावा अलवर में 5,बाड़मेर में 5,भीलवाड़ा में एक, चूरू में 17,दौसा में एक,डूंगरपुर में एक,जयपुर में 13, जालोर में 5,झुंझुनूं में 3,जोधपुर में 47,कोटा में 7, नागौर में 48,राजसमंद में 3,सवाई माधोपुर में एक, सीकर में 44,सिरोही में 9 और उदयपुर में 12 पॉजिटिव केस मिले है. राजस्थान में अब तक 167 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो चुकी है. राजस्थान में कुल मरीजों का ग्राफ बढकर 7300 पहुंच गया है. हालांकि इनमें से 4056 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके है. राजस्थान में फिलहाल 3077 कोरोना के एक्टिव केस है. इनमें से 1844 प्रवासी राजस्थानी शामिल है.

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा बोले, प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें, मई माह के अंत तक पा लेंगे 25000 का लक्ष्य

अब तक 167 लोगों की मौत:
राजस्थान में कोरोना से अब तक 167 लोगों की मौत हुई है. इनमें जयपुर में सबसे ज्यादा 83 (जिसमें चार यूपी से) की मौत हुई. इसके अलावा, जोधपुर में 17, कोटा में 16, पाली और नागौर में 6, भरतपुर में 5, अजमेर में 6, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर और भीलवाड़ा 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है. वहीं दूसरे राज्य से आए एक व्यक्ति की भी मौत हुई है.

रविवार को 286 नए रोगी मिले:
वहीं इससे पहले प्रदेश में रविवार को 286 नए रोगी मिले, जबकि जयपुर, पाली और चित्तौड़गढ़ में एक-एक मौत भी हुई. जयपुर के शहरी इलाकों के अलावा 13 गांवों में एकसाथ संक्रमण फैला. यहां सेंट्रल जेल और जिला जेल में क्रमश: 10 व 13 सहित 78 नए पॉजिटिव मिले. जोधपुर में मिले 35 नए रोगियों में रविवार को ही जन्मी बच्ची भी शामिल है. इसके अलावा राजसमंद में 24, उदयपुर में 21, अजमेर में 22, अलवर में 1, बाड़मेर में 6, भरतपुर में 6, भीलवाड़ा में 6, बीकानेर में 3, दौसा में 2, धौलपुर में 3, डूंगरपुर में 4, जैसलमेर में 4, झुंझुनूं में 3, कोटा में 6, नागौर में 47, पाली में 7, सीकर में 3, सिरोही में 3 नए रोगी मिले. इनके अलावा दो रोगी बाहरी राज्यों के हैं. 

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, कामगारों को सीधे जेब में 10 हजार रुपए देने की मांग, कांग्रेस चलायेगी ऑनलाइन अभियान

राजस्थान रोडवेज की मोक्ष कलश स्पेशल बस सेवा शुरू, सिंधी कैंप बस स्टैंड से मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने किया रवाना

 राजस्थान रोडवेज की मोक्ष कलश स्पेशल बस सेवा शुरू, सिंधी कैंप बस स्टैंड से मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने किया रवाना

जयपुर: परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने सोमवार को जयपुर के सिंधी कैंप बस स्टैंड से अपने परिजनों की अस्थियों को विसर्जन को लेकर हरिद्वार जाने की "मोक्ष कलश स्पेशल" बस सेवा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. अस्थियों के विसर्जन के लिए पूरे राजस्थान में  सरकार द्वारा फ्री बस सेवा का शुभारंभ किया गया है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बड़ी पहल:
खाचरियावास ने कहा कि राजस्थान के 46 रोडवेज डिपो से हरिद्वार के लिए अस्थि विसर्जन को जाने वाले यात्रियों को फ्री में राज्य सरकार द्वारा यह सुविधा दी गई है. मंत्री खाचरियावास ने कहा कि जयपुर सहित पूरे राजस्थान में भारी तादाद में सभी श्मशान में अस्थियां इकट्ठी हो गई थी, लोग हरिद्वार जाने के लिए परेशान हो रहे थे, ऐसे में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ी पहल करते हुए हरिद्वार के लिए अस्थियां विसर्जन के लिए जाने वाले व्यक्तियों को फ्री बस सेवा सौगात देकर बड़ा धार्मिक कार्य किया है.

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा बोले, प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें, मई माह के अंत तक पा लेंगे 25000 का लक्ष्य

रोडवेज बसें फ्री में लेकर जाएगी हरिद्वार:
हरिद्वार में गंगा मैया में अस्थियां विसर्जन के बाद ही व्यक्ति को मोक्ष की प्राप्ति होती है ऐसे में देश में राजस्थान पहला ऐसा राज्य बन गया है जहां श्रमिक बसें चला कर पूरे देश में मजदूरों को उनके घरों तक फ्री में पहुंचाया गया और अब हरिद्वार में जो भी परिवारजन अस्थियां लेकर जाएगा पूरे राजस्थान से रोडवेज बसें उन्हें फ्री में हरिद्वार लेकर जाएंगी. 

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, कामगारों को सीधे जेब में 10 हजार रुपए देने की मांग, कांग्रेस चलायेगी ऑनलाइन अभियान

JEE Main 2020: ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया समाप्त, 9 लाख से अधिक का हुआ पंजीकरण

JEE Main 2020:  ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया समाप्त, 9 लाख से अधिक का हुआ पंजीकरण

जयपुर: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से आयोजित होने वाले ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई मेन 2020) की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो गई. जेईई मेन परीक्षा अब 18 से 23 जुलाई तक होगी. परीक्षा पहले 5 से 11 अप्रेल तक होनी थी. 

परीक्षाओं की नई तिथि घोषित:
कोरोना संक्रमण की वजह से चल रहे लॉकडाउन की वजह से इस परीक्षा को स्थगित करना पड़ा था. इसके बाद इन परीक्षाओं की नई तिथि घोषित की गई. आवेदन की अंतिम तिथि समाप्त होने के बाद सोमवार से 31 मई तक आवेदन फार्म में करेक्शन कर सकते हैं. जेईई मेन के लिए करीब 9 लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया है. 

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा बोले, प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें, मई माह के अंत तक पा लेंगे 25000 का लक्ष्य

दो पारियों में होगी परीक्षा:
परीक्षा दो पारियों में होगी. जिसमे पहली पारी सुबह 9 से दोपहर 12 बजे और दूसरी पारी दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक होगी. एनटीए के डायरेक्टर जनरल ने नोटिफिकेशन में बताया कि परीक्षा की तिथि से 15 दिन पहले एडमिट कार्ड, रोल नंबर और सेंटर के बारे में जानकारी एनटीए की बेवसाईट पर दे दी जाएगी और उन्होंने कहा कि अभ्यर्थी एनटीए की वेबसाईट से ही सारी जानकारी लें. 

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, कामगारों को सीधे जेब में 10 हजार रुपए देने की मांग, कांग्रेस चलायेगी ऑनलाइन अभियान

28 मई को कांग्रेस का महा अभियान, कामगारों को सीधे जेब में 10 हजार रुपए देने की मांग, कांग्रेस चलायेगी ऑनलाइन अभियान

जयपुर: कोरोना महामारी से त्रस्त प्रवासी श्रमिकों ,कामगारों ,लघु व्यापारियों ,असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों समेत वो लोग जो इन्कम टैक्स के दायरे में नहीं आते उनके लिए कांग्रेस बड़ा अभियान चलाने जा रही है. 28 मई को कांग्रेस के व्यापक ऑनलाइन अभियान के जरिये केन्द्र सरकार से मांग की जाएगी कि इनकी जेब में सीधे 10हजार रुपये डाले जाये. राजस्थान की कांग्रेस भी इस महा अभियान से जुडेगी. 

सभी प्रदेश कांग्रेस इकाइयों को लिखा पत्र:
बीते कुछ दिनों से कांग्रेस एक्शन में है खासतौर पर प्रवासी श्रमिकों के मसले पर.  ताबडतोड केन्द्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोला जा रहा ,नीतियों को कोसा जा रहा. अब केन्द्र सरकार से उसी मांग को दोहराया जाएगा जो कुछ दिनों पहले राहुल गांधी से की गई थी ,चलाया जाएगा देशव्यापी ऑनलाइन अभियान ,इसके लिये कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर AICC महासचिव के सी वेणुगोपाल ने सभी प्रदेश कांग्रेस इकाइयों को पत्र लिखा है.

शराब दुकान की लोकेशन में घालमेल! आबकारी विभाग में मिलीभगत से खेल, नियमों के खिलाफ दुकानों की लोकेशन मंजूर

कांग्रेस का मूवमेंट

-28 मई को कांग्रेस बड़ा ऑनलाइन अभियान चलायेगी
-केन्द्र सरकार से की जाएगी मांग
-प्रवासी श्रमिक,कामगार,छोटे व्यापारी
-असंगठित क्षेत्र में काम करने वालों को मिले पैसा
-उनकी जेब में सीधे 10हजार रुपये दिये जाये
-28 मई को 11से 2 बजे के बीच चलेगा अभियान
-सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटियों को AICC के निर्देश
-सोनिया गांधी ने कांग्रेस नेताओं से किया आह्वान
-जो इन्कम टैक्स दायरे में नहीं आते है उनके लिये अभियान
-10हजार रुपये कैश या बैंक खाते के जरिये प्रत्येक श्रमिक को मिले
-सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर व्यापक अभियान चलेगा
-अभियान में कांग्रेस के जनप्रतिनिधि होंगे शामिल

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा बोले, प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें, मई माह के अंत तक पा लेंगे 25000 का लक्ष्य

कांग्रेस का अभियान बेहद अहम:
कांग्रेस का अभियान बेहद अहम है. ऑनलाइन अभियान का मकसद उन लोगों तक सरकार के जरिये पैसा पहुंचाना है जिनके सामने अब रोजगार का संकट खड़ा हो गया है. केन्द्र सरकार से पुरजोर मांग की जाएगी ,लॉकडाउन के कारण कांग्रेस सड़क पर नहीं आ सकती इसलिये ऑनलाइन अभियान के जरिये कांग्रेसियों से आह्वान किया जाएगा कि वे केन्द्र सरकार से राहत देने की मांग करे. 

...फर्स्ट इंडिया के लिये योगेश शर्मा की रिपोर्ट

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा बोले, प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें, मई माह के अंत तक पा लेंगे 25000 का लक्ष्य

जयपुर: राजस्थान में कोरोना की जांचों को लेकर राज्य सरकार अति गंभीर है.प्रदेश में 16250 जांचें प्रतिदिन की जा रही हैं, जिसे 25000 प्रतिदिन करने का लक्ष्य है. चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा का दावा है कि राजस्थान इस माह के अंत तक विभाग 25000 जांचें प्रतिदिन करने की क्षमता विकसित कर लेगा.साथ ही बताया कि राजस्थान देश के उन चुनींदा राज्यों में शामिल है जहां अब तक 3.27 लाख से ज्यादा लोगों की जांच की गई है.कोरोना की जांच को लेकर राज्य सरकार की गंभीरता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 2 मार्च को पहला केस जब आया था तब राजस्थान में एक भी जांच की फैसिलिटी नहीं थी. 

प्रतिदिन हो रही हैं 16000 से ज्यादा जांचें:
अभी से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सक्रियता कहे या चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा का प्रयास, जिसके चलते फिलहाल राजस्थान में 16000 से अधिक जांच रोजाना हो रही है.चिकित्सा मंत्री ने बताया कि प्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेशो भी अन्य राज्यों की तुलना में काफी बेहतर है. राज्य में रिकवरी रेशो 60 प्रतिशत तक रहा है. उन्होंने बताया कि सोमवार दोपहर 2 बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 7173 लोग कोरोना पाॅजिटिव पाए गए, इनमें से 3860 लोग पाॅजिटिव से नेगेटिव हो चुके हैं और 3424 लोग तो अस्पतालों से डिस्चार्ज भी किए जा चुके हैं. वर्तमान में कोरोना के 3150 एक्टिव केसेज हैं.

राज्य में हालात पूरी तरह नियंत्रण में:
चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा दिए गए स्लोगन ‘राजस्थान सतर्क है‘ पर सरकार संवेदनशील तरीके से काम कर रही है. राज्य में हालात पूरी तरह नियंत्रण में हैं. प्रदेश सरकार द्वारा ज्यादा सैंपलिंग, क्वारेंटाइन, आइसोलशन, तुरंत उपचार जैसी सुविधाओं के कारण ही संक्रमण पर काबू पाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्रदेश के बाहर से आने वाला हर व्यक्ति के लिए 14 दिनों के होम या इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाइन अनिवार्य किया हुआ है, ताकि बाहरी व्यक्ति से संक्रमण ना फैल सके. उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति बिजनेस के सिलसिले में या छोटे-मोटे काम के लिए राज्य में आ रहे हैं वे भी आरटी-पीसीआर टेस्ट कराकर आएं या फिर यहां टेस्ट के नेगेटिव आने के बाद ही लोगों के बीच में जाएं.

जयपुर एयरपोर्ट से शुरू हुआ फ्लाइट संचालन, पहले दिन रद्द हुई ज्यादा फ्लाइट, संचालन हुआ कम, 20 में से 13 फ्लाइट्स रद्द

-प्रवासियों के 14 दिन के क्वॉरेंटाइन के प्रति सरकार गंभीर
-चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने दी जानकारी
-डॉ शर्मा ने कहा, प्रवासी चाहे एयरपोर्ट से आए या सड़क मार्ग से
-सभी को 14 दिन के क्वॉरेंटाइन के नियम की पालना करनी होगी 
-जो लोग अल्प अवधि के लिए बिजनेस या अन्य काम से आ रहे हैं राजस्थान
-वे या तो अपना आरटीपीसीआर टेस्ट करवाकर आए
-या फिर प्रदेश में आने के बाद क्वॉरेंटाइन में रहते हुए कराएं टेस्ट
-यदि टेस्ट की रिपोर्ट आती है नेगेटिव तो ऐसे लोगों को दी गई है आवश्यक कार्य पूरा करने की छूट

प्रवासी राजस्थानी और कामगारों को होम क्वारंटाइन:
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बाहर से आए करीब 7.25 लाख प्रवासी राजस्थानी और कामगारों को होम क्वारंटाइन में रखा जा रहा है. ग्राम स्तर पर बनी कमेटियों के सदस्य उन पर निगरानी रखते हैं. यही नहीं 10 हजार से ज्यादा संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर्स में उन लोगों को रखा जा रहा है जिनके घरों में अलग रहने के लिए पर्याप्त जगह नहीं है या फिर वे खांसी-जुकाम-बुखार से पीड़ित हैं. ऐसे करीब 35 हजार से ज्यादा लोग हैं. उनके बेहतर खान-पान व अन्य व्यवस्था सरकार अपने खर्चे पर कर रही है.

-प्रदेश में मृत्युदर भी राष्ट्रीय दर के मुकाबले काफी कम 
-चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा ने रखे आंकड़े
-प्रदेश में महज 2.36 प्रतिशत है.
-उन्होंने बताया कि राज्य में मरीजों की संख्या लगभग 16 दिनों में दोगुनी हो रही है
-जबकि देश में डबलिंग कम दिनों में हो रही है. 

राजस्थान जल्द ही होगा कोरोना से मुक्त:
फाइनल चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने कोरोना की रोकथाम और बचाव के लिए हर पहलू पर बेहतरीन काम किया है. प्रदेश में जोधपुर व जयपुर में प्लाज्मा थैरेपी से गंभीर मरीजों का इलाज किया जा रहा है. कोविड के अलावा अन्य बीमारियों के लिए टेलीमेडिसन की सुविधाएं दी जा रही हैं. कफ्र्यूग्रस्त या लाॅकडाउन प्रभावित क्षेत्रों में आम बीमारियों से लोगों को राहत देन के लिए 550 मेडिकल मोबाइन ओपीडी वैन की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं. प्रवासियों राजस्थानियों के सैंपल कलेक्शन में भी वैनों का इस्तेमाल किया जा रहा है. ऐसे में उम्मीद है कि राजस्थान जल्द ही कोरोना से मुक्त होगा.

शराब दुकान की लोकेशन में घालमेल! आबकारी विभाग में मिलीभगत से खेल, नियमों के खिलाफ दुकानों की लोकेशन मंजूर

Open Covid-19