Oxygen Crisis: प्राणवायू पहुंचने में हुई देरी, कर्नाटक के अस्पताल में 24 लोगों की मौत, जान गवांने वालों में 23 कोविड मरीज

Oxygen Crisis: प्राणवायू पहुंचने में हुई देरी, कर्नाटक के अस्पताल में 24 लोगों की मौत, जान गवांने वालों में 23 कोविड मरीज

Oxygen Crisis: प्राणवायू पहुंचने में हुई देरी, कर्नाटक के अस्पताल में 24 लोगों की मौत, जान गवांने वालों में 23 कोविड मरीज

बेंगलुरु: देश में ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी से मौतों का सिलसिला रूक नहीं रहा है. अब कर्नाटक के चामराजनगर (Chamarajanagar) में ऑक्सीजन की कमी से 24 मरीजों की मौत हो गई है. यहां एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 23 कोविड मरीजों (Covid Patients) की मौत हो गई है वही पर एक अन्य बिमारी से ग्रस्त बताया जा रहा है. ये हादसा रविवार की मध्य रात्रि का है. हादसे के बाद मैसूर से चामराजनगर के लिए ढाई सौ ऑक्सीजन सिलेंडर भेजे गए. 

अस्पताल को बेल्लारी से मिलना था ऑक्सीजन:
दरअसल, चामराजनगर अस्पताल को बेल्लारी (Bellary) से ऑक्सीजन मिलना था, लेकिन ऑक्सीजन आने में देरी हो गई, जिससे इतना बड़ा हादसा हो गया. बताया जा रहा है कि जान गंवाने वाले अधिकतर मरीज वेंटिलेटर (Ventilator) पर थे. ऑक्सीजन सप्लाई खत्म होने के बाद वह तड़पने (Suffering) लगे और मौत हो गई. परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. बताया जा रहा है कि मौतें ऑक्सीजन की कमी और दूसरी वजहों से हुई हैं. लेकिन, जिला प्रशासन ने ऑक्सीजन की कमी से इनकार किया है.

चामराजनगर में लगातार ऑक्सीजन सप्लाई मुश्किल:
चामराजनगर के डिप्टी कमिश्नर एमआर रवि (Deputy Commissioner MR Ravi) ने  बातचीत में कहा कि जिन मरीजों की मौत हुई है, वे सभी वेंटिलेटर पर थे. ये मरीज पहले से ही गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे. ऐसे में जरूरी नहीं कि ऑक्सीजन की कमी से ये मौतें हुईं. हालांकि, सच ये है कि अब तो मैसूर में भी ऑक्सीजन जुटाना मुश्किल हो रहा है.

उन्होंने कहा कि सप्लायर्स अभी मैसूर (Mysore) की जरूरत की ऑक्सीजन ही नहीं पूरी कर पा रहे हैं. ऐसे में उनके लिए लगातार चामराजनगर के लिए सप्लाई करना मुश्किल हो रहा है. एमआर रवि ने कहा कि वे खुद ऑक्सीजन की स्थिति पर नजर रख रहे हैं और रविवार रात ही उन्होंने अस्पताल को 60 सिलेंडर मुहैया करवाए हैं.

और पढ़ें