बीकानेर में सेना की सप्त शक्ति कमान का अलंकरण समारोह आयोजित 

बीकानेर में सेना की सप्त शक्ति कमान का अलंकरण समारोह आयोजित 

बीकानेर: बीकानेर में शनिवार को सेना की सप्त शक्ति कमान का अलंकरण समारोह आयोजित हुआ. समारोह में अदम्य साहस और वीरता वाले सेना के अधिकारियों ओर जवानों को व्यक्तिगत मेडल ओर यूनिट प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए.बीकानेर के मिल्ट्री एरिया में स्थित अनन्त विजय ऑडिटोरियम में आज सेना की सप्त शक्ति कमान का अलंकरण समारोह आयोजित हुआ. समारोह में वीरता और अदम्य साहस दिखाने वाले सेना के बहादुर जवानों को कमांडिंग चीफ लेफ्टिनेंट जनरल आलोक कलेर ने मेडल प्रदान किए गए. कुल 53 अधिकारियों, जवानों ओर जेसीओ को व्यक्तिगत व यूनिट प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए.

CM गहलोत का अहम फैसला, अब प्रदेश के स्कूलों के बच्चों को भी पढ़ाया जाएगा निरोगी राजस्थान का पाठ

अपनी बहादुरी का पुरस्कार मेडल पाकर सेना के जवानों का सीना भी गर्व से फूल गया. ऑडिटोरियम में उपस्थित अन्य सेना के जवानों ने तालिया बजाकर इनकी हौसलाफजाई की. तो वहीं पैराट्रूपर मुकुट बिहारी मीणा ओर सिपाही मनदीप सिंह को मरणोपरांत ऑपरेशनल गतिविधि में सर्वोच्च बलिदान के लिए उनकी वीरांगनाओं को सेना मेडल प्रदान किए गए. इस दौरान शहीद वीरांगनाओं ने भी गर्व की अनुभूति की. समारोह में जवानों को एक युद्ध मेडल,20 सेना मेडल(परम),दो सेना मेडल(विशिष्ट सेवा) ओर 6 विशिष्ट सेवा मेडल प्रदान किए गए. 21 यूनिटो को राष्ट्र और भारतीय सेना में अभूतपूर्व योगदान के लिए यूनिट प्रशंसा पत्र से सम्मानित किया गया.

आतंकवाद से निपटने के लिए सेना पूरी तरह से तैयार:
आर्मी कमांडर द्वारा यूनिट के कमांडिंग ऑफिसर ओर सूबेदार मेजर द्वारा पुरस्कार ग्रहण किया गया. सप्त शक्ति कमांडिंग चीफ कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल आलोक कलेर ने कहा कि आतंकवाद से निपटने के लिए सेना पूरी तरह से तैयार है. अब सेना स्टेट के साथ मिलकर काम करती है. स्थानीय लोग भी अब सेना के मददगार बन रहे है. इसका उदाहरण पंजाब है. जहां से आतंकवाद खात्मा किया जा सका है. उन्होंने कहा कि डिपेंस एक्सपो को बाद सेना में नवीनीकरण व आधुनिकीकरण का कार्य तेजी से बढ़ रहा है. एक्सपो के बाद 120 से अधिक एमओयू हुए है. 

मेक इन इंडिया के तहत आने वाले दिनों में आप देखोगे सेना के बहुत से हथियार, टैंक व दूर संचार से जुड़े नवीन यंत्र आने हिंदुस्थान की सर जमी पर बनने शुरू हो जाएंगे. बालाकोट स्ट्राइक से पड़ोसी देश ने सबक लिया है. लेकिन फिर भी देश सभी सुरक्षा एजेंसियां देश के खिलाफ होने वाली हर परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार है. समारोह के दौरान डिफेंस पीआरओ कर्नल संबित घोष सहित सप्त शक्ति कमांड से जुड़े सेना के उच्चधिकारी मोजूद रहे.

ताज महल का दीदार करेंगे डोनाल्ड ट्रंप, 7 अमेरिकी हेलीकॉप्टर करेंगे आसमान से निगरानी 

ले. जनरल आलोक कलेर ने सम्मानित होने वाले जवानों के साथ ग्रुप फोटो भी खिंचवाए ओर बहादुरी के लिए उनको शाबासी दी. तो कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि जो सेना के जवान चौबीसों घण्टे हमारे देश की हिफाजत करते है और देश की रक्षा के अपने जान तक की कुर्बानी दे देते है. आज उनको मेडल देकर सम्मानित किया गया। 

और पढ़ें