बढ़ते कोरोना के बीच खुशखबरीः मंगलवार तक एम्स, आरएमएल अस्पताल में लग जाएगा ऑक्सीजन संयंत्र, बुधवार से होगी आपूर्ति

बढ़ते कोरोना के बीच खुशखबरीः मंगलवार तक एम्स, आरएमएल अस्पताल में लग जाएगा ऑक्सीजन संयंत्र, बुधवार से होगी आपूर्ति

बढ़ते कोरोना के बीच खुशखबरीः मंगलवार तक एम्स, आरएमएल अस्पताल में लग जाएगा ऑक्सीजन संयंत्र, बुधवार से होगी आपूर्ति

नई दिल्ली: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक यहां अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल में चिकित्सीय ऑक्सीजन संयंत्र की स्थापना का काम जारी है और मंगलवार रात तक इसके पूरा हो जाने की उम्मीद है.

बुधवार शाम तक काम करना शुरू कर देंगे दोनों संयंत्रः
उसने कहा कि बुधवार को पाइप कनेक्शन और परीक्षण के लिए पूर्वाभ्यास किया जाएगा और दोनों संयंत्र बुधवार शाम तक काम करना शुरू कर देंगे. कोविड-19 के दैनिक मामलों में अभूतपूर्व वृद्धि के बीच ऑक्सीजन, ऑक्सीजन उपलब्धता वाले बिस्तरों और आईसीयू बिस्तरों की मांग कई गुना बढ़ गई है. 

 निर्बाध ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने की थी बैठकः
नई दिल्ली में केंद्र सरकार द्वारा संचालित अस्पतालों में उपचार करा रहे कोविड-19 के गंभीर मरीजों को निर्बाध ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के संदर्भ में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने 23 अप्रैल को समीक्षा बैठक की थी. यह तय किया गया था कि रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) पांच पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र एम्स ट्रॉमा सेंटर, आरएमएल अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल, लेडी हार्डिंग अस्पताल और हरियाणा के झज्जर स्थित एम्स में स्थापित करेगा.

संयंत्र से प्रति मिनट एक हजार लीटर प्रवाह दर से ऑक्सीजन प्राप्त होगीः
मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इन संयंत्रों को लगाने का खर्च पीएम-केयर्स कोष से वहन किया जा रहा है. इस कोष के तहत देश भर में 500 चिकित्सीय ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने के लिए कोष जारी किया गया है. उसने कहा कि यह संयंत्र तीन महीने के अंदर स्थापित किए जाएंगे. एम्स और आरएमएल अस्पताल में लग रहे ऑक्सीजन संयंत्र से प्रति मिनट एक हजार लीटर प्रवाह दर से ऑक्सीजन प्राप्त होगी.
सोर्स भाषा

और पढ़ें