केंद्र के खिलाफ संसद से विजय चौक तक विपक्ष का पैदल मार्च, राहुल गांधी ने कहा- विपक्ष को संसद में बोलने की अनुमति नहीं, यह लोकतंत्र की हत्या

केंद्र के खिलाफ संसद से विजय चौक तक विपक्ष का पैदल मार्च, राहुल गांधी ने कहा- विपक्ष को संसद में बोलने की अनुमति नहीं, यह लोकतंत्र की हत्या

केंद्र के खिलाफ संसद से विजय चौक तक विपक्ष का पैदल मार्च, राहुल गांधी ने कहा- विपक्ष को संसद में बोलने की अनुमति नहीं, यह लोकतंत्र की हत्या

नई दिल्ली: आज विपक्षी दलों के सांसदों ने संसद से विजय चौक तक पैदल मार्च किया. इस मार्च में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हुए. इस दौरान संसद के मॉनसून सत्र को वक्त से पहले खत्म करने, चर्चा ना करने का विरोध किया गया. इस मौके पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि विपक्ष को संसद में बोलने की अनुमति नहीं है. यह लोकतंत्र की हत्या है.

उन्होंने कहा कि संसद का सत्र समाप्त हो गया है. जहां तक देश के 60 फीसदी हिस्से का सवाल है, संसद का कोई सत्र नहीं हुआ है. ऐसे में 60 फीसदी देश की आवाज को कुचला गया, अपमानित किया गया और कल राज्यसभा में सांसदों को शारीरिक रूप से चोट पहुंचाई गई.  हमने सरकार से पेगासस मुद्दे पर चर्चा करने की बात कही, हमने किसानों, महंगाई का मुद्दा उठाया.  

संजय राउत ने कहा- मुझे लगा मैं पाकिस्तान बॉर्डर पर खड़ा हूं
वहीं शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि मार्शल्स की ड्रेस में बाहर से प्राइवेट लोगों ने कल जो महिला सदस्यों के साथ किया, उससे लगा जैसे मार्शल लॉ लगा हो. मुझे लगा मैं पाकिस्तान बॉर्डर पर खड़ा हूं. उन्होंने कहा कि सरकार हर दिन लोकतंत्र की हत्या कर रही है, हम इस सरकार के खिलाफ लड़ते रहेंगे. वहीं कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि इस देश को सरकार तानाशाही से चला रही है. विपक्ष को बोलने नहीं दिया जा रहा है. यह देश की तासीर के खिलाफ है. 

बीते दिन महिला सांसदों के साथ बदसलूकी होने का आरोप लगा:
दरअसल, राज्यसभा में बीते दिन महिला सांसदों के साथ बदसलूकी होने का आरोप लगा. कल जनरल इंश्योरेंस बिल को लेकर राज्यसभा में ज़बरदस्त हंगामा हुआ था. विपक्ष ने सरकार पर मार्शलों के ज़रिए बदतमीजी का आरोप लगाया तो सरकार ने विपक्षी सांसदों पर मार्शल से मारपीट का आरोप लगाया. विपक्ष के नेताओं का कहना है कि संसद के इतिहास में पहले ऐसा कभी नहीं हुआ.  विपक्षी पार्टियों के साझा मार्च से पहले सभी नेताओं ने कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के आवास पर बैठक की.

और पढ़ें