Live News »

अंतरराष्ट्रीय मिर्गी रोग डे पर विशेष कार्यक्रम आयोजित

अंतरराष्ट्रीय मिर्गी रोग डे पर विशेष कार्यक्रम आयोजित

चूरू। जिले के रतननगर गांव में त्रिवेणी देवी सुरेका चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा पिछले 25 वर्षों से लगातार निशुल्क मिर्गी निदान शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में 7000 से ज्यादा मरीज चिकित्सा लाभ ले रहे हैं और इसमें प्रदेश के विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा अपनी सेवाएं दी जाती है। इसमें गिनीज बुक रिकॉर्ड होल्डर, लिम्का बुक रिकॉर्ड होल्डर और स्टेट अवार्ड प्राप्त करने वाले डॉक्टर आरके सुरेका द्वारा 25 सालों से लगातार अपने पुत्र डॉ रक्षित सुरेका के साथ सेवाएं दे रहे हैं। निश्चित रूप से त्रिवेणी देवी सुरेखा चैरिटेबल ट्रस्ट और डॉ. आरके सुरेका का यह शिविर प्रदेश का अनूठा मानवीय सेवा का अनुपम उदाहरण है।

चुरू जिले के रतननगर गांव में हर माह की भांति आज भी त्रिवेणी देवी सुरेखा चैरिटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में पिछले 25 वर्ष से लगने वाला शिविर आयोजित किया गया। आज यह 297वां निशुल्क मिर्गी रोग निदान शिविर आयोजित किया गया । इस कैंप में भारतवर्ष के कोने-कोने से मिर्गी रोगी चिकित्सा लाभ लेने पहुंचते है।  इस शिविर में आज 700 रोगियों का उपचार किया गया।  इस शिविर में मुख्य चिकित्सक न्यूरो फिजीशियन डॉ. आरके सुरेका ने फर्स्ट इंडिया के संवाददाता संजय प्रजापत से विशेष वार्ता की। 

डॉ सुरेखा ने बताया की मिर्गी रोग के प्रति जो भ्रांतियां हैं वह सब गलत है। इसका उपचार संभव है और समय पर उपचार करवाया जाए तो निश्चित रूप से मरीज अपना स्वभाविक जीवन जी सकता है। उन्होंने बताया कि मिर्गी रोग से पीड़ित लोगों ने देश और दुनिया में अपना नाम किया है । इस मामले में उन्होंने विश्व प्रसिद्ध क्रिकेटर जोंटी रोड्स का भी उदाहरण दिया।  इस शिविर में 7000 मरीजों ने 1994 से लेकर आज तक इस कैंप में लाभ लिया है। एक अनुसंधान के अनुसार पुरुषों में यह बीमारी ज्यादा पाई जाती है। यहां करीब 60% रोगी 11 साल से 30 वर्ष की उम्र के होते हैं । ज्यादातर मरीज यहां पर ग्रामीण अंचल से आते हैं।  50% मरीजों को एक दवाई से ही दौरे नियंत्रण हो गए हैं । 30% मरीजों में दो प्रकार की दवाइयां था 18% मरीजों में 3 या उससे ज्यादा प्रकार की दवाइयों से दौरे नियंत्रण हो रहे हैं । 

डॉ सुरेखा का कहना है कि मिर्गी रोग के मुख्य कारण 30% लोगों में ही मालूम किए जा सकते हैं। जिनमें की मुख्य कारण सिर में चोट लगना, मिर्गी के लार्वा, मस्तिष्क का संक्रमण, नसों के गुच्छे, शराब ओर नशे की दवाइयां लेना आदि है ।

इस कैंप में मानव मात्र की सेवा करने के लिए डॉ सुरेखा पिता-पुत्र के साथ डॉ जयसिंह, डॉ गोरी विनोद सुरेखा, ताजू खान सहित अनेक विशेषज्ञ डॉ यहां पर सेवाएं देने आते हैं। 

निशुल्क रूप से आयोजित सेवा शिविर निश्चित रूप से मानव मात्र के कल्याण का कारक बन चुका है। यहां पर उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, पंजाब, गुजरात आदि क्षेत्र के भी रोगी यहां आकर लाभ ले रहे हैं।

...चूरू से संजय प्रजापत की रिपोर्ट

और पढ़ें

Most Related Stories

शराब तस्करी की आपसी रंजिश चलते युवक की सरियों से पीट-पीटकर हत्या

शराब तस्करी की आपसी रंजिश चलते युवक की सरियों से पीट-पीटकर हत्या

सादुलपुर(चूरू): हमीरवास थानान्तर्गत गांव नेशल छोटी में शराब तस्करी की आपसी रंजिश एवं गैंगवार के चलते एक युवक की लोहे की राड़ व सरियों से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. घटना से पहले वाहनों में सवार लोगों ने युवक के साथ मारपीट की तथा युवक को जीप में डालकर अपहरण कर ले गए. बाद में हत्या कर शव गांव के नजदीक फेंककर फरार हो गए.

Coronavirus: 465 साल पहले हो गई थी कोरोना वायरस को लेकर भविष्यवाणी! बताया था खतरा 

पुलिश कर रही आरोपियों की तलाश:
एक तरफ देश कोरोना से जूझ रहा है तथा लोकडाउन चल रहा है. वहीं हत्या जैसी घटना होना कहीं ना कहीं लापरवाही एवं खामिया जरूर रही है. घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची एवं शव को मोर्चरी रूम में रखवाकर फरार आरोपियों की तलाश शुरू की तथा नाकाबंदी भी करवाई, लेकिन पुलिस को सफलता नहीं मिली. हमीरवास थानाधिकारी तेजवंतसिंह ने बताया कि गांव नेशल छोटी निवासी देवेन्द्र कुमार ने मामला दर्ज करवाकर बताया कि दो अप्रैल की रात्रि को साढ़े नौ बजे लगभग उसके चचेरे भाई नरेश उर्फ झिंडा के साथ वह घर के आगे खड़े थे. तभी एक पिकअप जीप तथा एक कैंपर जीप में सवार होकर आए ढाणी मौजी गांव निवासी सीताराम गोस्वामी एवं अनिल पूनिया, रड़वा गांव निवासी रविन्द्र सांगवान, जैतपुरा निवासी पुश्पेन्द्र स्वामी व भूपेन्द्र स्वामी, देवीपुरा निवासी जयप्रकाश, थिरपाली निवासी संदीप गुर्जर, सूरतपुरा निवासी संजय, लीलावठी निवासी रमेष ख्यालिया, किरतान का बास निवासी विजेन्द्र उर्फ कालू, बैरासर बड़ा निवासी पृथ्वी मेघवाल एवं चार-पांच अन्य युवक आए, जो झुंझुनूं जिले की भाशा बोल रहे थे. सभी के हाथों में लोहे की राड़ एवं सरिए थे एवं गाड़ी से नीचे उतरकर नरेश उर्फ झिंडा के साथ मारपीट शुरू कर दी. बीचबचाव का भी प्रयास किया. लेकिन आरोपी नरेश उर्फ झिंडा का अपहरण कर कैंपर गाड़ी में डालकर फरार हो गए.

साउथ फिल्मों की मशहूर एक्ट्रेस कीर्ति सुरेश जल्द करेगी शादी, पिता ने खोजा रिश्ता

हत्या के बाद शव को फेंककर फरार हो गए:
घटना के बाद परिवार के लोगों के साथ तलाश भी की. रात्रि को साढे 11 बजे लगभग आरोपियों ने नरेश उर्फ झिंडा की हत्या कर गांव ब्राह्मणों के बास के पास शव को फेंककर फरार हो गए. वहीं परिवार के लोगों ने निष्पक्ष जांच करवाने की मांग को लेकर शव का दूसरे दिन पोस्टमार्टम करवाया. वहीं परिवार के लोग dsp चन्द्रप्रकाश पारीक से वार्ता कि तथा हत्या की जांच राजगढ़ थानाधिकारी विष्णुदत्त बिश्नोई से करवाने की मांग की इसके बाद डीएसपी ने परिवार के लोगों को निष्पक्ष जांच करवाने का आश्वासन दिया तब परिवार के लोग पोस्टमार्टम करवाने पर राजी हुए. 

...फर्स्ट इंडिया के लिए चूरू से संजय प्रजापत की रिपोर्ट

लॉक डाउन के बाद वीरान हुआ सालासर, दस दिन से बालाजी के दर्शन बंद

लॉक डाउन के बाद वीरान हुआ सालासर, दस दिन से बालाजी के दर्शन बंद

सालासर(चूरू): लॉक डाउन का व्यापक असर धार्मिक नगरी सालासर में भी देखने को मिल रहा है. नियमित दस हजार से अधिक सालासर बालाजी में बालाजी के दर्शनों के लिए आने श्रद्धालुओ की चहल कदमी लॉक डाउन के बाद से थम गई है. 

Coronavirus Updates: देश में अब तक 2900 से ज्यादा लोग संक्रमित, दुनियाभर में 52 हजार लोगों की मौत  

लक्खी मेला भी लॉक डाउन के दौरान स्थगित होता नजर आ रहा:
मन्दिर में चैत्र पूर्णिमा पर भरा जाने वाला लक्खी मेला भी लॉक डाउन के दौरान स्थगित होता नजर आ रहा है. मन्दिर के बाहर की दुकानें बंद है और बालाजी मंदिर के सामने मन्दिर के गार्ड तैनात है. मन्दिर के पुजारी परिवार के सदस्य विश्व व देश को इस संकट की घड़ी से उभारने की प्रार्थना कर रहे हैं.

 Rajasthan Corona Update: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा पहुंचा 196, अब तक 18 जिलो में पसारे पैर 

कोरोना वायरस के चलते जरूरतमंद परिवारों की मदद के लिए किन्नर भी आए आगे, खाद्य सामग्री का कर रहे वितरण

कोरोना वायरस के चलते जरूरतमंद परिवारों की मदद के लिए किन्नर भी आए आगे, खाद्य सामग्री का कर रहे वितरण

सादुलपुर(चूरू): कोरोना वायरस के चलते जरूरतमंद परिवारों, गरीब मजदूरों के लिए जहां विभिन्न संगठन एवं दान-दाता भागीदारी निभा रहे हैं, ऐसे में किन्नर भी पीछे नहीं रहे. स्थानीय किन्नर मंजू ने लगभग डेढ़ लाख रूपए की लागत से जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री वितरण करने का लक्ष्य किया है तथा प्रतिदिन शहर के विभिन्न वार्डों में जरूरतमंदों को खाद्य सामग्री का वितरण किया जाएगा.

Covid -19 : बाजार में बढ़ रही सैनिटाइजर की मांग के बीच ऐसे करें असली की पहचान 

किसी भी जरूरतमंद परिवारों को भूखा नहीं सोने दिया जाएगा:
उन्होंने बताया कि वह भी समाज का एक अंग है तथा देश सेवा का मौका हाथ से नहीं जाने देंगे. इस अवसर पर उन्होंने शहर के अनेक वार्डों में खाद्य सामग्री वितरण करने का शुभारंभ किया तथा कहा कि किसी भी जरूरतमंद परिवारों को भूखा नहीं सोने दिया जाएगा. इस अवसर पर गणमान्य लोग उपस्थित थे. 

VIDEO- Rajasthan Corona Update: प्रदेश में पिछले 12 घंटे में 4 नए मरीज और आए सामने, कुल पॉजिटिव संख्या पहुंची 83 

बीदासर में रातभर चला रेस्क्यू ऑपरेशन, मासूम सुभाष ने बोरवेल में ही तोड़ दिया था दम

बीदासर में रातभर चला रेस्क्यू ऑपरेशन, मासूम सुभाष ने बोरवेल में ही तोड़ दिया था दम

चूरू: प्रदेश के चूरू जिला के बिदासर कस्बे के पास एक खेत में बने बोरवेल में डेढ़ साल का बच्चा सुभाष गिर गया. पुलिस और प्रशासन रात भर लगे रहे रेस्क्यू ऑपरेशन में. बरसात भी बार-बार बाधा बनी. अजमेर और बीकानेर से भी रेस्क्यू टीमें में आई अपनी अपनी ओर से पूरा प्रयास करने के बाद सुबह बच्चे को निकाला जा सका. लेकिन बच्चे को जिंदा नहीं बचाया जा सका. 

VIDEO: कोरोना वायरस के चलते राजस्थान में बढ़ती मौत की 'दस्तक', पिछले 12 घंटे में भीलवाड़ा में दूसरी मौत

एंबुलेंस से पहुंचाया अस्पताल:
बच्चे को निकालने के बाद एंबुलेंस से स्थानीय अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. इस रेस्क्यू ऑपरेशन में जिला कलेक्टर संदेश नायक, पुलिस अधीक्षक गौतम और चिकित्सा विभाग की टीम में देर रात तक जमी रही. पूरी रात रुक-रुक कर बरसात का दौर भी जारी रहा. 

दिल्ली से रोडवेज की बस में जयपुर पहुंचा कोरोना पॉजिटिव, रामगंज इलाके में पसरा खौफ

बच्चे को नहीं बचाया जा सका:
बच्चा बोरवेल में 180 से 200 के बीच में जाकर अटक गया था और कुछ देर तक तो रोने की आवाज आती रही मगर बाद में सब कुछ शांत हो गया, लेकिन फिर भी बरसात के बावजूद पूरी रात भर रेस्क्यू ऑपरेशन चला और बच्चे को निकालने में सफलता हासिल कर ली लेकिन बच्चे को बचाया नहीं जा सका.

कोरोना वायरस की वजह से हुई सादगी वाली शादी, सर्वत्र हो रही प्रशंसा

कोरोना वायरस की वजह से हुई सादगी वाली शादी, सर्वत्र हो रही प्रशंसा

चूरू: जिले के सरदारशहर के वार्ड नंबर 18 में कोरोना वायरस को देखते हुए चट मंगनी पट ब्याह किया गया है. इस विवाह में नाम मात्र के लोग थे. न बैंड बाजे थे न स्टेज कार्यक्रम था और ना किसी प्रकार की भीड़ थी. वार्ड नंबर 18 निवासी कुसुम राव पुत्री बुधमल राव के रिश्ते के लिए बिदासर से रिश्तेदार आए हुए थे. लड़की पसंद आने पर पंकज का विवाह है उसी समय पंडित बुलाकर सादगी के साथ कर दिया. 

Coronavirus Updates: शराब कारोबारी सरकार के आदेशों का कर रहे खुला उल्लंघन, नहीं आ रहे बाज 

इस विवाह की सर्वत्र प्रशंसा हो रही:
बिना किसी प्रकार का दिखावा के, ना किसी प्रकार का दहेज, ना किसी प्रकार का दिखावा, ना किसी प्रकार की भीड़ और तुरंत विवाह कर दिया गया. सात फेरे में बंधकर यह जोड़ा तुरंत एक दूसरे का हो गया. इस विवाह की सर्वत्र प्रशंसा हो रही है. कोरोना वायरस की वजह से यह निर्णय उचित माना जा रहा है. अगर समाज में इसी तरह शादियां होने लग जाए तो निश्चित रूप से बेटी बाप के कंधों पर बोझ नहीं बनेगी. इस प्रकार की शादियों को बढ़ावा देने वाले सच्चे समाजसेवी है. समाज को सही राह दिखाने वाले है. पंकज भारतीय सेना में तैनात है. 

कोरोना वायरस के चलते महिलाएं पूरी सावधानी से कर रही है गणगौर पूजन 

चूरू ACB टीम की झुंझुनूं में बड़ी कार्रवाई, मंडावा नगरपालिका ईओ मनीष पारीक को किया ट्रैप

चूरू : चूरू ACB टीम ने झुंझुनूं में बड़ी कार्रवाई की है. मंडावा नगरपालिका ईओ मनीष पारीक को रिश्वत लेते ट्रैप किया है. वहीं बाबू विकास को भी घूस लेते दबोचा है. 40 हजार की रिश्वत लेते ट्रैप किया है. एक लाख रुपए की घूस मांगी थी. एसीबी डीजी आलोक त्रिपाठी के निर्देश पर कार्रवाई हुई. एएसपी आनंद प्रकाश स्वामी के नेतृत्व में कार्रवाई हुई.

कोरोना की वजह से भक्त नहीं कर पा रहे है भगवान के दर्शन, देशभर के कई धार्मिक स्थल बंद

-चूरू ACB टीम की झुंझुनूं में बड़ी कार्रवाई 
-मंडावा नगरपालिका ईओ मनीष पारीक ट्रैप 
-बाबू विकास को भी घूस लेते दबोचा 
-40 हजार की रिश्वत लेते किया ट्रैप
-एक लाख रुपए की मांगी थी घूस
-एसीबी डीजी आलोक त्रिपाठी के निर्देश पर कार्रवाई 
-एएसपी आनंद प्रकाश स्वामी के नेतृत्व में कार्रवाई 

गुरुवार को होगी मध्यप्रदेश मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, वकीलों ने रखीं अपनी-अपनी दलीलें 

चूरू में दलित युवक को बनाया बंधक, बेरहमी से मारपीट, 8 लोगों पर केस दर्ज 

चूरू में दलित युवक को बनाया बंधक, बेरहमी से मारपीट, 8 लोगों पर केस दर्ज 

चूरू: प्रदेश के चूरू जिले के भानपुरा थाना क्षेत्र के गांव जैतसीसर में 16 मार्च की रात को एक दलित युवक के साथ मारपीट करने और बांधने का मामला सामने आया है. इस मामले का एक वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें युवक को बांधे हुए हैं.

8 लोगों पर मामला दर्ज:
युवक की गंभीर चोटें आई है. युवक के साथ मारपीट करने का 8 लोगों पर मामला दर्ज है, जिसमें विधायक भंवरलाल शर्मा का भाई श्यामलाल भी आरोपी है. श्यामलाल पूर्व सरपंच भी रह चुका है और मामला दर्ज होने के बाद जांच डीवाईएसपी गिरधारीलाल शर्मा को दी गई है.

कोरोना वायरस का कहर, वैष्णो देवी की यात्रा रोकी, तो नहीं होगी बनारस में गंगा आरती 

अभी तक नहीं हुई कोई गिरफ्तारी:
मामले में अब तक किसी प्रकार की कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है, लेकिन दलित को बंधक बनाने, मारने और कानून हाथ में लेने और  बंधक बनाने की घटना की निंदा हो रही है, वहीं दलित समाज में इस घटना का रोष व्याप्त है.

मध्यप्रदेश मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई , नौ विधायकों की याचिका पर हो रही है सुनवाई

चूरू के सरदारशहर में झोपड़े में लगी आग, 4 बच्चे जिंदा जले, जिला कलेक्टर ने दिया हर सम्भव मदद का आश्वासन

चूरू के सरदारशहर में झोपड़े में लगी आग, 4 बच्चे जिंदा जले, जिला कलेक्टर ने दिया हर सम्भव मदद का आश्वासन

सरदारशहर(चूरू): ढाणी कालेरा गांव में मंगलवार को दोपहर एक घर में आग लग गई,  जिसके कारण एक ही परिवार के चार बच्चे जीन्दा जल गए. घटना के दौरान परिवार के लोग खेत गए हुए थे. बच्चे झोपड़े में खेल रहे थे. अचानक आग लग गई. आग इतनी भयंकर थी कि पूरे झोपड़े को अपने आगोश में ले लिया. 

प्रदेश में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, 50 RAS अधिकारियों के तबादले, कार्मिक विभाग ने जारी किए आदेश

झोपड़ा जलकर राख हो चुका था:
ग्रामीणों ने आग की लपटे देखकर जो हाथ में आया लेकर आग बुझाने में जुट गए, जब तक आग पर काबु पाया गया, तब तक झोपड़ा जलकर राख हो चुका था.जिसकी वजह से चारों बच्चे जिन्दा जल गए. सूचना पर जिला कलेक्टर संदेश नायक, पुलिस अधीक्षक तेजश्वनी गौतम, उपखण्ड अधिकारी रीना छिंपा, तहसीलदार सुशील कुमार सैनी, अति.विकास अधिकारी दुर्गाराम पारीक, किसान सभा के प्रदेश महामंत्री छगनलाल चौधरी मौके पर पहुंचे तथा घटना की जानकारी ली. 

Corona in Rajasthan: 31 मार्च तक सभी पर्यटक स्थल और स्मारक बंद, 5 मेले किए रद्द 

पीड़ित परिवार की करेंगे हर सम्भव मदद:
आग के कारण एक परिवार के चार बच्चे जिन्दा जल गए. जिसमें नानूराम भाकर के दो बच्चे, रामलाल के एक लड़की व लालाराम की दोहिती जिन्दा जल गई. जिला कलेक्टर ने कहा की पीड़ित परिवार की हर सम्भव मदद करेंगे. मृतक बच्चों का पोस्टमार्टम गांव में जाकर घटना स्थल पर ही किया गया.

Open Covid-19