जयपुर VIDEO: रीट को लेकर PCC चीफ गोविंद सिंह डोटासरा का बड़ा बयान, कहा-अगर मेरी सुई की नोंक बराबर भी गड़बड़ हुई तो, मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा

VIDEO: रीट को लेकर PCC चीफ गोविंद सिंह डोटासरा का बड़ा बयान, कहा-अगर मेरी सुई की नोंक बराबर भी गड़बड़ हुई तो, मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा

जयपुर: REET परीक्षा प्रकरण को लेकर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा का बड़ा बयान सामने आया है. डोटासरा ने आरोपों को लेकर भाजपा पर निशाना  साधते हुए कहा कि मेरे परिवार के 13 लोगों ने REET परीक्षा दी है. मेरे परिवार का एक भी व्यक्ति पास नहीं हुआ. अगर मेरी सुई की नोंक बराबर भी गड़बड़ हुई, तो मैं या मेरा परिवार कभी राजनीति नहीं करूंगा. मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा, ये लोग कोयले की तरह काले है. हमारी सफेदी पर ये क्या दाग लगाएंगे. 

गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि अगर मेरी सुई की नोंक बराबर भी गड़बड़ हुई तो मैं या मेरा परिवार कभी राजनीति नहीं करूंगा. मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा. PCC चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि अब परीक्षा को लेकर नियमों में बदलाव होगा. भर्ती प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता रखी जाएगी. अब 2 परीक्षा से  चयन होगा. एक परीक्षा से थोड़ी चूक हो सकती है. पेपर रखने में चूक हुई, इसलिए जारोली को बर्खास्त किया. हम चाहते तो इस्तीफा भी मांग सकते थे,लेकिन बर्खास्त किया.

 


 

आपको बता दें कि REET भर्ती को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बड़ा फैसला लेते हुए  REET परीक्षा लेवल-2 को निरस्त किया. REET भर्ती परीक्षा को 62 हजार पदों पर करने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि परीक्षा को रद्द करना आसान काम है, लेकिन विपक्ष के नेता लोग सरकार को बदनाम कर रहे हैं. मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि भाजपा की हरकतों से आकर हम परीक्षा रद्द कर रहे हैं. यह फैसला इसलिए किया,भाजपा के नेता लोग माहौल बना रहे हैं. रीट में 62 हजार पदों पर भर्ती होगी,UPSE पैटर्न पर दो टेस्ट होंगे. अब कुल 62 हजार तृतीय श्रेणी के अध्यापकों की भर्ती होगी. राज्य सरकार प्रदेश के युवाओं के साथ पूरी तरह से खड़ी है.

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि परीक्षा को लेकर नियमों में बदलाव होगा,पूरी पारदर्शिता रखी जाएगी. भर्ती प्रक्रिया में पूरी पारदर्शिता रखी जाएगी. अब 2 परीक्षा से होगा चयन,एक परीक्षा से थोड़ी चूक हो सकती है. पेपर रखने में चूक हुई, इसलिए जारोली को बर्खास्त किया. हम चाहते तो इस्तीफा भी मांग सकते थे, लेकिन बर्खास्त किया. पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, मंत्री डॉ.बीडी कल्ला भी मौजूद रहे.

और पढ़ें