विधानसभा में पिछले बजट में की गई घोषणाओं को लेकर विपक्ष ने की सत्ता पक्ष को घेरने की कोशिश

विधानसभा में पिछले बजट में की गई घोषणाओं को लेकर विपक्ष ने की सत्ता पक्ष को घेरने की कोशिश

विधानसभा में पिछले बजट में की गई घोषणाओं को लेकर विपक्ष ने की सत्ता पक्ष को घेरने की कोशिश

जयपुर: विधानसभा में आज विपक्ष की ओर से पिछले बजट में की गई घोषणाओं के धरातल पर नहीं उतारने को लेकर सत्ता पक्ष के मंत्रियों को घेरने की कोशिश की. विधायक हमीर सिंह भायल की ओर से जनता क्लीनिक खोलने की कार्य योजना का सवाल किया तो वहीं विधायक रामलाल शर्मा की ओर से मुख्यमंत्री के गृह जिले जोधपुर में उम्मेद स्टेडियम के विकास को लेकर की गई घोषणा को मूर्त रूप नहीं देने पर मंत्री अशोक चांदना को जमकर घेरा.

वन्यजीव प्रेमियों को प्रदेश के बजट से काफी उम्मीदें, राजस्थान को भी टाइगर स्टेट घोषित करने की मांग

ग्रामीण क्षेत्रों में भी जनता क्लीनिक खोलने की मांग रखी गई:
विधानसभा में प्रश्नकाल में विधायक हमीर सिंह भायल के जनता क्लीनिक को लेकर उठाए गए सवाल पर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि जयपुर जिले में 12 जनता क्लीनिक खोले गए हैं. वहीं जोधपुर में तीन जनता क्लीनिक का निर्माण कार्य चल रहा है. रघु शर्मा ने कहा कि 5 जनता क्लीनिक शुरू भी किए जा चुके हैं. जिसमें वाल्मीकि कच्ची बस्ती, कम्युनिटी हॉल, मालवीय नगर जयपुर द्वितीय में जनता क्लीनिक शुरू भी किए जा चुके हैं. इस पर भायल की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में भी जनता क्लीनिक खोलने की मांग रखी गई. इस पर चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने कहा कि जनता क्लीनिक बजट घोषणा 2019-20 मे शहरी क्षेत्र की कच्ची बस्तियों के लिए जनता क्लिनिक खोलने की कार्य योजना है. ग्रामीण क्षेत्र में 200 सब सेंटर खोले गए हैं.

Budget 2020: गहलोत सरकार के बजट पर टिकी प्रदेशवासियों की निगाहें, सभी वर्गों की उम्मीदें परवान पर

लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग:
चौमूं विधायक रामलाल शर्मा ने बजट घोषणा 2019-20 में सरकार की ओर से उम्मेद स्टेडियम के विकास के लिए की गई घोषणा की जानकारी देने की बात कही. जिस पर मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि बजट घोषणा में उम्मेद स्टेडियम के लिए 2 करोड़ रुपए की लागत से शेड निर्माण कार्य की घोषणा की गई थी. जिसका टेंडर फ्लॉट हो चुका है. फिलहाल पैसे का व्यय नहीं हुआ है. चांदना ने कहा कि कार्य स्वीकृति अभी जारी नहीं हुई. इस पर विपक्ष ने हंगामा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के गृह जिले में 1 वर्ष बीत गया और दूसरा बजट आ रहा है. लेकिन पिछली घोषणाएं अभी तक धरातल पर नहीं आई. क्या सरकार लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई करेंगी. इस पर मंत्री चांदना ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के लिए पूरा राजस्थान गृह जिला है. चांदना ने कहा कि मुख्यमंत्री और पूरी सरकार सिर्फ गृह जिले नहीं पूरे प्रदेश को अपना परिवार मानकर काम करती है. फिर भी अगर कहीं कोई अधिकारियों की लापरवाही रही तो आवश्यक रूप से कार्रवाई होगी. 

VIDEO: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बजट को दिया अंतिम रूप, वित्त विभाग अधिकारियों के साथ किया फाइनल

सीपी जोशी ने भी विधायकों के सवाल पर पर सवाल पूछे:
प्रश्नकाल में आज विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने भी विधायकों के सवाल पर अपने सवाल पूछे इसे लेकर कई बार सत्ता पक्ष के मंत्रियों की स्थिति असहज हो गई तो नेता प्रतिपक्ष ने भी भाजपा विधायकों के पूछे सवाल में बीच में सवाल पूछे जिसे लेकर कई बार मंत्री लड़खड़ाते नजर आए. यहां तक कि महिला बाल विकास राज्य मंत्री ममता भूपेश की जुबान इतनी फिसली कि नेता प्रतिपक्ष को पहले उप नेता प्रतिपक्ष और फिर सदन का नेता बोल गई जिससे सदन में ठहाके भी लगे. जनजाति उपयोजना उत्थान के लिए संचालित योजनाओं को लेकर गुलाबचंद कटारिया ने अपने सवाल में यह तक कह दिया कि आपका विभाग केवल ट्रांसफर विभाग है या जमीन पर कोई काम हुआ या नहीं यह भी  देखने की जिम्मेदारी है जिसे लेकर मंत्री रटी रटाई बात बोलते नजर आए।

...ऐश्वर्य प्रधान योगेश शर्मा और नरेश शर्मा के साथ ऋतुराज शर्मा फर्स्ट इंडिया न्यूज़ जयपुर

और पढ़ें